झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 जुलाई

किसान संदेष यात्रा प्रदेष सरकार का ढकोसला
  • जिले के किसान विभिन्न समस्याओं से है ग्रस्त -ः जिपं अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया

झाबुआ। जिले के किसान इन दिनों विभिन्न समस्याओं से ग्रस्त है। उन्हें सरकारी स्तर पर खाद-बीज नहीं मिल रहा है। जिसके चलते बाजार से महंगे दामों में खाद-बीज खरीदने के लिए साहूकारों से ऋण लेना पड़ रहा है। गांवों में सरकारी योजनाएं ठप्प पड़ी है। ग्रामीण पलायन को मजबूर है, ऐसे में प्रदेष के मुख्यमंत्री किसान संदेष यात्रा निकालकर क्या साबित करना चाहते है कि उन्हें किसानों से हम दर्दी है। उनकी यह यात्रा महज ढकोसला है। उक्त बात एवं आरोप जिला पंचायत अध्यक्ष तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री सुश्री कलावती भूरिया ने लगाते हुए कहा कि पिछले दिनों प्रदेष के मंदसौर जिले में किसानों द्वारा अपका हक मांगने पर उन पर गोलियां बरसाई गई, जिसमें कई किसानों की मृत्यु हो गई। यदि किसान अपना हक मांगता है, तो क्या गलत करते है। उनको अपना हक मांगने पर बदले में सजा दी जा रहीं है, यह किस तरह की सरकार एवं प्रषासन है, जहां किसान को अपना अधिकार मांगने की भी स्वतंत्रता नहीं है।

बाजार से महंगे दामों में खरीदना पड़ रहा खाद-बीज
सुश्री भूरिया ने आगे बताया कि दूसरी ओर वर्षाकाल शुरू हुए एक महीना हो चुका है, लेकिन जिला प्रषासन एवं कृषि विभाग ने सरकारी स्तर पर जिले के किसानों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज की व्यवस्था नहीं की है। किसानों को बाजार से महंगे दामों में एवं अमानक खाद-बीज खरीदने को मजबूर होना पड रहा है। किसानों का बाजारों में शोषण किया जा रहा है। ऐसे में प्रदेष के मुख्यमंत्री किसान संदेष यात्रा निकालकर किसानों की झूठी हम दर्दी ले रहे है एवं अपने आपको किसान का बेटा तथा हितैषी बताकर वास्तव में किसानों के साथ छलावा कर रहे है।

घोर विरोध जताया
प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के साथ किए जा रहे छलावे एवं किसान विरोधी नीति का जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष डाॅ. विक्रांत भूरिया, ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष हेमचन्द डामोर, लोकसभा युवक कांग्रेस अध्यक्ष आषीष भूरिया, सांसद प्रतिनिधि गौरव सक्सेना, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष विनय भाबोर, आदिवासी विकास परिषद् जिलाध्यक्ष विजय भाबोर आदि ने विरोध करते हुए कहा कि कांग्रेस इस मामले में आंदोलन के माध्यम से प्रदेष सरकार की दौगली नीति से किसानों एवं ग्रामीणों को अवगत करवाएगी।


नेशनल लोक अदालत आज, 14 खंडपीठे बनाई गई

झाबुआ। मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देषानुसार एवं माननीय जिला न्यायाधीष तथा अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्री श्यामकांत कुलकर्णी के मार्गदर्षन में 8 जुलाई को नेषनल लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। यह लोक अदालत जिला न्यायालय झाबुआ एवं तहसील न्यायालय थांदला एवं पेटलावद मंे आयोजित होगी। यह जानकारी देते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के जिला विधिक सहायता अधिकारी सिमोन सुलिया ने बताया कि लोक अदालत में आपराधिक शमनीय प्रकरण, परक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, बैंक रिकवरी संबंधी मामलें, एमएसीटी प्रकरण (मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण), श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जल कर/बिल संबंधी प्रकरण, वैवाहिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण एवं दीवानी वाद के प्रकरणों का निराकरण किया जाएगा। लोक अदालत में प्रकरणों के निराकरण हेतु जिला न्यायालय झाबुआ में 9 खंडपीठे एवं 1 खंडपीठ जिला सहकारी केंद्रीय झाबुआ में बनाई गई है। इसके अलावा तहसील न्यायालय थांदला में 2 एवं तहसील न्यायालय पेटलावद में भी 2 खंडपीठ बनाई गई है। जिसमें पीठासीन अधिकारी एवं सुलहकर्ता सदस्यों द्वारा आपसी सुलह एवं समझौते के द्वारा पक्षकारों के विवादों का निराकरण करवाया जाएगा। प्रकरणों के पक्षकारों से अपील की गई है कि वे 8 जुलाई को नेषनल लोक अदालत में अपने प्रकरणों का निराकरण करवाकर लोक अदालत का लाभ ले।

चातुर्मासीक मंगल कलष की स्थापना के साथ ही चातुर्मास का हुआ श्रीगणेष
  • ओम् पूण्याहां-पूण्याहां के मंत्राच्चार के साथ हुई मंगल कलष की स्थापना,
  • चतुर्विध श्री संघ के साथ निकली भव्य षोभायात्रा
  • तप,ध्यान,भक्ति इन त्रियोगों से होता है धर्म का प्रार्दूर्भाव- आचार्य देवेष ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा

jhabua news
झाबुआ । धर्म मनुष्य का सदमार्ग पर चलने का सन्देश देते है, उसे जीवन में अंगीकार करने से  मानव मे देवत्व के अंश का प्रस्फुटन होता हे । तपयोग, ध्यान योग, भक्ति योग इन योगों से ही धर्म का प्रादूर्भाव होता है ।और इसी के चलते मोक्ष मार्ग की और आत्मा अग्रसर होती है । तत्वार्थ सूत्र में सम्यक दर्शक, ज्ञान, चाऱित्र्य से मोक्ष का प्रथम सोपान बताया गया है । भगवान महावीर ने मानव मात्र के कल्याण की कामना के साथ ही जीव को शिव बनाने का मार्ग दिखाया था । गुरू का सानिध्य मिल जाने पर पूरा जीवन ही बदल जाता है, कुमार्ग की ओर से सत्मार्ग की ओर अग्रसर होने से मानव कल्याण निहीत होता है ।आज हम सभी को संकल्प लेना होगा कि हम सभी धर्म मार्ग की ओर अग्रसर हो ,और यह संकल्प निश्चित ही सफलत होगें । परमात्मा के प्रति पूर्ण श्रद्धा की भावना होगी तो हमे कल्याण प्राप्ति का लक्ष्य निश्चित ही प्राप्त होगा । हमारे कई संकल्प प्रभू कृपा से पूरे होजाते है किन्तु यह भी देखा गया है कि संकल्प प्राप्ति पर प्रभू का नाम छूट जाता है। परमात्मा सकल सृष्टि मे व्याप्त है हमे प्रभू और के प्रति पूर्ण श्रद्धा रखना होगी ।  कई भवों के विचरण के बाद ही मानव जन्म मिला है और इसे सार्थक बनाने के लिये जरूरी है कि परोपकार की भावना के साथ सभी के प्रति प्रेम भावना बनाऐ रखी जावे । उक्त सन्देश परम पूज्य आचार्य देवेश जीवदया प्रेमी श्री ऋषभचन्द्रसूरिजी मसा ने शुक्रवार को स्थानीय बावन जिनालय में उपस्थित श्रावक श्राविकाओं को धर्मसभा में संबोधित करते हुए कही। परमपूज्य आचार्य भगवंत श्री राजेन्द्रसूरीश्वरजी मसा की पाट परंपरा के अनुसार झाबुआ नगर में प्रथमबार जैन समाज के अष्टम आचार्य श्री ऋषभचन्द्रसूरिजी मसा का चातुर्मास का सुअवसर प्राप्त हुआ है। यह झाबुआ की धर्मधरा कि लिये विलक्षण अवसर प्राप्त हुआ है । बावन जिनालय में मंगलकलश स्थापना के पूर्व आयोजित धर्म सभा को संबोधित करते हुए मुनि श्री रजतचन्द्रविजय जी मसा ने गुरू महिमा का जिक्र करते हुए कहा कि सुख और दुख मानव जीवन में आते जाते जाते रहते है । दुख अनेक प्रकार के होसकते है किन्तु सुख की यदि बात करे तो केवल लक्ष्मी,धन दौलत का होना ही सुख माना जाता है ।जबकि दुख तन का होता है, मन का भी होता हैऔर धन का दुखः भी होता है ।गुरू के सानिध्य को प्राप्त करके उनके उपदेशो को यदि जीवन में अंगीकार किया जावे तो दुख और सुख समान हो जाते है और मनुष्य जितेन्द्रीय बन जाता है । जिव्हा से कभी भी कटू वचन नही निकालने चाहिये क्यो कि एक बार शब्द जिव्हा से निकल जाता है तो वो वापस नही आता है ।भाग्य मे लिखे को कोई नही टाल सकता है इसलिये सुख और दुख जेसी भी स्थितियां हो उसे शालिनता से भोगना चाहिये । मनुष्य को श्रेष्ठी बनना है तो श्रेश्ठ जीवन जी कर आत्मा को निर्मल बनाना होगा । श्री संघ के रिंकू रूनवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि मंगल कलश स्थापना के पूर्व  श्री संघ के अध्यक्ष धर्मचन्द मेहता ने गुरूवंदना की विधि करवाई । प्रवचन के बाद ठीक 10 बजे से श्री बावन जिनालय से चतुर्विध संघ के साथ श्री संघ गाजे बाजे के साथ मंगल कलश स्थापना की लाभार्थी सुभाषचन्द्र सुजानमल कोठारी के निवास पर पहूंचे जहां आचार्य देवेश ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा  की लाभार्थी परिवार की ओर से गहूली  कर वाक्षेप से गुरूपूजन किया तथा केशर चन्दन से पगलिये लिये गये एवं संघ पूजन कर बहुमान किया गया । कोठारी परिवार की ओर से बाबुलाल कोठारी सोहनलाल कोठारी,धर्मेन्द्र कोठारी, सुनिल कोठारी, अनील कोठारी, आदि ने भी इस अवसर पर गुरूपूजन किया ।


मंगलकलष की भव्य शोभायात्रा निकाली
म्ंागलकलश के लाभार्थी सुभाषचन्द्र कोठारी के निवास से भव्य मंगल कलश शोभायात्रा प्रारंभ हुई । शोभायात्रा में स्थापित किये जानेउ वाले मंगल कलश को श्रीमती उषाकिरण कोठारी लेकर चल रही थी वही हेमेंन्द्रसूरी महिला मंडल एवं बहु  महिला मंडल की श्राविकायें कलश को सिर पर धारण कर चल रही थी । जगह जगह अक्षत एवं श्रीफल सेू आचार्यश्री के सम्मुख गहुली की गई ।शोभायात्रा जगमोहनदास मार्ग, राजवाडा चैक, नेहरूमार्ग, मेन मार्केट,चन्द्रशेखर आजाद मार्ग होते हुए श्री बावन जिनालय पहूंची ।

विषिष्ठ मंत्रो़च्चार के साथ मंगल कलष की हुई स्थापना -
मंगल कलश की स्थापना विधि विधान से आचार्य देवेश श्री ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा के मुखरबिन्दू से शांतिधारा पाठ के साथ हुई । पूज्य श्री ने विशिष्ठ मंत्रोच्चार एवं वाक्षेप किया तथा मंगल कलश को ईशान कोण दिशा में स्थापित किया गया । इस अवसर पर विधिकारक हेमंतभाई ने बष्टप्रकारी विधि एवं हवन संपन्न करवाया । मंगल कलश को चांदी के सिक्के, मोती, अक्षत आदि 9 प्रकार की उत्तम सामग्री से भरा गया । लाभार्थी उषाकिरण सुभाषचन्द्र कोठारी परिवार ने श्रेष्ठ मुहर्त में कलश की स्थापना की । आचार्य श्री द्वारा अभिमंत्रित वाक्षेप किया गया ।

सिद्धीतप के प्रचार सामग्री विमोचन कर वितरण किया गया
44 दिवसीय सिद्धी तप आराधना की प्रचार सामग्री का सम्पूर्ण जिले में वितरण के लिये आचार्यश्री से वाक्षेप डलवा कर वितरण के लिये चातुर्मास समिति के संयोजक अभय धारीवाल, संतोष नाकोडा द्वारा विमोचन किया गया तथा मुकेश रूनवाल, मनोज मनोकामना, सुनील राठौर,हेमेन्द्र बाबेल, गुड्डू रूनवाल, श्री मोगरा आदि को वितरण के लिये बिदा किया गया ।

आज से शुरू होगा चातुर्मास के जप तप का क्रम
पूज्य आचार्य देवेश की दीव्य उपस्थिति के चलते आसाढी चतुर्दशी शनिवार सेश्रीसंघ के श्रावक श्राविकाओं में जप तप एवं उपवास का क्रम शुरू हो जायेगा । आराधक चैमासे में प्रतिक्रमण करेगें तथा विभिन्न साधनायें करके धर्मोपसाना करेगें ।

गुरूपूर्णिमा पर होगें धार्मिक आयोजन
चातुर्मास के पावन संयोग में रविवार 9 जुलाई को गुरू पूर्णिमा पर्व पर भी घार्मिक आयोजन आचार्य भगवंत की दीव्य उपस्थिति में संपन्न होगा । इस अवसर पर गुरू महिमा का बखान किया जावेगा तथा आचार्यश्री के सानिध्य में धुमधाम से गुरूपूर्णिमा उत्सव के आयोजन की तैयारियां भी की गई है ।गुरूपूर्णिमा पर आचार्यश्री ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा के आशीर्वाद प्राप्त करने के लिये बावन जिनालय पर गुरूभक्तों का तांता लगेगा तथा आचार्यश्री को नमन वंदन किया जावेगा । तत्पश्चात दादागुरू श्री राजेन्द्रसूरिश्वरजी मसा की महापूजन एवं गुरूदेव के मंदिरजी की साजसज्जा एवं सहधार्मिक वात्सल्य एवं गुरू प्रसादी का आयोजन होगा तथा रात्री मे संगीतमय भक्ति का आयोजन होगा । बावन जिनालय मे आयोजित धार्मिक प्रवचन कार्यक्रम का संचालन संदीप जैन एवं रिंकू रूनवाल ने किया । उन्होने श्रावक श्राविकाओं से धर्म आराधना में सहभागी होने तथा अधिक से अधिक संख्या मे प्रवचन लाभ लेने का अनुरोध किया । 

त्रिदिवसीय गुरूपूर्णिमा महोत्सव का हुआ सत्यनारायण कथा के साथ हुआ श्रीगणेश
  • आज रात्री में होगी विषाल भंजन संध्या ।

jhabua news
झाबुूआ ।  अनन्त कोटी ब्रह्मांड नायक राजाधिराज योगीराग श्री सदगुरू सच्चिदानंद साईनाथ महाराज की जय जय कारों के साथ शुक्रवार को त्रिदिवसीय गुरूपूर्णिमोत्सव का शुभारंभ श्री शिरडी साई मंदिर में  हुआ । प्रातःकाल 7-30 बजे बाबा की आरती में सैकडो श्रद्धालुओं एवं साईभक्तों ने सहभागिता की।  कार्यक्रम संयोजिका श्रीमती कविता शैलेंद्र सिंगार ने जानकारी देते हुए बताया कि  स्थानीय साई मंदिर पर त्रिदिवसीय गुरुपूर्णिमा महोत्सव के प्रथम दिन प्रातः 11 बजे कथा वाचक पंडित विट्ठल प्रसाद शर्मा द्वारा गणेश पूजन एवं सत्यनारायण कथा कर शुभारंभ किया गया इस अवसर पर सेकड़ो माताएं बहनों ने कथा लाभ लिया । सत्यनारायण कथा के बाद भक्तों में प्रसादी का वितरण किया गया । रात्री में 7-30 बजे बाबा की महाआरती का आयापेजन किया गया । श्रीमती कविता सिंगार ने बताया कि आज शनिवार को प्रातः साई आरती के बाद प्रातः 10-30 बजे मंदिर अभियान मे स्वच्छता अभियान चलाया जावेगा तथा रात्रि में 8 बजे से साई दरबार में प्रसिद्ध भजन गायक एवं साई कव्वाल अमर पंजाबी की भजन संध्या का आयोजन किया गया है । उक्त आयोजन में सपिरवार पधार कर धर्मलाभ लेने की अपील साई सेवा युवा समिति ने की है ।

चैनपुरा में पौधो के साथ फल,सब्जी, और अनाज भी पैदा होगे
  • चैनपुरा पहाडी पर 4 सौ हेक्टयर में 4 लाख पौधे लगेगे,ड्रीप से होगी सिंचाई

झाबुआ । मेघनगर ब्लाक के ग्राम चैनपुरा की पहाडी पर 4 सौ हैक्टयर क्षैत्रफल में 4 लाख पौधे रोपे जायेगे। पौधो की सिंचाई के लिए पहाडी पर एक तालाब बनाया गया है। तालाब के पानी से ड्रीप सिंचाई पद्धति से पौधो की सिंचाई की जाएगी। हर पौधे के पास सब्जी, फल एवं मक्का के बीजो की बुआई भी की गई। अगले तीन माह में पहाडी पर सब्जी, फल एवं मक्का की फसल तैयार होगी। अगले तीन चार वर्षो में पहाडी पर पौधे वृक्ष का आकार लेने लगेगे। आज ग्राम, चैनपुरा की पहाडी पर वृहद पौधारोपण करने के लिए विधायक कलसिंह भाभर क्षेत्रवासी एवं जिले के अधिकारी कर्मचारी पहुंचे और पौधारोपण किया। चैनपुरा में आज लोक कल्याण शिविर का आयोजन कर लोगो की समस्याओ का समाधान भी किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक थांदला श्री कलसिंह भाभर ने कहा कि आप सभी को यंहां पर एक पौघा लगाना है एवं उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी भी आपकों लेना है। पहाडी पर दो वर्षो में एक रमणीय स्थल बनाने की योजना है। पहाडी पर छोटी-छोटी झोपडियाॅ बनाई जाएगी, पहाडी के चारो तरफ से आवागमन के लिए रोड बनाया गया है। यहाॅ हर 15 दिन में अलग-अलग संगठनो द्वारा पौधरोपण किया जाएगा। सभी पौधारोपण करे क्योकि पौधे रहेगे तभी जीवन सुरक्षित रह पाएगा और भविष्य में शुद्ध हवा पानी सभी को मिल पाएगा। कार्यक्रम को संबोधित करते हुवे कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि भागीरथ की तरह ही विधायक कलसिंह भाभर ने पहाडी पर जंगल और रमणीय स्थल बनाने का सपना देखा है। इसको पूरा करने में सभी शासकीय अधिकारी एवं जन प्रतिनिधि सभी बाधाओं को दूर कर इसमें सहयोग करे। पौधा रोपना आसान काम है, लेकिन उसे वृक्ष बनाने में कई बाधाएॅ आती है। आप सभी उन बाधाओं को दूर कर पौधो को वृक्ष बनाये एवं चैनपुरा की पर्यटन स्थल के रूप में पहचान विकसित करे। शिविर में उपस्थित बालिकाओं को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री सक्सेना ने कहां कि 18 वर्ष की आयु के पहले विवाह ना करे। अपनी पढाई पूरी करे पढाई पूरी करने में कोई भी परेशानी हो, तो हमें बताये आपकी पढाई के आगे आने वाली हर परेशानी को हम दूर करेगे हमारा सपना है कि जिले के बच्चे कलेक्टर एसपी बने और प्रदेश का नाम देश में रोशन करे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक श्री महेशचन्द जैन ने कहा कि सभी अपने बच्चों की पढाई पूरी करवाये एवं उन्हें आगे बढने में अपना योगदान दे। शराब का सेवन ना करे। शराब पी कर वाहन न चलाये क्योकि अधिकांश दुर्घटनाएॅ शराब पीकर वाहन चलाने से ही घटित होती है। पर्यावरण संरक्षण के लिये पौधा रोपण करे। ग्राम चैनपुरा जनपद पंचायत मेघनगर में आयोजित लोक कल्याण शिविर में ग्रामीणो को शासन की योजनाओं की जानकारी दी गई। शिविर में प्रभारी अधिकारी सामाजिक न्याय श्री अली, एसडीएम मेघनगर, श्री रघुवंशी, सीईओ जनपद मेघनगर श्री रावत सहित जनप्रतिनिधि शासकीय सेवक एवं बडी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे। शिविर में शासकीय योजनाओं की जानकारी दी गई एवं प्राप्त आवेदनो का निराकरण किया गया।

9 जुलाई को हाथीपावा पहाडी पर होगा पौधारोपण

झाबुआ । झाबुआ जिले में इस वर्ष जिला प्रशासन द्वारा 8 लाख से अधिक पौधे रोपे जायेगे। पौधारोपण की प्रक्रिया सतत चल रही है। जिले में पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए सामूहिक पौधारोपण कार्यक्रम का निर्णय लिया गया है। इसके लिए जिले के सामाजिक संगठनों, जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने बैठक आयोजित कर निर्णय लिया है कि जिला मुख्यालय के पास स्थित हाथीपावा पहाडी पर 9 जुलाई 2017 को कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना के नेतृत्व में सामूहिक पौधारोपण किया जाएगा। जिले की सभी ग्राम पंचायातो में भी 9 जुलाई को सामूहिक पौधारोपण किया जाएगा।

सर्वोत्तम कृषक पुरूस्कार के आवेदन 15 जुलाई तक आमंत्रित

झाबुआ । राज्य शासन के निर्देशानुसार वर्ष 2016-17 की गतिविधियों के आधार पर कृषि विस्तार सुधार कार्यक्रम आत्मा के अन्तर्गत पुरस्कार का प्रावधान किया गया है। जिसमें राज्य, जिला, विकास खण्ड के अन्तर्गत कृषक समूह को पुरस्कार की सुविधा प्रदान की जायेगी। विभिन्न स्तर जैसे ब्लाक, जिला, राज्य स्तरीय सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार एवं जिला स्तरीय सर्वोत्तम कृषक समुह पुरस्कार प्रदान करने हेतु 15 जुलाई तक आवेदन आमंत्रित किए जायेंगे। विकासखण्ड स्तरीय सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार हेतु कृषि के साथ-साथ उद्यानिकी, पशुपालन, मत्स्यपालन एवं कृषि अभियांत्रिकी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कृषक विभागवार आवेदन कर सकते है। कोई भी कृषक एक से अधिक श्रेणी के लिए आवेदन नही करे। अधिक जानकारी के लिए वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी, ब्लाक तकनीकी मैनेजर आत्मा अथवा क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से सम्पर्क कर आवेदन प्राप्त कर सकते है।

जनसुनवाई में आवेदक आवेदन के साथ आधार नम्बर और मोबाइल नम्बर की जानकारी अवश्य लाये--कलेक्टर
  • आवेदक से बात कर बतायी जाएगी निरारकण की स्थिति

झाबुआ । शासन के निर्देशानुसार जिला मुख्यालयो पर प्रति मंगलवार को आयोजित जनसुवाई की मानीटरिंग भी अब सी.एम. हेल्प लाईन की तरह ही की जाएगी इसके लिए जिला स्तर पर जनसुनवाई में प्राप्त नागरिक शिकायतो का समय सीमा में संतुष्टिपूर्ण  निराकरण करने हेतु उक्त शिकायतो को सी.एम.हेल्पलाईन पोर्टल में दर्ज करने की सुविधा जिला कलेक्टर को शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई है। प्राप्त आवेदनो का निराकरण सीएम हेल्पलाईन की तरह करने के लिये आवेदक का मोबाईल न. आवेदन के साथ दर्ज करना अनिवार्य है। इस लिये जनसुनवाई में आवेदन देने वाले नागरिको से कलेक्टर श्री सक्सेना ने अपील की है कि वे आवेदन के साथ अपना मोबाईल नं. एवं आधार नम्बर की जानकारी अवश्य दे ताकि उन्हें निराकरण की स्थिति से अवगत करवाया जा सके।

परिवहन विभाग द्वारा स्कूली वाहनो पर की गई कार्यवाही, 1 लाख से अधिक राजस्व किया गया वसूल

झाबुआ । परिवहन विभाग द्वारा स्कूली वाहनो का विशेष जांच अभियान प्रारंभ किया गया है। जो निरंतर चलता रहेगा। जांच अभियान के दौरान स्कूली वाहनों में बच्चों की सुरक्षा से संबंधित पहलुओ की जांच की जा रही है। स्कूली वाहनो की जांच के दौरान लगभग 70 से अधिक स्कूली वाहन झाबुआ, कल्याणपुरा, थांदला, पेटलावद में चेक किये गये। वाहनो की जांच के दौरान शासन के नियमानुसार सुविधाएं नहीं होने से जुर्माना लगाकर जुर्माना राशि की वसुली की गई। अभियान के दौरान लगभग 1 लाख से अधिक राजस्व की वसूली की गई, स्कूली बसो में सीसीटीवी कैमरे, स्पीड गर्वनर, सीज फायर, फस्र्टएड बाॅक्स नहीं होने के कारण दो स्कूली बसो के फीटनेस निरस्त किये गये। एक स्कूली वाहन रायपुरिया में जप्त किया गया। बाफना पब्लिक स्कूल मेघनगर की बसो की जांच की गई। जांच अभियान में जिला परिवहन अधिकारी श्री राजेश गुप्ता, परिवहन प्रधान आरक्षक श्री क्षत्रपाल मण्डलोई, आरक्षक शैलेन्द्र जादव एवं पुष्पेन्द्रसिंह बुदेला, द्वारा संयुक्त रूप से कार्यवाही की गई।

मुख्यमंत्रीजी की घोषणाओ पर प्राथमिकता से कार्यवाही करे--कलेक्टर

झाबुआ । जिले में मुख्यमंत्रीजी द्वारा समय-समय पर किये गये भ्रमण के दौरान की गई घोषणाओं की समीक्षा आज कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने विभागवार की एवं अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुवे निर्देश दिये कि मुख्यमंत्रीजी की घोषणाओ पर प्राथमिकता से कार्यवाही करे। जिन घोषणाओं में जिला स्तर से कार्यवाही होना है उनका निराकरण तत्काल करे एवं जिन घोषणाओ में कार्यवाही शासन स्तर से होना है उन्हें शासन स्तर पर भेजने के लिये प्रस्ताव तैयार कर तत्काल भिजवाने की व्यवस्था करे।

लूट का अपराध पंजीबद्ध
   
झाबुआ । फरि. यशवंत पिता गिरधारीलालजी सोनी उम्र 33 साल निवासी राणापुर ने बताया कि मेरी पत्नी के साथ मोटर सायकल से झाबुआ से राणापुर घर जा रहे थे कि ढेकल घाट पर अज्ञात 03 व्यक्ति मोटर सायकल से पिछा कर मोटर सायकल रोककर फरि. के साथ मारपीट कर नगदी 12,000रू. व पत्नी से सोने की चैन, हार, टाप्स, पायजेब, व 02 मोेबाईल जिसमें सिम जियो 9131170722, बीएसएनएल 9407182805 की लगी थी जिसे छिनकर भाग गये। प्रकरण मेें थाना कोतवाली में अपराध क्रं. 573/17 धारा 394 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।

अपहरण का अपराध पंजीबद्ध

झाबुआ । फरि. किलू पिता मानसिंह हटिला उम्र 40 साल निवासी खड़कुई ने बताया कि मेरी लड़की कष्णा उम्र 16 साल घर से राणापुर हाट बाजार जाने का कहकर गई थी जिसे आरोपी विकास पिता सागरिया गावड निवासी खड़कुई ने बहला फुसला कर अपहरण कर ले गया। प्रकरण मेें थाना राणापुर में अपराध क्रं. 336/17 धारा 363 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।

शासकीय कार्य में बाधा डालने का अपराध पंजीबद्व
    
झाबुआ । फरि. सुरमा पिता दलसिंह मोरी उम्र 40 साल निवासी प्रा. वि. कहाडिया ने बताया कि आरोपी रमेश पिता नाथु डामर निवासी कहाडिया, स्कूल में आया व फरि. को तुम ढंग से पढ़ाती नही हो कहकर गाली गुप्ता कर मारपीट कर शासकीय कार्य में बाधा पहुचायी व फरि. की साड़ी व ब्लाउज फाड दिया। प्रकरण में थाना पेटलावद में अपराध क्रं. 316/17 धारा 353,332,354 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

जहरीली दवाई पीने से दो की मोत

झाबुआ । लिमजी पिता पिथा डामर उम्र 45 साल निवासी काकनवानी व प्रियंका पिता रस्सु गरवाल उम्र 14 साल निवासी ओचका, दोनो की जहरीली दवाई पीने से मृत्यु हो गयी। प्रकरण में थाना काकनवानी में मर्ग क्रं. 30,31/17 धारा 174 जाफौ की कायमी की गयी।

कुए मे गीरने से मोत
      
झाबुआ । सुमित्रा पिता मुलिया वसुनिया उम्र 18 साल निवासी खेड़ा की मिर्गी की बिमारी के कारण कुए में गिरने व पानी में डुबने से मृत्यु हो गयी। प्रकरण में थाना राणापुर में मर्ग क्रं. 38/17 धारा 174 जाफौ की कायमी की गयी।   
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...