कोविंद ने राजग सांसदों एवं विधायकों से मांगा समर्थन

kovind-ask-support-in-ranchi
रांची 12 जुलाई, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने आज झारखंड के सांसदों एवं विधायकों से मिलकर राष्ट्रपति चुनाव में उनका समर्थन मांगा। श्री कोविंद ने यहां राजग सांसदों एवं विधायकों के साथ एक बैठक की। इस दौरान अपने संबोधन में श्री कोविंद ने कहा कि राष्ट्रपति का पद देश का सर्वोच्च पद है और यह दलगत राजनीति से ऊपर है। उन्होंने कहा कि जब से वह बिहार के राज्यपाल बने है, तब से वह किसी भी राजनितिक दल से संबंधित नहीं है और दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर काम किया है। राजग के राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी ने कहा कि देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर बैठे हुए व्यक्ति के लिए सभी राज्य और राजनीतिक दल एक समान हैं। उन्होंने भगवान बिरसा मुंडा को भी अपनी श्रृद्धांजलि अर्पित की और झारखंड के लोगों को अच्छे और मधुरभाषी बताया। उन्होंने राज्य के निवासियों के साथ अपने लंबे संबंधों का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति तीनों सेनाओं का प्रमुख होता है और देश की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता होती है। उन्होंने कहा कि जब उन्हें राष्ट्रपति पद के लिए उनका नामांकन किया गया था तो उनके सामने बस एक विचारधारा थी और वह था भारत का संविधान। इसके अलावा देश में कोई विचारधारा नहीं है। इस मौके पर संवाददाताओं को संबोधित करते हुए केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि जब से श्री रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति पद के लिए पर्चा भरा है तब से देश भर में लगातार उनका समर्थन बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि झारखंड के दौरे पर श्री कोविंद ने जन प्रतिनिधियों से उनका समर्थन मांगा है। वहीं, मुख्यमंत्री रघुवर दास ने श्री कोविंद को भरोसा दिलाया कि झारखंड और यहां की जनता का पूरा समर्थन उन्हें विधायकों और सांसदो के मत के रूप में प्राप्त होगा। बैठक में मुख्यमंत्री, आजसू अध्यक्ष सुदेश महतो, केन्द्रीय राज्य मंत्री जंयत सिन्हा, भाजपा के कई सांसद और विधायक, आजसू के विधायक, निर्दलीय विधायक भानूप्रताप शाही और गीता कोड़ा मौजूद थे। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...