मुलायम ने चीन के हमले के प्रति चेताया

mulayam-warns-against-china-attack
नयी दिल्ली 19 जुलाई, पूर्व रक्षा मंत्री एवं समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव ने देश पर चीन के हमले की आशंका जाहिर करते हुए लोकसभा में आज सरकार से यह बताने की मांग की कि उसने ऐसी स्थिति से निपटने के लिए क्या तैयारी की है। श्री यादव ने शून्यकाल में चीन के बढ़ते खतरे का मामला उठाते हुए कहा कि उसने भारत पर हमले की पूरी तैयारी कर ली है । वह पाकिस्तान के साथ मिलकर कश्मीर में साजिश कर रहा है । चीन अपनी सेना और हथियार के साथ कश्मीर में गड़बड़ी कर रहा है । उन्होंने चीन की मीडिया के हवाले से बताया कि उसकी सेना ने कश्मीर की सीमा पर अभ्यास किया है । श्री यादव ने कहा कि ऐसी भी खबरें हैं कि चीन ने पाकिस्तान की जमीन के अंदर परमाणु बम छिपा दिया है । उन्होंने कहा कि भारत का सबसे बडा दुश्मन पाकिस्तान नहीं बल्कि चीन है आैर उससे देश को सबसे ज्यादा खतरा है। चीन को भारत का सबसे बड़ा दुश्मन करार देते हुए उन्होंने कहा कि सिक्किम अौर भूटान की रक्षा करना भारत की जिम्मेदारी है । उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी गलती यह हुई कि हमारे तत्कालीन प्रधानमंत्री ने तिब्बत को चीन का हिस्सा मान लिया । तिब्बतियों के आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा को भी सरकार संरक्षण नहीं दे सकी । उन्होंने सुझाव दिया कि भारत को तिब्बत की आजादी का समर्थन करना चाहिए । उन्हाेंने कहा कि दलाईलामा चीन को नागवार गुजरते हैं और वह भारत को कभी माफ नहीं कर सकता । उन्होंने इस बात पर अफसोस जताया कि एक ओर चीन भारत पर हमले की तैयारी कर रहा है तो दूसरी ओर हमने उसे व्यापार के लिए अपना बाजार उपलब्ध कर रखा है । श्री यादव ने चीन के संभावित हमले की तैयारी से निपटने के लिए तीनों सेनाओं के प्रमुखों की बैठक बुलाने का भी सुझाव दिया । उन्होंने कहा कि देश की जनता यह जानना चाहती है कि चीन के संभावित हमले से निपटने के लिए सरकार की क्या तैयारी है । श्री यादव ने कहा कि वह हर सत्र में चीन का मुद्दा उठाते रहे हैं । उन्होंने चीन के मुद्दे पर सदन में चर्चा की मांग की ताकि सदस्यों की राय सामने आ सके और सरकार की तैयारियों की जानकारी मिल सके । 


Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...