10 हजार के पार बंद हुआ निफ्टी, सेंसेक्स भी नये शिखर पर

nifty-settles-over-10k-mark-sensex-also-on-new-peak
मुंबई 26 जुलाई, विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली से आज नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.56 प्रतिशत यानी 56.10 अंक चढ़कर पहली बार 10 हजार अंक के पार 10,020.65 अंक पर बंद हुआ, मंगलवार को इसने कारोबार के दौरान पहली बार 10 हजार अंक के स्तर को छुआ था, लेकिन अंतत: 9,964.55 अंक पर बंद हुआ था। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स भी 0.48 प्रतिशत यानी 154.19 अंक की बढ़त के साथ अब तक के उच्चतम स्तर 32,382.46 अंक पर पहुँच गया। निफ्टी 19.10 अंक की तेजी के साथ 9,983.65 अंक पर खुला। शुरुआती चंद मिनटों में ही 9,965.95 अंक के दिवस के न्यूनतम अंक को छूने के बाद इसने पीछे मुड़कर नहीं देखा। लगातार चढ़ता हुआ कारोबार की समाप्ति से पहले 10,025.95 अंक के ऐतिहासिक उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह 10,020.65 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 51 में से 30 कंपनियों के शेयर हरे और 21 के लाल निशान में बंद हुए। सेंसेक्स भी 27.72 अंक की बढ़त के साथ 32,255.99 अंक पर खुला। इसका ग्राफ भी निफ्टी की तरह ही रहा। आरंभिक क्षणों में ही 32,226.08 अंक के दिवस के निचले स्तर को छूने के बाद कारोबार की समाप्ति से पहले 32,413.63 अंक के रिकॉर्ड उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह 32,382.46 अंक पर बंद हुआ जो अब तक का सर्वाधिक बंद स्तर है। सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियाँ हरे और आठ लाल निशान में रहीं जबकि कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर अपरिवर्तित रहे। टाटा स्टील, सनफार्मा और आईसीआईसीआई बैंक के शेयर दो प्रतिशत से अधिक चढ़े। महिंद्रा एंड महिंद्रा, सिप्ला और हिंदुस्तान यूनिलिर में भी करीब दो प्रतिशत की तेजी रही। कमजोर तिमाही परिणामों के कारण एक्सिस बैंक और एशियन पेंट्स ने सबसे ज्यादा नुकसान उठाया। मंगलवार को जारी परिणाम के अनुसार, एक्सिस बैंक का शुद्ध मुनाफा 30 जून को समाप्त तिमाही में घटा है जबकि बैंक पर गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) का दबाव बढ़ा है। इससे बैंक के शेयर करीब तीन फीसदी लुढ़क गये। एशियन पेंट्स का भी मुनाफा घटने से उसके शेयर करीब डेढ़ प्रतिशत टूटे हैं। बीएसई में कुल 2,861 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,362 के शेयर बढ़त में और 1,324 के गिरावट में रहें जबकि 175 के शेयरों के भाव उतार-चढ़ाव से होते हुये अंतत: अपरिवर्तित रहे। मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों का विश्वास कम रहा। बीएसई का मिडकैप 0.18 प्रतिशत चढ़कर 15,339.76 अंक पर और स्मॉलकैप 0.28 प्रतिशत की बढ़त के साथ 16,098.64 अंक पर पहुँच गया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...