नीतीश राजद की रैली में होंगे शामिल

nitish-will-join-rjd-rally
पटना 02 जुलाई, जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की ओर से 27 अगस्त को पटना में आयोजित विपक्षी दलों की रैली में शामिल होंगे। जदयू की प्रदेश कार्यकारिणी की आज यहां पार्टी मुख्यालय में हुयी बैठक के बाद प्रवक्ता एवं विधान पार्षद संजय सिंह, प्रवक्ता नीरज कुमार, प्रवक्ता राजीव रंजन और प्रवक्ता अजय आलोक ने संयुक्त संवादादता सम्मेलन में कहा कि महागठबंधन के बड़े घटक राजद की 27 अगस्त को पटना के एतिहासिक गांधी मैदान में ‘भाजपा भगाओ-देश बचाओ’ रैली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार शामिल होंगे। हालांकि उन्होंने कहा कि प्रस्तावित रैली में शामिल होने के लिये श्री कुमार को अभी तक राजद की ओर से निमंत्रण नहीं आया है। प्रवक्ताओं ने कहा कि श्री कुमार किसी के पिछलग्गू नहीं हैं और वह अपने सिद्धांत एवं आदर्श पर अडिग रहने वाले हैं। केन्द्र की तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के समय मुख्यमंत्री श्री कुमार ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में रहते हुए राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार प्रणव मुखर्जी का समर्थन किया था और वर्तमान में महागठबंधन में रहते हुए राजग के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि संप्रग के कार्यकाल में न तो कांग्रेस को समर्थन दिया गया था और न ही वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बल्कि यह व्यक्ति विशेष को दिया गया समर्थन है। 


जदयू प्रवक्ताओं ने एक सवाल के जवाब में कहा कि श्री कुमार ने बैठक में कांग्रेस के संबंध में किसी तरह की टिप्पणी नहीं की है। वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) का पार्टी ने खुलकर समर्थन किया है और इसमें किसी को कोई शक नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह आइने की तरह साफ है। प्रवक्ताओं ने कहा कि वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा के चुनाव को देखते हुए संगठन का विस्तार किये जाने के साथ ही इसे और धारदार बनाये जाने पर बैठक में विशेष रूप से चर्चा की गयी। संगठन के विस्तार पर विशेष रूप से बल दिया गया है। उन्होंने कहा कि अभी तक एक लाख 43 हजार सक्रिय सदस्य बनाये जा चुके है तथा दो लाख सक्रिय सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है। जदयू प्रक्ताओं ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कुमार ने यह निर्देश दिया है कि अधिक से अधिक सक्रिय सदस्य बनाया जायें। उन्होंने कहा कि समाजवादी आंदोलन के विभूति रहे लोकनायक जयप्रकाश नारायण,जननायक कर्पूरी ठाकुर और बाबा भीम राव अम्बेदकर की जयंती पंचायत स्तर पर मनायी जायेगी। इसके लिये पार्टी नेताओं को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया है। 

प्रवक्ताओ ने कहा कि बैठक में नारी सशक्तिकरण पर विशेष रूप से चर्चा की गयी। नारी सशक्तिकरण के लिये पार्टी और जोर लगायेगी तथा संगठन में भी नारी का प्रतिनिधित्व और बढ़ाया जायेगा। उन्होंने कहा कि शराबबंदी के बाद बाल- विवाह और दहेजबंदी उनकी पार्टी का सबसे बड़ा कार्यक्रम साबित होगा। मुख्यमंत्री श्री कुमार गांधी जयंती के अवसर पर दो अक्टूबर को दहेजबंदी और बाल-विवाह के कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे। जदयू प्रवक्ताओं ने कहा कि नीतीश सरकार की 12 वर्ष की उपलब्धियों को घर-घर तक पहुंचाया जायेगा। इसके लिये भी कार्यकर्ताओं को अपने स्तर से तैयारी करने को कहा गया है । उन्होंन कहा कि पार्टी की ओर से जिला से लेकर प्रखंड स्तर तक हर माह कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की जायेगी। इससे पूर्व बैठक में मुख्यमंत्री श्री कुमार के साथ ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह, राज्यसभा सांसद आर. सी. पी. सिंह, राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक, जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, पार्टी के विधायक, विधान पार्षद समेत प्रदेश कार्यकारिणी के सभी सदस्य मौजूद थे। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...