बिहार : येसु समाज के संस्थापक संत इग्नासियुस लोयोला का पर्व है

sant-ignatsiusपटना। येसु समाज के संस्थापक संत इग्नासियुस लोयोला का पर्व है। पटना महाधर्मप्रांत के बेतिया ,मुजफ्फरपुर,बक्सर,पूर्णिया,भागलपुर और पटना धर्मप्रांत में हर्षोल्लास ढंग से महरूम संस्थापक का पर्व मनाया जा रहा है। बेतिया में स्थित के०आर हाई स्कूल के प्रांगण में येसु समाज के संस्थापक संत इग्नासियुस लोयोला का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। मुजफ्फरपुर धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष काजितेन ओस्ता द्वारा मिस्सा पूजा चढ़ा कर येसु समाज के संस्थापक संत इग्नासियुस लोयोला का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस मिस्सा पूजा में बेतिया धर्मप्रांत के सभी पुरोहित,धर्म बहने और विश्वासीगण उपस्थिति थे, कार्यक्रम में बेतिया शहर के येसु समाजी सभी फादर का स्वागत किया गया। सभी उपस्थित विश्वासीगणों को  के०आर हाई स्कूल के तरफ से शुभकामनाएं दी गयी,तथा इस कार्यक्रम की शुरुआत संत इग्नासियुस लोयोला की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया गया। इसके बाद दीप प्रज्ज्वलित और स्वागत भाषण के बाद मिस्सा पूजा चढ़ाया गया। संत इग्नासियुस लोयोला का जन्म 526 साल पूर्व 23 अक्टूबर,1491 को हुआ। 48 वर्ष की अवस्था में 1539 में 'येसु समाज' की स्थापना कर दी। इस ऐतिहासिक कृत्य में संत पीटर फेबर और संत फ्रांसिस जेवियर संग-संग रहे। कोई 1 साल के बाद संत पापा पौल ने 1540 में मान्यता दे दी।इस तरह येसु समाज के गठन 478 और मान्यता मिलने 477 साल से फलफुल रहा है येसु समाज। भारत में अमेरिकन जेसुइट का उल्लेखनीय योगदान रहा है। 64 साल की अवस्था में 31 जुलाई, 1556 को मौत को गला लगाये। विश्व स्तर पर 461 वीं पुण्य तिथि मनायी जा रही है। परलोक सिधारने चुकने के 66 साल बाद इंग्नासियुस को संत पापा गेग्ररी xv ने 12 1622 को 'संत' से सम्मानित किया। संत इंग्नासियुस को विधिवत 'संत' बने 395 साल हो रहा है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...