तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा, नीतीश को बोझ लगता है तो वह समझें : लालू

tejaswi-will-not-resign-lalu-yadav
पटना 26 जुलाई, बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन के सबसे बड़े घटक राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने आज दो टूक शब्दों में कहा कि उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे और महागठबंधन की सरकार पांच वर्ष तक चलेगी लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को यदि बोझ लगता है तो वह समझें। राजद अध्यक्ष ने यहां उनके 10 सर्कुलर रोड स्थित सरकारी आवास पर पार्टी विधानमंडल दल की हुयी बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुख्यमंत्री एवं महागठबंधन के नेता नीतीश कुमार ने उप मुख्यमंत्री श्री यादव से इस्तीफा नहीं मांगा है। महागठबंधन मजबूती के साथ पांच वर्ष तक चलेगा लेकिन यदि श्री कुमार को बोझ लगता है तो वह समझें। श्री यादव ने कहा कि महागठबंधन के नेता नीतीश कुमार है और उनके प्रति कोई अनादर का भाव रखता है तो उसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उप मुख्यमंत्री के इस्तीफा दिये जाने की जदयू प्रवक्ताओं की ओर से की जा रही मांग पर राजद अध्यक्ष ने अपने चिरपरिचित लहजे में कहा, “जदयू कोई पुलिस नहीं है, मुझे और तेजस्वी को जहां बोलना होगा, वहां बोलेंगे।”


राजद अध्यक्ष ने उप मुख्यमंत्री के जनता के बीच जाकर लगे आरोपों पर सफाई देने से इनकार करते हुये कहा कि मुख्यमंत्री श्री कुमार ने कभी भी श्री यादव से इस्तीफे के संबंध में कोई चर्चा नहीं की। महागठबंधन में कोई दरार नहीं है, यह सब मीडिया की देन है। उन्होंने कहा कि जदयू और राजद पूरी तरह से एक साथ है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मुंह से लार टपक रहा है कि कैसे वह सत्ता में आये। श्री यादव ने कहा कि अथक प्रयास से उन्होंने महागठबंधन बनाया है और श्री कुमार को मुख्यमंत्री के पद पर बैठाया है। श्री कुमार ने भी स्पष्ट कहा है कि पांच वर्ष के लिए जनादेश मिला है। उन्होंने स्पष्ट करते हुये कहा कि महागठबंधन सरकार का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए राजद की ओर से किसी तरह की अड़चन नहीं है। वहीं, राजद विधानमंडल दल की नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी दो टूक शब्दों में कह दिया कि किसी के कहने पर उप मुख्यमंत्री इस्तीफा नहीं देंगे। 

इस बीच उप मुख्यमंत्री ने उनके ऊपर लगे आरोपों को सिरे से खारिज करते हुये कहा कि उनसे अभी तक मुख्यमंत्री ने इस्तीफा नहीं मांगा है। इस मामले में वह बार-बार सफाई नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा गठबंधन तोड़ने की साजिश कर रही है। उप मुख्यमंत्री ने कहा, “हमारी पार्टी के अधिक (80) विधायक होने के बावजूद हमने श्री कुमार को मुख्यमंत्री बनाया। हमने कभी भी शासन के कार्यों में हस्तक्षेप नहीं किया और न ही हमारी ओर से सरकार पर कोई दबाव बनाया गया। जदयू प्रवक्ताओं की बयानबाजी के बावजूद हम चुप रहे।” उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि कोई भी अपने महागठबंधन की छवि को क्यों बिगाड़ेगा। उन्होंने भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी को साजिश का सूत्रधार बताया और कहा कि वह स्वयं तो बिहारी नहीं हैं और प्रदेश की छवि खराब करने में लगे हैं। राजद अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी विधानमंडल दल की नेता राबड़ी देवी की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि 28 जुलाई से शुरू हो रहे विधानमंडल के मॉनसून सत्र में श्रीमती राबड़ी देवी और विधानसभा में विधायक दल के नेता श्री तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में सक्रिय रहकर सरकार के हर कदम का समर्थन करते हुये महागठबंधन को शक्ति प्रदान कर जनहित के कार्यों में सहयोग करेंगे। बैठक में राजद अध्यक्ष श्री यादव, पूर्व सांसद जगदानंद सिंह, प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे, महागठबंधन सरकार में राजद कोटे के सभी मंत्री, विधायक और विधान पार्षद मौजूद थे। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...