विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 18 जुलाई

जनसुनवाई में 216 आवेदन प्राप्त हुए मौके पर 122 आवेदन निराकृत

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा आज मंगलवार को आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में 216 आवेदकों ने आवेदन प्रस्तुत कर अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा मौके पर 122 आवेदनों का निराकरण किया गया है शेष लंबित आवेदनों पर समय सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश उनके द्वारा संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों को दिए गए है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, एसडीएम श्री आरपी अहिरवार, डिप्टी कलेक्टर श्री रविशंकर राय, तहसीलदार श्री संतोष बिटौलिया एवं अन्य विभागों के अधिकारी पंक्तिबद्व-रो में बैठकर आमजनों के आवेदनों को प्राप्त किया और निराकरण प्रक्रिया से अवगत कराते हुए उन सभी के द्वारा आवेदनों का निराकरण किया गया है। ग्यारसपुर के ग्राम बोरीरामपुर की आवेदिका श्रीमती कपूरी बाई ने बताया कि स्वरोजगार योजना के तहत बकरी पालन हेतु प्रकरण अधिकारियों के द्वारा तैयार किया गया है किन्तु अभी तक बैंक से लोन स्वीकृत नही हुआ है उक्त प्रकरण में लीड बैंक आफीसर को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया है। त्योंदा के पट्टेधारी आवेदक श्री भगवान सिंह ने कुंआ निर्माण हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। कपिलधारा योजना के तहत प्र्रकरण पंजीबद्ध कराया गया है। आवेदक श्री कल्याण सिंह ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास निर्माण हेतु राशि जारी करने हेतु आग्रह किया। आवेदक को अवगत कराया गया कि पात्रता सूची मंें शामिल हितग्राहियों के लिए शीघ्र ही राशि जारी की जा रही है। सुआखेडी के आवेदक श्री प्रताप सिंह ने बताया कि स्कूल तक पहंुचमार्ग बनाए जाने का आवेदन प्रस्तुत किया। परीक्षण हेतु जनपद सीईओ को आवेदन प्रेषित किया गया। निःशक्त आवेदिका कलाबाई ने निःशक्तता पेंशन दिलाए जाने की मांग की। आवेदिका से संबंधित प्रपत्र मौके पर भरवाने की कार्यवाही की गई और शीघ्र ही राशि बैंक खाते में जमा कराने का आश्वासन दिया गया। जनसुनवाई कार्यक्रम में अधिकांश आवेदन विद्युत बिलों की राशि कम करने, सीमांकन कराने, पात्रतापर्ची जारी करने के प्राप्त हुए थे। संबंधित आवेदको को प्रक्रिया से अवगत कराया गया। 

स्टाॅकों का वेरीफिकेशन करें-कलेक्टर

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज टीएल बैठक में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि विभागीय अधिकारियों के माध्यम से जिले में निजी कीटनाशक विक्रेताओं की दुकानों का वेरीफिकेशन करने हेतु दल गठित करें। उन्होंने कहा कि विकासखण्डो में भण्डारित मिनी किट खाद, बीज और उपकरणों का भी स्टाॅक पंजी का सत्यापन कार्य साथ-साथ क्रियान्वित किया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने निर्देश दिए कि हर रोज की कार्यवाही से जिला कार्यालय को अवगत कराएं। कलेक्टर श्री सुचारी ने जिला परिवहन अधिकारी को निर्देश दिए कि जिले में पंजीकृत सभी चार पहिया वाहन चालकों को शासन की योजनाओं का लाभ दिलाए जाने हेतु विशेष शिविर आयोजित किए जाए। उन्होंने पंजीकृत ड्रायवर को पृथक से सूचनाएं प्रेषित करने की बात करते हुए कहा कि शिविरों में तमाम विभागों के अधिकारियों को आमंत्रित किया जाए। इस कार्य में ट्रक एसोसिएशन के पदाधिकारियों का भी सहयोग लिया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के तहत प्राप्त होने वाले आवेदनों की पंजी संबंधित विभाग संधारित करें। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता के मोबाइल नम्बर पर कब-कब बात की गई है कि जानकारी भी अंकित करें। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रकरण जो एल-वन पर थे और उनका जबाव समय सीमा में दर्ज नही होने पर वे प्रकरण एल-टू पर चले गए है ऐसे सभी विभागोें के प्रकरणो को छांटने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए है ताकि संबंधित अधिकारी, कर्मचारियों पर कार्यवाही की जा सकें। कलेक्टर श्री सुचारी ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत दी जाने वाली सुविधाओं की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि समय सीमा में जानकारी नही देने वाले अधिकारी अर्थदण्ड से दंडित किए जाएंगे। दंड में प्राप्त होने वाली राशि संबंधित आवेदकों को दी जाएगी। उन्होेंने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत 203 सेवाएं पंजीकृत है अतः विभागों के अधिकारियों की नैतिक जबावदेंही है कि दर्ज सेवा के आवेदनों का निराकरण समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। बैठक में बताया गया कि सर्व शिक्षा अभियान के डीपीसी ने बताया कि जिले में 167 आधे अधूरे भवनों में से 34 भवन संबंधित ऐजेन्सियों के द्वारा पूर्ण किए जा चुके है शेष के द्वारा कार्य नही करने पर सरपंच और सचिव के खिलाफ धारा-92 और 40 के तहत जिला पंचायत सीईओ द्वारा नोटिस जारी किए गए है। काॅ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह ने बताया कि बैंक द्वारा विशेष अभियान चलाकर किसानों के 26 हजार नवीन खाते खोलने की कार्यवाही की गई है जिसमें से अभी तक 16 हजार किसानों को केसीसी भी जारी किए जा चुके है। बैठक में श्रम, कृषि, खनिज, खाद्य विभाग, आदिम जाति कल्याण, उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा, आरईएस, पीडब्ल्यूडी, आधार कार्ड, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा विभाग के लंबित आवेदनों और जाति प्रमाण पत्र, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की अद्यतन प्रगति की भी समीक्षा की गई। वही वरिष्ठ कार्यालयों के साथ-साथ मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों और पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्री एके मांझी के अलावा समस्त विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे। 


उद्यानिकी फसलों हेतु बीमा योजना लागू

उद्यानिकी फसलांे की खेती करने वाले कृषकों की फसलों का मौसम आधारित फसल बीमा योजना लागू की गई है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत रबी एवं खरीफ में उद्यानिकी फसलों की खेती करने वाले किसानों की फसलों का मौसम आधारित फसल बीमा हेतु एचडीएफसी अर्गो को जिले में अधिकृत किया गया है। इसके लिए बैंक के द्वारा जिला समन्वयक श्री सिद्वार्थ दुबे को नियुक्त किया गया है। कृषकबंधु श्री दुबे से सम्पर्क करने हेतु उनके मोबाइल नम्बर 9755813440 का उपयोग कर सकते है। उद्यान विभाग के सहायक संचालक श्री केएल व्यास ने बताया कि उद्यानिकी फसलों में मौसम आधारित फसल बीमा योजना के लिए विशेष शिविरों का आयोजन विकासखण्डवार जुलाई माह में किया जाएगा। तदानुसार 20 जुलाई को नटेरन में, 21 को बासौदा में, 22 को कुरवाई में, 24 को सिरोंज में, 25 को विदिशा में, 26 को ग्यारसपुर में तथा 29 जुलाई को लटेरी विकासखण्ड में शिविर का आयोजन किया गया है। उक्त शिविरों में खरीफ उद्यानिकी फसलों की बीमा संबंधी कार्यवाही भी साथ-साथ की जाएगी।

जिले मंे 351.2 मिमी औसत वर्षा हुई

जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर मंगलवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि मंगलवार को जिले में 9.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 18 जुलाई तक 351.2 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 651.4 मिमी औसत वर्षा हुई थी। ज्ञातव्य हो कि जिले की सामान्य वर्षा 1075.2 मिमी है। मंगलवार को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार बासौदा में दो मिमी, कुरवाई में 34.4 मिमी, सिरोंज में 36 मिमी, लटेरी में एक मिमी, ग्यारसपुर में दो मिमी और नटेरन में तीन मिमी वर्षा दर्ज की गई है जबकि विदिशा, गुलाबगंज में वर्षा नगण्य रही। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...