विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 23 जुलाई

प्रकोष्ठों का गठन, नोड्ल अधिकारी नियुक्त

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनिल सुचारी ने नगर परिषद शमशाबाद के अध्यक्ष को अपने पद से वापिस बुलाए जाने हेतु राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रमांे एवं आदेशो के अनुरूप कार्यवाही सम्पादन एवं तैयारियों के मद्देनजर प्रकोष्ठो का गठन किया गया है वही उनके द्वारा विभागो के जिलाधिकारियों को प्रकोष्ठों का नोड्ल अधिकारी भी नियुक्त किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सुचारी के द्वारा जारी आदेश पत्र में संबंधित जिला स्तरीय नोडल अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि सौंपे गए उत्तरदायित्वों का निर्वहन समय सीमा में पूर्ण करना सुनिश्चित करें। साथ ही साथ रिटर्निंग आफीस को समय-समय पर आवश्यक जानकारियों से अवगत कराएं। जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा कुल 21 प्रकोष्ठों का गठन किया गया है। जिन अधिकारियों को नोड्ल अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है तदानुसार निर्वाचन प्रक्रिया के सम्पन्न होने तक कानून व्यवस्था एवं आदर्श आचरण संहिता का क्रियान्वयन एवं सेंस प्रकोष्ठ के नोड्ल अधिकारी अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, वाहन व्यवस्था प्रकोष्ठ के नोड्ल अधिकारी विदिशा एसडीएम श्री आरपी अहिरवार, ईव्हीएम प्रबंधन एवं शिकायतों की माॅनिटरिंग हेतु गठित प्रकोष्ठ के नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर श्री रविशंकर राय, कार्मिक प्रबंधन के लिए डीआईओ श्री एमएल अहिरवार, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के लिए डीईओ श्री एचएन नेमा को नियुक्त किया गया हैै। सामग्री प्रबंधन एवं रूटचार्ट, परिवहन प्रबंधन प्रकोष्ठ हेतु एसएलआर श्रीमती सविता पटेल, निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र एवं मतदान केन्द्रों पर व्यवस्था प्रबंधन तहसीलदार श्री राकेश खजूरिया, मतपत्रों का प्रबंधन तथा वित्तीय प्रबंधन प्रकोष्ठ के लिए एटीओ श्री कैलाश चक्रवर्ती, मीडिया मैनेजमेंट/पेड न्यूज प्रकोष्ठ हेतु पीआरओ श्री बीडी अहरवाल, मतगणना प्रबंधन के लिए पीडब्ल्यूडी के ईई श्री जीपी वर्मा, कम्यूनिकेशन प्लान प्रकोष्ठ हेतु पीएचई के ईई श्री आलोक जैन, आईटी प्रकोष्ठ हेतु मैनेजर ई-गव्हर्नेंस श्री निजामुद्दीन शेख, सामग्री प्रदान एवं वापसी प्रकोष्ठ हेतु आरईएस के ईई श्री एएल उईके, निर्वाचन व्यय लेखा प्रकोष्ठ के नोड्ल अधिकारी जिला कोषालय अधिकारी श्री अश्विनी सिंह परिहार, सांख्यिकी आंकडो के प्रकोष्ठ हेतु जिला योजना अधिकारी श्री पीके मिश्रा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। 


कृषि आदान समीक्षा 

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज अपने चैम्बर में खरीफ फसलांे के आच्छादान कार्यो की समीक्षा की। कलेक्टर श्री सुचारी ने किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक को पूर्व में दिए गए निर्देशों का पालन नही करने पर सख्त हिदायत देते हुए कहा कि अपनी कार्यप्रणाली मेें सुधार लाएं। विभागीय योजनावार लक्ष्य की पूर्ति हेतु अब तक की गई कार्यवाही की बिन्दुवार समीक्षा की गई। जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य ने कहा कि डीडीए द्वारा लक्ष्यों की जानकारी नही बताई जा रही है इस बात पर जिपं के सदस्यों द्वारा भी असंतोष जाहिर किया गया है। उन्होंने निर्देश दिए कि विभागीय योजनावार लक्ष्योें की प्रतियां जिपं सदस्यों को अनिवार्यतः उपलब्ध कराएं। बैठक में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के संबंध में बताया गया कि खरीफ 2017 के लिए अधिसूचित फसलों का बीमा योजना तहत किया जाना है। इसके लिए 16 अगस्त अंतिम तिथि निर्धारित की गई है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत सभी पात्र किसानों का बीमा अनिवार्यतः कराया जाए चाहे वे ऋणी अथवा अ़़ऋणी हो। बीमा हेतु प्रति हेक्टेयर निर्धारित राशि के संबंध में बताया गया कि सोयाबीन हेतु 440 रूपए, उड़द एवं मूंग हेतु बीमा प्रीमियम राशि क्रमशः 342-342 रूपए प्रति हेक्टेयर के मान से की जाएगी। अऋणी कृषक अपने पूर्णतः भरे हुए प्रस्ताव फाॅर्म के साथ भू-अधिकार प्रस्ताव की छायाप्रति सक्षम अधिकारी द्वारा बोआई प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, बैंक खाता, पासबुक की छायाप्रति अनिवार्यतः संलग्न करनी होगी। कलेक्टर श्री सुचारी ने निर्देश दिए कि फसल बीमा की महत्वता और उपयोगिता से किसानों को अवगत कराए और शत प्रतिशत किसानों से बीमा प्रीमियम की राशि बैंकों में जमा हो इसके लिए स्थानीय स्तर पर अभियान क्रियान्वित किया जाए। काॅ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनयप्रकाश सिंह ने बताया कि अब तक एक लाख बैंक के कृषक खातेदारों द्वारा बीमा की किश्त राशि जमा की जा चुकी है। बैठक में उद्यानिकी फसलों के लिए क्रियान्वित बीमा योजना की भी जानकारी विभाग के अधिकारी श्री केएल व्यास द्वारा दी गई। कलेक्टर श्री सुचारी ने निर्देश दिए कि कीटनाशक विक्रेताओं की दुकानो से अधिकांश नमूने लिए जाए ताकि किसान नकली खाद एवं कीटनाशक औषधियांे से बच सकें। इस दौरान बताया गया कि अब तक 62 नमूने कृषि विभाग के अमले के द्वारा लिए गए है। बैठक मेें प्याज उपार्जन के कार्यो की भी समीक्षा की गई। उक्त बैठक में अपर कलेक्टर श्री एएचपी वर्मा समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक सम्पन्न

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी की अध्यक्षता में आज जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिए गए कि जिले की पुरातत्व धरोहर को अधिक से अधिक पर्यटक देखने आए इसके लिए व्यापक प्रचार-प्रसार करने और पर्यटकों को बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराई जाएं। विदिशा जिला की पुरातत्व धरोहर को सटीक स्लोगन के रूप में जाना जाए। इस हेतु आमजनों से स्लोगन जमा करने का आग्रह किया गया है। एक चयनित स्लोगनकर्ता को 15 अगस्त के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि द्वारा प्रमाण पत्र और पांच हजार रूपए की राशि से पुरस्कृत किया जाएगा। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि पर्यटकों को जिले की धरोहर से अवगत कराने हेतु जिला स्तर पर बेवसाइट बनाई जाए। टूरिस्ट सर्किट रूट पर बस चलाई जाए। नवीनतम पुस्तिका का प्रकाशन किया जाए। आमजनों को सुगमता से वितरित की जा सकें। बच्चों मेें पुरातत्व धरोहर के प्रति रूझान बढे इसके लिए पर्यटन विकास निगम के द्वारा 19 अगस्त को निबंध, क्वीज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर ने कहा कि जिले के पर्यटन क्षेत्रों के भ्रमण पर आने वाले पर्यटकों को संबंधित जानकारी सुगमता से मिल सकें इसके लिए ग्राम, नगर रक्षा समिति के सदस्यों को प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि वे गाईड की भूमिका को अदा कर सकें। कलेक्टर चैम्बर में हुई बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा, एसएटीआई के डायरेक्टर श्री जेएस चैहान समेत अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

तैयारियों संबंधी बैठक 25 को

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजन के परिपेक्ष्य में की जाने वाली तैयारियों संबंधी बैठक कलेक्टर श्री अनिल सुचारी की अध्यक्षता में 25 जुलाई को आयोजित की गई है। यह बैठक कलेक्टेªट के सभाकक्ष में दोपहर तीन बजे से प्रारंभ होगी। बैठक में संबंधितों से कहा गया है कि वे समुचित तैयारियों सहित समय पर उपस्थित होना सुनिश्चित करें।

ट्रांसजेंडर समुदाय हेतु निःशुल्क शिक्षा 

जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री बीबी शुक्ला के मार्गदर्शन मेें जिले में ट्रांसजेंडर समुदाय के हितार्थ हेतु विधिक साक्षरता शिविर एवं अन्य गतिविधियों का क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने बताया कि ट्रांसजेंडर समुदाय के शैक्षणिक उत्थान हेतु इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय नई दिल्ली के द्वारा अण्डर ग्रजुऐट, पोस्ट ग्रजुएट, वोेकेशनल, शिक्षा निःशुल्क प्रदान हेतु निर्देश जारी किए गए है। वर्तमान शैक्षणिक सत्र में प्रवेश हेतु अंतिम तिथि 31 जुलाई है। ट्रांसजेंडर्स के निवास स्थानों पर विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन जिले में जारी है।

आयकर दिवस पर दी गई जानकारी

आयकर के 157 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर वित्त मंत्रालय के निर्देशानुसार आज 24 जुलाई को विदिशा जिला मुख्यालय पर भी आयकर दिवस का आयोजन किया गया था। आयकर अधिकारी श्री सुरेश बी ने आयकर दिवस की मूलअवधारणा को रेखांकित किया। उन्होंने अर्थ से समर्थ भारत की अवधारणा के आधार पर करदाताओं को उचित सेवा हेतु विधिक पहलुओं की जानकारी इस दौरान दी गई। जिसमें मुख्य रूप से निर्धारितियों की सेवा, नवीन तकनीक यथा ई-निवारण, ई-प्रोसीडिंग, ई-सहयोग एवं आयकर सेतु विषय पर भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई है। आयकर कार्यालय में हुए उक्त कार्यक्रम के दौरान विदिशा एवं टैक्सवार एसोसिएशन के सचिव श्री विकास जैन, चार्टर्ड अकाउंटेट एवं टैक्सवार एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री विनोदचंद जैन के द्वारा दिवस की उपयोगिता एवं अवधारणा को रेखांकित किया गया है। इस अवसर पर व्यवसायिकगण मौजूद थे।


जिले मंे 449 मिमी औसत वर्षा हुई

जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर सोमवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि सोमवार को जिले में 1.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 24 जुलाई तक 449 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 680.2 मिमी औसत वर्षा हुई थी। ज्ञातव्य हो कि जिले की सामान्य वर्षा 1075.2 मिमी है। सोमवार को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा एवं ग्यारसपुर में चार-चार मिमी, कुरवाई में 0.8 मिमी, लटेरी में तीन मिमी, नटेरन में दो मिमी वर्षा दर्ज की गई है जबकि बासौदा, सिरोंज और गुलाबगंज तहसील में वर्षा नगण्य रही। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...