बिहार : वार्ड पार्षद महोदय बड़बोल छोड़ महादलितों का मकान बनवा दें

ward-commissioner-please-make-home
दानापुर। वार्ड पार्षद अशोक कुमार बहुत ही बड़बोल निकले। उन्होंने नासरीगंज बिस्कुट फैक्ट्री  रोड के महादलित मुसहर समुदाय को 'चूहा' करार दिया। अभी-अभी वार्ड पार्षद बने हैं अशोक कुमार।  नगर परिषद दानापुर निजामत के वार्ड नम्बर-33 के.पार्षद हैं। वार्ड पार्षद अशोक कुमार के अनुसार वार्ड की जनसंख्या 8 हजार है। यहां पर एकमात्र मुसहरी है। नासरीगंज बिस्कुट फैक्ट्री वाले मुख्य मार्ग के किनारे निर्मित मकान में रहते हैं महादलित मुसहर समुदाय के लोग। इनकी समस्या को लेकर वार्ड पार्षद गंभीर नहीं हैं। जब वार्ड पार्षद से वार्ड नं.- 33 की समस्याओं के बारे में जानकारी मांगी गयी, तो उन्होंने कहा कि जल निकासी की समस्या है। इसे दूर करने के लिये चैम्बर की सफाई करायी गयी है। वहीं नाला उड़ाही की गयी। इतना कहकर खामोश हो गये। मुसहरी में मुसहर जर्जर भवन में रहते हैं। जगह नहीं रहने के कारण वहां घर के अंदर घर और घर के बाहर घर में दुबककर लोग रहते हैं। आवासीय और परिवेशीय सुधार के बारे में पार्षद कहते हैं कि इंदिया आवास योजना के तहत घर बनाने का प्रयास होगा। नगर में राजीव गांधी आवास योजना से मकान और शौचालय निर्माण होता है। अभी 5 अधूरा शौचालय निर्माण किया गया है। इसे पूरा करने को कहा गया है। इसमें सहयोग कर रहे हैं। इस पर तब जाकर सुधार किये और पार्षद ने कहा कि दानापुर के अनुमंडल पदाधिकारी के पास आवेदन कर मकान बनाने का आग्रह करेंगे। इस बीच पार्षद ने कहा कि घर बनाने का प्रयास पूर्व पार्षद ने किया था। मुसहरों के पास लेटर गया कि आप लोग घर से हट जाये, मकान बनेगा। 3 साल पहले की बात है। मुसहर समुदाय समझे कि जमीन कब्जा कर लेंगे। सभी 'चूहा' हैं। इसी तरह का व्यवहार करते हैं। इससे हटकर उन्होंने आगे कहा कि नगर परिषद दानापुर निजामत की चेयरमैन अन्नु कुमारी और डिप्टी चेयरमैन राजकिशोर सिंह के समक्ष मुद्दा को उठाएंगे। अगस्त माह के प्रथम हफ्ता में बैठक है। अब देखना है कि 5 साल के अंदर किस साल मकान बनवा पा रहे हैं?

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...