मधुबनी : बच्ची के परवरिश को लेकर लोक शिकायत निवारण में मामला दर्ज

  • मामला - बंध्याकरण आपरेशन के दो साल बाद हुआ बच्ची का जन्म  

aplication-for-adoptation-madhubani
अंधराठाढी/मधुबनी (मोo आलम अंसारी)अंधरागोठ  गाँव की अर्चना देवी  पति शेखर राम ने लोक शिकायत निवारण में एक मामला दर्ज करवाई है .वह महादलित धनकर जाति की है .उसकी शिकायत है कि बंध्याकरण ओपरेशन के बाबजूद दो साल बाद वह एक बच्ची को  जन्म दी .उसकी मांग है कि बंध्याकरण ओपरेशन के बाद पैदा हुयी बच्ची के लालन पालन पढाई लिखाई का भार सरकार ले . वताते चले की अर्चना देवी पहले से तीन बच्चो की माँ थी।उसने  स्थानीय रेफरल अस्पताल में 25 जुलाई 2013 को बंध्याकरण ऑपरेशन करवाया  था  । ओपरेशन के दो साल बाद उसने  13मई  2015  को उसी रेफरल अस्पताल में फिर से एक बच्ची को  जन्म दिया । अर्चना देवी का मानना  है कि आपरेशन सही ढंग से हुआ होता  तो वह गर्भधारण नही करती . बच्ची के  जन्म के बाद वह कई बार अस्पताल प्रशासन  से  मिल चुकी है।उनका आरोप है की अस्पताल प्रशासन इसे  प्रकृति की  करिश्मा बताते हुए अब तक टाल मटोल करता रहा है . सरकारी प्रावधान के तहत ओपरेशन के बाद होने बाले बच्चे के परवरिश पढ़ाई लिखाई शादी विवाह अदि की जबाब देही सरकार पर होती है.  कहते है सिविल सर्जन डॉ अमरनाथ झा ने पूछने पर बताया कि इस तरह के मामले में पीडिता को क्षतिपूर्ति राशि देने का प्रावधान  है . शिकायत आने पर जाँच की जाती  है. सच साबित होने पर बिभाग और सरकार को अनुशंसित  प्रतिवेदन भेजा जाता है . अब तक इस आवेदिका की शिकायत उनके संज्ञान नही लाया गया है .   

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...