‘भारत छोड़ो’ के सिद्धांतों पर चुनौतियों को परास्त करेगी कांग्रेस

congress-will-defeat-challenges-on-quit-india
नयी दिल्ली, 08 अगस्त, कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था कांग्रेस कार्य समिति ने भारत छोड़ो आंदोलन के समय की कांग्रेस के सिद्धांतों का स्मरण करते हुए आज कहा कि वर्तमान परिवेश में देश में भय तथा हिंसा का वातावरण पैदा किया जा रहा है और पार्टी अपने परंपरागत मूल्यों का पालन करते हुए उसे परास्त करेगी। बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि कार्य समिति में देश के वर्तमान हालात पर चिंता व्यक्त की गयी और भारत छोड़ो आंदोलन के समय की कांग्रेस के सिद्धांतों के अनुरूप ही वर्तमान चुनौतियों से लड़ने का प्रस्ताव पारित किया गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हिंसा के सामने कभी हार नहीं मानी और न ही सिर झुकाया है। इसलिये हमेशा अपने सिद्धांतों का पालन करते हुए इन स्थितियों को मुकाबला करेगी और अपने सिद्धांत पर अडिग रहेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए आठ अगस्त को विशेष दिन करार दिया और कहा कि आज के ही दिन 75 साल पहले महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो का आह्वान किया था। स्वतंत्रता सेनानियों ने ‘करो या मरो’ के सिद्धांत को अपनाया था और उसी के बाद उस समय की कांग्रेस कार्य समिति के सभी सदस्यों को जेल भेज दिया गया था। इनमें से कई सदस्यों के साथ ही कांग्रेस के असंख्य कार्यकर्ता तीन साल तक दूसरे विश्वयुद्ध की समाप्ति तक जेलों में ही रहे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...