दुमका (झारखण्ड) की हलचल 23 अगस्त

चलन्त लोक अदालत सह विधिक जागरुकता शिविर का आयेाजन

dumka news
झालसा राँची के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकार, दुमका के तत्वावधान में दिन बुधवार (23 अगस्त 2017) को सुमेश्वर नाथ मंदिर (सरैयाहाट) प्रांगन में चलन्त लोक अदालत सह विधिक जागरुकता शिविर का आयेाजन किया गया। इस अवसर पर शिविर में अधिवक्ता विक्रमादित्य पाण्डेय द्वारा जहाँ एक ओर एफआईआर, मोटर अधिनियम, महिला उत्पीड़न, व अन्य से संबंधित जानकारी दी गई वहीं अध्विक्ता मंटू मुर्मू द्वारा मध्यस्था, प्ली, बार्गेंनिंग, के संबंध में विशेष जानकारी दी गईं। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार, दुमका के सहायक जितेन्द्र मंण्डल ने जिला विधिक सेवा प्राधिकाकर द्वारा दी जाने वाली सहायता व निःशुल्क सुविधाओं से मौके पर मौजूद लोगांे को अवगत कराया। इस शिविर में पंचायत सचिव अजीत कुमार दा, चुड़का मराण्डी, सुधीर कुमार पंडित, दीबू चन्द्र मांझी, रोबिन हेम्ब्रम, राजेश पाठक, रोजगार सेवक राजेश चैधरी, नकुल हरिजन, पीएलवी अजय कुमार यादव, बैजू लाल मुर्मू व न्यायालय कर्मी मो0 खुर्शीद आलम उपस्थित थे। मालूम हो चलन्त लोक अदालत सह विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन कर नियमित रुप से ग्रामीण क्षेत्रों में लोगांे को विधिक संबंधी जानकारी के साथ-साथ उनमें जागरुकता का कार्यक्रम निरंतर संचालित है। 


डीसी सह डीईओ ने ईआरओ नेट की साॅफटवेयर लांचिंग की

dumka news
उपायुक्त दुमका मुकेश कुमार ने दिन बुधवार (23 अगस्त 2017) को सूचना भवन सभागार, दुमका में ईआरओ नेट की साॅफटवेयर लांचिंग की। ईआरओ नेट एक ऐसा प्लेटफाॅर्म है जिससे पूरे देश के सभी निर्वाचक निबंधक पदाधिकारी एक दूसरे से जुड़े रहेंगे। यह पूर्णतः उपयोग हेतु सुरक्षित है तथा निर्वाचन से संबंधित कोई भी पदाधिकारी इसके द्वारा क्लोज माॅनिटरिंग कर सकते हैं। ईआरओ नेट के माध्यम से वोटर अपना आवेदन पूर्णतः आॅन लाईन तथा आॅफलाईन जमा कर सकते हैं। बीएलओ, सुपरवाईजर, एईआरओ, ईआरओ, बीईओ के चेन सिस्टम के माध्यम से प्राप्त आवेदन को निष्पादित किया जायेगा। निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी अपने विधान सभा क्षेत्र के वोटर को किसी अन्य विधान सभा क्षेत्र में स्थांतरण (प्रपत्र-8।) के माध्यम से कर सकते हैं। ईआरओ नेट वेब बेस्ड सिस्टम है जिसके अन्तर्गत कोई भी व्यक्ति बड़े ही आसानी से अपने आवेदन के बारे में आॅनलाईन जान सकता है। इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि समय बदल रहा है लोगों को भी बदलना होगा। डिजिटल इंडिया के दौर में सभी को डिजिटल होने की जरूरत है। मुश्किलें और परेशानियां हैं लेकिन असंभव नहीं। उन्होंने कहा कि डिजिटाईजेषन से कोई भी कार्य जल्द और पारदर्षी तरीके से किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि ईआरओ नेट के माध्यम से कोई भी व्यक्ति अपने वोटर कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है तथा आवेदन के बाद वोटर कार्ड की स्थिति को लगातार आॅनलाईन माध्यम से जान सकता है। आॅन लाईन आवेदन से पारदर्षिता बढ़ेगी तथा सारी प्रक्रिया को आॅनलाईन एक्सेस के माध्यम से जाना जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति एक से अधिक वोटर कार्ड नहीं रख सकता है। लेकिन कई ऐसे लोग भी हैं जिनके पास अलग अलग जगहों के वोटर कार्ड हैं। आॅन लाईन हो जाने से डुब्लिकेषन तथा इन सब चीजों पर रोक लगेगी। उपायुक्त ने कहा कि ईआरओ नेट का उद्देष्य इलेक्ट्रोल रोल का प्यूरिफिकेशन करना है। 2019 तक सभी जिलों को आॅप्टिकल फाईवर से जोड़ने की दिषा मंे सरकार लगातार कार्य कर रही है। प्रज्ञा केन्द्र की पहुंच गांव-गांव तक हो चुकी है। कोई भी सुदूर गांव में रहने वाला व्यक्ति भी प्रज्ञा केन्द्र के माध्यम से आॅन लाईन आवेदन कर सकता है। ईआरओ नेट के माध्यम से ना सिर्फ आवेदन बल्कि षिकायतों का भी निष्पादन त्वरित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि आॅनलाईन आ जाने से आॅफ लाईन को तुरंत बंद नहीं किया जायेगा। वैसे जगह जहां इन्टरनेट की सुविधा नहीं है वहां आॅफ लाईन आवेदन आवेदक कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हम सभी को मेहनत और लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। डिजीटल साक्षरता को जन-जन तक पहुँचाने हेतु पीएमजीदिशा कार्यक्रम को एक अभियान के रूप में दुमका जिले में संचालित किया जा रहा है। इस योजना के तहत जिले के 23817 व्यक्तियों का पंजीकरण किया गया है, जो राज्य भर के सभी जिलों में सर्वाधिक है। झारखण्ड के 24 जिलों में दुमका नम्बर 1 पर है। कोई भी कार्य टीम के भावना से करें तो सफलता जरूर मिलती है। उन्होंने कहा कि जहां चाह है वहां राह है। अनुमंडल पदाधिकारी जयप्रकाश झा ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर उप निर्वाचन पदाधिकारी, भूमि सुधार उपसमाहर्ता, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी, भू अर्जन पदाधिकारी, राजनितिक दलों के प्रतिनिधिगण व  प्रिंट/ इलेक्ट्रोनिक मीडिया के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

विकास कार्यों में कोताही न बरतें-डीसी

समाहरणालय सभागार दुमका में दिन बुधवार (23 अगस्त 2017) को तकनीकी पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में डीसी दुमका मुकेश कुमार ने पदाधिकारियों को कई महत्त्वपूर्ण निर्देश दिए। अधिकारियों से कहा कि विकास कार्यों में किसी प्रकार की कोताही न बरतें। सरकार की योजनाओं का लाभ समाज में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे, इसका ख्याल रखें। डीसी श्री कुमार ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया की सड़क निर्माण में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि कैंप लगाकर पेंशन एप्लीकेशन जेनरेट करें ताकि अधिक से अधिक लोगों को लाभ मिले। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को निर्देश दिया कि सुदूर क्षेत्र जैसे बिछिया पहाड़ी ओड़मों में मेडिकल कैंप लगाकर स्वास्थ्य जांच करें। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि आमतल्ला में स्वास्थ्य उपकेंद्र के निर्माण हेतु विभाग को पत्र भेजा गया है तथा जल्द ही कार्य शुरू किया जाएगा। साथ ही लालगंज पीएचसी के मरम्मत का कार्य भी जल्द शुरू किया जाएगा। उपायुक्त ने कौशल विकास के क्षेत्र में कार्य करने का निदेष संबंधित अधिकारी को दिया। डीसी ने मनरेगा से निर्माण किये गये डोभा को क्रॉस चेक करने का निदेश संबंधित अधिकारी को दिया। उन्होंने कहा कि फोकस एरिया में विकास कार्यों में तेजी लाएं। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि गोपीकांदर, काठीकुण्ड में शौचालय निर्माण का कार्य पूरा कर लिया गया है तथा जनवरी 2018 तक पेयजल भी सुनिश्चित कर दी जाएगी। उपायुक्त मुकेश कुमार ने कहा कि अधिकारी फोकस एरिया में स्वयं जायें तथा वहां चल रहे विकास कार्यों को देखें। उपायुक्त ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि रुपे कार्ड, केसीसी अटल पेंशन योजना के लाभुक बनाएं तथा फोकस एरिया के लोगों को भी जोड़ें। उपायुक्त ने कहा कि जरमुंडी में ब्लॉक बिल्डिंग का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी गांव को सामुदायिक पट्टा दिया जाएगा तथा वैसे गांव जहां आंगनवाड़ी केंद्र नहीं है वहां जल्द से जल्द आंगनवाड़ी केंद्र खोला जाएगा। डीसी दुमका ने सभी बैंक अधिकारियों को निदेश दिया कि 1 से 10 तक के सभी सिक्के वैध है अधिकारी कोई भी सिक्का लेने से इनकार ना करें। उपायुक्त ने सभी थोक विक्रेता एवं खुदरा विक्रेता से यह अपील किया है कि वे 1 से 10 तक को कोई भी सिक्का लेने से इनकार ना करें। सिक्का लेने से इनकार करते हुए पकड़े जाने पर कठोर कानूनी कार्रवाई की जायेगी। बैठक में दुमका के उप विकास आयुक्त शशिरंजन, निदेशक डीआरडीए दिलेश्वर महतो, सिविल सर्जन विनोद कुमार साहा, समाज कल्याण पदाधिकारी श्वेता भारती एवं विभिन्न विभाग के तकनीकी पदाधिकारी उपस्थित थे।


वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिये उपायुक्त ने की जिले के सभी 10 प्रखण्डों की समीक्षा 

dumka news
दुमका के उपायुक्त मुकेश कुमार ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिये जिले के सभी 10 प्रखण्डों की समीक्षा की। वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रखंड स्तर पर चल रहे विकास कार्यों यथा शौचालय निर्माण, मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना इत्यादि की समीक्षा उपायुक्त ने की। उपायुक्त मुकेश कुमार ने कहा कि प्रति सप्ताह वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अब जिलास्तर से प्रखण्डों व अंचलों के पदाधिकारियों के साथ समीक्षा की जायेगी। विडियो काॅन्फ्रेंसिंग में जिलास्तर से उप विकास आयुक्त शशिरंजन, प्रशिक्षु आईएएस, निदेशक, डीआरडीए, चन्द्रषेखर पाण्डेय, परियोजना पदाधिकारी, दुमका आदि उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...