स्मार्ट मीटर की रीडिंग लेने घर पर नहीं आएगा बिजली कर्मी

electric-staff-will-not-come-home-to-take-the-readings-of-smart-meters
नयी दिल्ली, 10 अगस्त, सरकार ने आज कहा कि देश में बिजली चोरी रोकने तथा बिजली कर्मियों पर काम का बोझ करने के लिए स्मार्ट मीटर लगाए जा रहे हैं जिनकी रीडिंग लेने के लिए बिजली कर्मी को घर पर आने की जरूरत नहीं होगी। बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में एक पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि बिजली उपभोक्ताओं के यहां स्मार्ट मीटर लगाया जाएगा जिसकी रीडिंग लेने के लिए बिजलीकर्मी को घर पर आने की जरूरत नहीं होगी। मीटर की रीडिंग सीधे बिजली विभाग के पास जाएगी। उन्होंने कहा कि अभी इस मीटर की कीमत करीब 15000 रुपए है लेकिन उनके मंत्रालय ने विभिन्न कंपनियों के साथ संपर्क किया है और मीटर की कीमत कम करने के लिए इसे कुछ सरल बनाया गया है। इसकी वजह से यह मीटर अब 1500 से 2000 रुपए तक की दर पर उपलब्ध है लेकिन सरकार का प्रयास इसकी दर एक हजार रुपए से कम करने की है। श्री गोयल ने कहा कि स्मार्ट मीटर बहुत मंहगे हैं इसलिए इनको लगाने की प्रक्रिया अभी शुरूआती स्तर पर है लेकिन इस दिशा में तेजी से काम चल रहा है और उत्तर प्रदेश सरकार ने 40 लाख स्मार्ट मीटर खरीदने के आदेश दिए हैं। इसी तरह से हरियाणा सरकार ने भी 10 लाख स्मार्ट मीटर खरीदने के आदेश दिए हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...