पुलवामा में फियादीन हमले में आठ जवान शहीद, तीन आतंकवादी ढ़ेर

fidayeen-attack-8-personnel-2-militants-killed-in-pulwama
श्रीनगर, 26 अगस्त, दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले की पुलिस लाइन पर आज तड़के हुए फिदायीन हमले में सुरक्षाबल के आठ शहीद हो गये और पांच अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं। इस हमले में तीन आतंकवादी भी मारे गये हैं। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के प्रवक्ता ने बताया कि शहीद होने वालों में सीआरपीएफ के चार जवान और जम्मू-कश्मीर पुलिस के चार सिपाही शामिल हैं। हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। फिदायीन हमले के बाद से 18 घंटें तक चली मुठभेड़ ई ब्लॉक में छिपे एक आतंकवादी के मारे जाने के बाद समाप्त हो गयी। कश्मीर घाटी में सुरक्षाबलों के आतंकवादियों के खिलाफ चलाये गये “ऑपरेशन ऑल आउट” के बाद यह पहला फिदायीन हमला है। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हमले की कड़ी निंदा की है। सुश्री मुफ्ती ने हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी है तथा उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। प्रवक्ता ने बताया कि प्रभावित क्षेत्र में अफवाहों को फैलने से राेकने के लिए एहतियात के तौर पर सुबह से ही भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) और अन्य सभी सेल्यूलर कंपनियों की मोबाइल इंटरनेट सेवाएं स्थगित कर दी गयी हैं। प्रवक्ता के अनुसार तड़के तीन बजकर 45 मिनट पर फिदायीन हमलावरों का एक समूह ने सुरक्षाकर्मियों पर ग्रेनेड फेंकते और गोलीबारी करते हुए पुलवामा की जिला पुलिस लाइन(डीपीएल) में घुस गया। इस हमले में सीआरपीएफ के चार जवान और चार पुलिसकर्मी घायल हो गयेेे। उन्हें तत्काल स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान इम्तियाज अहमद शेख नामक एक पुलिस सिपाही ने दम तोड़ दिया। अन्य घायल जवानों को बेहतर इलाज के लिए श्रीनगर स्थित 92 सेना के अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक इलाज के दौरान सीआरपीएफ की 183वीं बटालियन के कांस्टेबल जसवंत सिंंह, 182वीं बटालियन के हेड कांस्टेबल डी रवीन्द्र बबन ने भी दम तोड़ दिया है। सीआरपीएफ के दो और एक पुलिस कांस्टेबल ने शाम में दम तोड़ दिया। इस माह सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में सात घुसपैठिए समेत 23 आतंकवादी मारे गये। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...