सरकार संरक्षित घोटाला है सृजन : पप्पू यादव

government-saving-srijan-scam-pappu-yadav
भागलपुर 22 अगस्त, जन अधिकार पार्टी (जाप) के संयोजक एवं सांसद राजेश रंजन यादव उर्फ पप्पू यादव ने करोड़ों रुपये के बहुचर्चित सृजन घोटाले को सरकार संरक्षित घोटाला बताया और कहा कि भ्रष्टाचार पर ‘जीरो टॉलरेंस’ का दावा करने वाली राज्य की नीतीश सरकार भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने में लगी है। श्री यादव ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सरकारी राशि का घोटाला करने वाला भागलपुर का गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड की ओर से उपलब्ध सुविधाओं का उपभोग उनकी पार्टी को छोड़कर प्रायः सभी दलों के नेताओं ने किया है। इस संस्था में जमा गरीबों का पैसा यदि उनलोगों को नहीं मिला तो वे आंदोलन करेंगे। उन्होंने उच्चतम न्यायालय की देख-रेख में एक निश्चित समय-सीमा के अंदर पूरे मामले की जांच कराने की मांग की। जाप संयोजक ने आरोप लगाया कि सृजन घोटाले का पूरा लाभ नीचे से ऊपर तक के सभी जनप्रतिनिधियों ने लिया है। चाहे वह प्रखंड प्रमुख हो या विधानसभा एवं विधान परिषद के सदस्य। साथ ही छोटे से लेकर बड़े अधिकारियों तक गबन की राशि से लाभान्वित हुए हैं। इस मामले में जिलाधिकारी दोषी पाये गये लेकिन सरकार ने उन्हें अभी तक नहीं हटाया है। इससे जाहिर होता है कि सरकार भष्टाचार को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने वर्तमान एवं पूर्व जिलाधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग करते हुए दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता विपिन शर्मा ही सृजन कर्मियों से मिलकर बड़े लोगों को हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराते थे। श्री यादव ने बिहार के 18 जिलों में आई भीषण बाढ़ से प्रभावित इलाकों में चल रहे राहत कार्य में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी होने का आरोप लगाते हए कहा कि बाढ़ राहत के नाम पर काफी गड़बड़ियां हो रही है। उन्होंने कहा कि भले ही अभी सृजन घोटाले की चर्चा हर ओर हो रही है लेकिन बहुत जल्द ही राज्य में ‘बाढ़ घोटाला’ सामने आएगा, जो सृजन से भी बड़ा होगा। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...