झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 23 अगस्त

कुंदन भट्टी मे तप पर ही शुद्धता प्राप्त करता है उसी प्रकार आत्मा तप के द्वारा ही कर्म रहित बनती है- आचार्य देवेश ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा
  • भगवान का जन्म कल्याणक पर्व उत्साह के साथ मनाया गया, शोभायात्रा का नगर मे जगह जगह गहूली कर किया गया स्वागत

jhabua news
झाबुआ । भगवान महावीर का सन्देश चहूं और आलोकित हो चुका, पर्यूषण पर्व का संयोग सोने में सुहागा सा बन गया, सत्य,धर्म,शांति,प्रेम,अहिंसा,अचैर्य का महिमा का साक्षात्कार हो रहा, उपासना एवं तपस्या का नदी प्रवाह सा दौर बन रहा । नगर के पंच जिनालयों में भगवान साक्षात बिराजित हेै , आचार्य श्री के सानिध्य में सिद्धीतप सहित तपस्या से माहौल सराबोर हो रहा । चातुर्मास एवं पर्यूषण पर्व के संयोग के बीच ही महान पवित्र दिवस भगवान के जन्म कल्याणक पर्व का आया । चातुर्मास हेतु बिराजित आचार्य देवेश श्रीऋषभदेवचन्द्रसूरीजी मसा ने श्रावक श्राविकाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अहिंसा, सत्य, अचैर्य, ब्रह्मश्चर्य एवं अपरिग्रह के महाव्रतों को तीर्थकर महावीर स्वामी जी ने जन जन के कल्याण के लिये हमे उपहार मे दिये है । इन महाव्रतों को अंगीकार करके जीव अपनी आत्मा का कल्याण कर मोक्ष सुख को प्राप्त कर सकता है । भगवान महावीर स्वामी ने साधु साध्वी, श्रावक श्राविकाओं में चार प्रकार के धर्म मार्ग की स्थापना की । इसमे साधु साध्वियों के लिये 5 महाव्रत एवं श्रावक श्राविकाओं के लिये 12 व्रतों को अंगीकार करने को बताया गया हे । इन व्रतों एवं महाव्रतो  को धारण कर मनुष्य अपने जीवन को सदगति में ले जासकता है । तीर्थंकर महावीर स्वामी ने अनेकान्तवाद एवं स्याद्ववाद के मुख्य सिद्धान्तों को बताया। ये सिद्धांत आज भी प्रासंगिक है । उक्त प्रवचन महापर्व पर्यूषण के पांचवे दिन श्री कल्पसूत्र जी का वाचन करते हुए बावन जिनालय मतें महती धर्म सभा को संबोधित करते हुए आचार्य देवेश श्री ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा ने कही । कल्पसूत्र में भगवान महावीर स्वामी के जीवन चरित्र को बताते हुए आचार्य श्री ने भगवानकी माता त्रिशलाजी द्वारा देखे गये 14 स्वप्नो का वर्णन किया । इस अवसर पर धर्म चर्चा में मुनिप्रवर श्री रजतचन्द्रविजय जी मसा ने संबोधित करते हुए कहा कि जैन मान्यता के अनुसार तीर्थंकर के जन्म के समय उनकी माता को किसी प्रकार की पीड़ा नहीं होती थी और न ही उनके शरीर का रूपांतरण होता था। अंतः वह घड़ी आ गई। चैत्र शुक्ल त्रयोदशी को भगवान का जन्म हुआ।महावीर जब युवा हो गए तो उनका कद 7 हाथ ऊंचा था। शरीर पर चक्र, स्वस्तिक, तारामंडल, सूर्य, चंद्र आदि 1008 शुभ मांगलिक लक्षण सुशोभित थे। निर्मल शरीर स्वेद (पसीना) रहित और सुगंधीयुक्त था। भगवान महावीर का जीवन ही सबके लिये सन्देश है । जिसने भगवान महावीर को आत्मसात कर लिया वह भगवान महावीर के समतुल्य बन जाता है । जैन श्रीसंघ के रिंकू रूनवाल ने  बताया कि महावीर जन्म कल्याणपर्व मंदिरजी में पूरी श्रद्धा भक्ति के साथ भव्य पैमाने पर मनाया गया । श्री संघ के अध्यक्ष धर्मचन्द्र महेता द्वारा गुरूवंदन की विधि संपन्न कराई कई । इसके पश्चात जन्म कल्याण का वाचन कियागया । कार्यक्रम के पूर्व  आचार्य श्री ने माता त्रिशला द्वारा देखे गये हाथी, वृषभ,सिंह,लक्ष्मीजी,फुलकीमाता,चन्द्रमा,सूर्यघ्वजा,पूर्ण कलश, पद ्म सरोवर, क्षीरसागर, देवविमान,रत्नों की राषि एवं निर्धुम अग्नि आदि के चढावे बोले गये जिसमें श्री संघ के सदस्यों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया । ज्ञान पूजा का लाभ दिलील संघवी परिवार एवं कमलाबेन राठौर परिवार ने लिया । लक्ष्मीजी का चढावा कमलेश कोठारी परिवार ने लिया । इस अवसर पर 14 सपनाजी को बधाकर एवं तिलक लगा कर श्री संघ की सुश्राविकाओं ने सभी लाभार्थी परिवार की श्राविकाओं को प्रदान किये । जन्म वाचन के पश्चात मे झालर बजाकर प्रभू जन्मोत्सव की सूचना दी गई । प्रभूजी को पालने मे बिठाकर लाभार्थी परिवार ने सर्व प्रथम झुलाया । पूरा मंदिर परिसर भगवान महावीर स्वामी के जय जय कारों से गुंज उठा । श्रद्धालुजन जन्मोत्सव के हर्ष मे नृत्य करने लगे एवं एू दूसरों को मंगल बधाई दी गई । श्रीफल बदारकर एवं मिठाई खिलाकर सुक्षीया मनाई गई । देवझिरी तीर्थ पर आदिनाथ मणीभद्र राजेन्द्र जेन मंदिर भगवान आदिनाथ का जन्म कल्याणक पर्व 14 सपनोंजी की स्थापना के साथ श्रद्धा के साथ मनाया गया ।


भगवान महावीर की भव्य शोभायात्रा निकाली
भगवान के जन्मोत्सव के पश्चात भगवान महावीर स्वामी की भव्य रथयात्रा निकाली गई जिसमें भगवान महावीर स्वामी को रथ मे बिराजित किया गया था । भगवान के रथ के सारथी के रूप में बिराजित दोनों और छोटे बच्चों द्वारा चंर ढुलाया जारहा था । श्री संघ के श्रावकगण द्वारा सभी को केशरिया छापे लगाये गये । रथ यात्रा में युवावर्ग द्वारा भगवान महावीर स्वामी के मूल सिद्धांतज ीयो और जिने दो, माता त्रिशलानन्दन का लाडला, जय महावीर, वंदे वीरं आदि नारे लगा रहे थे वही महिलायें मंगलगीत गा रही थी । जगह जगह भगवान के सम्मुख श्री संघ के सदस्यों द्वारा अक्षत श्रीफल से गहूली की गई । भगवान के पंचकल्याणक पर्व के अवसर पर आचार्य देवेश की उपस्थिति में निकली भव्य शोभायात्रा के अवसर पर सांसद कांतिलाल भूरिया पूरे समय शोभायात्रा मे साथ रहे तथा  धर्मलाभ प्राप्त किया ।रथयात्रा को युवा वर्ग द्वारा ख्ंिाचा जारहा था ।नगर के प्रमुखमार्गो से होते हुए शोभायात्रा मंदिरजी मे पहूंचे वहां प्रभूजी की चैत्य वंदन आचार्य देवेश के द्वारा करवाइ्र्र गई । इसके बाद लाभार्थि परिवार द्वारा आदिनाथ भगवान की जन्म की आरती अशोक, राजेन्द्र, समरथमल राठौर परिवार ने, केशरिया नाथ भगवान की मनोज संदीप जैन नेताजी परिवार द्वारा, महावीर स्वामी भगवान की सुभाष कोठारी परिवार द्वारा, मंगल दीपक प्रमोद भंडारी परिवार द्वारा लाभ लिया गया, गौतम स्वामी एवं गुरूदेवी राजेन्द्र सूरीजी की आरती काक लाभ राजेन्द्रकुमार गंेदालाल रूनवाल परिवार, नमस्कार महामंत्र की योगेश जैन परिवार ने , एवं मणीभद्र जी की आरती का लाभ सुभाष कोठारी परिवार द्वारा लाभ लिया गया । श्रीमती श्यामुबेन रूनवाल परिवार द्वारा पंजेरी वितरण का लाभ लिया गया । इस अवसर पर भगवान की आकर्षक अंग रचना की गई तथा मंदिर को दुल्हन की तरह सजाया गया ।

पयूषर््ाण पर्व के छटवे दिन भी बही ज्ञान एवं धर्म की गंगा
सूरज तपकर ही संसार को उजाला एवं उर्जा देता है, अग्नि स्नान किये बगैर घडा पानी भरने योग्य नही बनता है । कुंदन भट्टी मे तप पर ही शुद्धता प्राप्त करता है उसी प्रकार आत्मा तप के द्वारा ही कर्म रहित बनती है । तपस्या से आत्मा निर्मल बन कर मौक्ष के शाश्वत सुख को प्राप्त करती है । भगवान महावीर स्वामी ने भी तपके माध्यम से केवल्यज्ञान की प्राप्ति की । उक्त उदबोधन पर्यूषण पर्व के छठवें दिन श्री ऋषभदेव बावन जिनालय मे महती धर्मसभा को संबोधित करते हुए आचार्य देवेश ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा ने महती धर्मसभा कल्पसूत्र का वचान करते हरते हुए करते हुए कहीं । आचार्य देवेश ने कहा कि महावीर स्वामी भगवानतीन नाम से प्रसिद्ध हुए प्रथम नाम माता पिता द्वारा प्रदत्त’’ वर्धमान’’ दूसरा राग द्वेष रहित तपस्या में कष्ट सहन करने से प्राप्त नाम ’’श्रमण’’ उत्कृष्ट परिषद सहन कर चारित्र पालन में तत्पर ऐसे वीरत्व गुणो से देवताओं द्वारा प्रदत्त नाम ’’ महावीर’’ से तीन नाम ही 24 वे तीर्थंकर से प्रभू प्रसिद्ध हुए । इस अवसर पर मुनि श्री जनकचन्द्र विजय जी ने कल्पसूत्र का वाचन करते हुए महावीर स्वामी के जन्मोत्सव एवं 64 इन्दो द्वारा अभिषेक का वर्णन किया । प्रभू ने दीक्षा के प्श्चात साढे बारह वर्ष तक घोर तपस्या कर कैवल्यज्ञान की प्राप्ति कर चजुर्विद संघ की स्थापिना की । प्रभू वीर के 11 गणधर थे, 14 हजार साधु, 36 हजार साध्वियों को दी दी । प्रभू ने 1 लाख 59 हजार श्रावक एवं 3 लाख 18 हजार श्राविकाओं को व्रत अंगीकार करवाये एवं करोडो जीवों को धर्म के मार्ग के जोडा और अपनी आत्मा का कल्याण कर 72 वर्ष की आयुष्य पूर्ण कर मोक्ष पधारे ।

मासक्षमण की उग्र तपस्या कर रहे तपस्वी
मास क्षमण की कठोर 31 उपवास की तपस्या मे श्रेयांश मेहता, दिलीप संघवी, एवं अशोक कोठारी ने बुधवार तक 28 उपवास के पच्चखणा परम पूज्य आवार्य देवेश ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा से ग्रहण किये । साथ ही 75 सिद्धी तप के तपस्वी, चत्तारी तप एवं 100 से अधिक 16,11 एवं 8 उपवास के तपस्वी तप आराधना कर रहे है । वही सिद्धी तप में मुनि जीतचन्द्रविजयजी मसा एवं साध्वी अनुभवदृष्टाश्रीजी तथा वर्धमान तप 52 वीं ओली तपस्या मुनिराज जनकचन्द्रविजय जी मसा द्वारा किये जारहे है ।

लक्ष्मीनगर विकास समिति धुमधाम से मनायेगी गणेशोत्सव, बारह दिनों तक होगें मनोरंजक कार्यक्रम

jhabua news
झाबुआ । मंगलवार रात्री को लक्ष्मीनगर विकास समिति द्वारा 25 अगस्त से 5 सितम्बर तक लक्ष्मीनगर में गणेशोत्सव के आयोजन को लेकर बैठक का आयोजन नीरजसिंह राठौर की अध्यक्षता में किया गया । जिसमें  विनोद शर्मा, हिरालाल पालीवाल, प्रहलाद चैहान, नरेन्द्र पंवार, मुकेश बैरागी, रमेश सोलंकी, प्रदीप सोलंकी, मांगीलाल राठौर, विजय भार्गव, अमृत नायक, अनिल व्यास, राजू नायक अजय शर्मा सहित बडी संख्या में कालोनीवासी उपस्थित थे ।बैठक मे गणेशोत्सव को धुमधाम से मनाये जाने के लिये विचार विमर्श किया तथा 12 दिवसीय गणेशोत्सव आयोजन में 25 अगस्त शुक्रवार को धुमधाम से गणेशजी की स्थापना की जाकर महाआरती एवं प्रसादी वितरण होगा, 26 अगस्त शनिवार को गणेश माला, 27 अगस्त रविवार को निंबु रेस, 28 अगस्त सोमवार को एक निमट प्रतियोगिता, 29 अगस्त मंगलवार को चेयर रेस, 30 अगस्त बुधवार को चित्रकला प्रतियोगिता, 31 अगस्त गुरूवार को खो-खो स्पर्धा, 1 सितम्बर शुक्रवार को भजन एवं राष्ट्रीय गीत प्रतियोगिता, 2 सितम्बर शनिवार को अमृतवाणी महिला भजन, 3 सितम्बर रविवार को बाल चेस प्रतियोगिता, 4 सितम्बर को पारितोषीक वितरण एवं 5 सितम्बर मंगलवार को गणेश विसर्जन का भव्य कार्यक्रम होगा । विसज्रन के दिन लक्ष्मीनगरवासियों को लिये सहभागी होगा हेमेन्द्र टेलर, निखील चैहान, दुर्गेश जोष्ज्ञी, मोहन राठौर को विभिन्न प्रतियोगिता का प्रभारी बनाया गया है ।

प्रदेश क¨ कुप¨षण मुक्त बनाने मिशन मोड में काम करें, प्रदेश के हर विकासखंड में बनेगा न्यूट्रिशन स्मार्ट विलेज

झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह च©हान ने महिला एवं बाल विकास विभाग के फील्ड स्तरीय अधिकारियो से कहा कि प्रदेश क¨ कुप¨षण मुक्त बनाने मिशन मोड में काम करें। संकल्प लें कि प्रदेश से कुप¨षण के कलंक क¨ दूर करेंगे। प्रदेश में इसके लिये संसाधन¨ं की क¨ई कमी नहीं है। उपलब्ध संसाधन¨ं के बेहतर उपय¨ग से लक्ष्य क¨ हासिल करेंगे। प्रदेश के सभी विकासखंड¨ं में अगले एक वर्ष में एक-एक ग्राम क¨ न्यूट्रिशन स्मार्ट विलेज बनाया जायेगा। प्रदेश की विकास दर लगातार दहाई अंक¨ं में है। कृषि विकास दर देश में सर्वाधिक है। प्रति व्यक्ति आय भी लगातार बढ़ रही है। विकास का लाभ आम आदमी तक जब तक नहीं पहुंचता तब तक विकास बेमानी है। विकास का लाभ गरीब¨ं अ©र बच्च¨ं तक पहुंचे, यह सुनिश्चित करना ह¨गा। राज्य सरकार ने बच्च¨ं के लिये कई य¨जनाएं बनायी हैं। मेधावी बच्च¨ं की उच्च शिक्षा में दिक्कत नहीं आये, इसके लिये मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी य¨जना बनायी है। बच्चे प्रदेश अ©र देश का भविष्य हैं। बेहतर य¨जनाअ¨ं के साथ बेहतर क्रियान्वयन की आवश्यकता है। उन्ह¨ंने महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी अधिकारिय¨ं से कहा कि वे अपने कार्य क¨ मिशन मानकर काम करें। बच्च¨ं अ©र महिलाअ¨ं के विकास का काम पवित्र अ©र महत्वपूर्ण है। बेहतर प्रदर्शन करने वाले अधिकारी-कर्मचारी क¨ पुरस्कृत किया जायेगा। अपने प्रदेश क¨ देश में सर्वश्रेष्ठ प्रदेश बनाने के लिये काम करें।


तहसीलदार अ©र नायब-तहसीलदार के रिक्त पद¨ं की पूर्ति, संविदा पर करने की मंजूरी

झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह च©हान की अध्यक्षता में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में तहसीलदार, नायब-तहसीलदार के संभागवार रिक्त पद¨ं की पूर्ति संविदा पर करने का निर्णय लिया गया। संविदा नियुक्ति सशर्त सेवानिवृत्त तहसीलदार एवं नायब-तहसीलदार से की जायेगी। इसमें 65 वर्ष तक की आयु सीमा वाले आवेदन कर सकेंगे। संविदा नियुक्ति के आधार पर तहसीलदार एवं नायब-तहसीलदार क¨ उसी संभाग की सीमा के भीतर नियुक्त किया जायेगा। संविदा नियुक्ति की अवधि में इन्हें संभाग के भीतर स्थानांतरित किया जा सकेगा। शर्त अनुसार संविदा नियुक्ति के लिये आवेदन-पत्र देने वाला अधिकारी सेवानिवृत्ति से 10 वर्ष पहले तक क¨ई विभागीय जाँच प्रचलित ह¨कर दण्डित नहीं हुआ ह¨ अ©र कभी भी ल¨कायुक्त प्रकरण/आपराधिक प्रकरण में दण्डनीय नहीं हुआ ह¨, पात्र ह¨गा। सेवानिवृत्ति के समय प्राप्त कुल वेतन में से पेंशन की राशि घटाकर ज¨ राशि आयेगी, वह राशि संविदा वेतन के रूप में देय ह¨गी।

झाबुआ ब्लाक को अक्टूबर तक खुले में शौच से मुक्त करने का लक्ष्य

झाबुआ । जिले को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए आवश्यक कार्य योजना बनाने के लिए आज 23 अगस्त को कलेक्टर कार्यालय में जिला अधिकारी, बैंकर्स एवं वेण्डर की संयुक्त बैठक आयोजित कर शौचालय निर्माण की कार्यवाही त्वरित करवाने के लिए सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमना भिडे की अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई। बैठक में थांदला के बाद अब झाबुआ ब्लाक को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए प्राथमिकता से कार्यवाही करने के लिए सीईओ जिला पंचायत ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। झाबुआ ब्लाक को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए ग्रामवार जिला अधिकारियों की नियुक्ति सुपरविजन के लिए लगाई गई है। जिला अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रो में भ्रमण कर ग्रामीणों को शौचालय निर्माण करने के लिए प्रेरित करने के लिए निर्देश दिये गये। जन अभियान परिषद के मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता पाठयक्रम अंतर्गत अध्ययनरत विद्यार्थी भी शौचालय निर्माण एवं लोगो को खुले में शौच नहीं करने के लिए प्रेरित करेगे।

ल¨क सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त समस्याअ¨ं पर समयावधि मे कार्यवाही नही करने पर 500 का अर्थदण्ड अधिरोपित, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने की कार्यवाही
     
झाबुआ । ल¨क सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त समस्याअ¨ं पर समयावधि मे कार्यवाही नही करने पर कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर परिषद थांदला श्री अशोक कुमार शर्मा के विरूद्व कार्यवाही करते हुए 500 रूपये का अर्थदण्ड अधिरोपित किया है। ल¨क सेवा गारंटी अधिनियम के तहत नगरीय निकाय के अंतर्गत प्रदायित सेवाओ के  प्रकरण मे पदाभिहीत अधिकारी श्री अशोक शर्मा द्वारा निर्धारित समयसीमा मे निराकरण नही करने पर 500 रूपये अर्थदण्ड अधिरोपित किया है।

भारतीय वायु सेना रैली भोपाल में

झाबुआ । भारतीय वायु सैना में भर्ती के लिए रैली का आयोजन भोपाल में 27 एवं 30 अगस्त को किया जा रहा है। वायु सैनिक चयन केन्द्र-भोपाल से प्राप्त जानकारी अनुसार पात्रता रखने वाले झाबुआ जिले के इच्छुक अभ्यर्थी, 27 अगस्त 2017 को लाल परेड ग्राउण्ड मैदान भोपाल में आयोजित भारतीय वायु सेना रैली में सम्मिलित हो सकते है। भर्ती के लिये लाल परेड मैदान, भोपाल में सुबह 5 बजे से 10 बजे तक टोकन प्राप्त करे। टोकन प्राप्त उम्मीदवार ही परीक्षा में भाग ले सकेगे। इच्छुक आवेदक अपने साथ 07 पासपोर्ट आकार की रंगीन नवीनतम फोटो 02 सफेद रंग के 26 ग 12 से.मी. साइज के लिफाफे, दसवी कक्षा की सनद, बारहवी या समकक्ष का सनद एवं अंक प्रमाण-पत्र, एनसीसी प्रमाण पत्र की मूल प्रति, यदि हो, तो प्राधिकृत अधिकारी द्वारा जारी मूल निवास प्रमाण पत्र, सभी दस्तावेजो की मूल प्रति एवं तीन सेट स्वयं सत्यापित फोटो कापी, रबर,पेन्सिल, पेन अवश्य लाये। भर्ती रैली में कोई आवेदन पत्र आवश्यक नहीं है। सेवारत, सेवा निवृत एवं मृत वायु सेना कार्मिकों के पुत्र भी पात्र है, बशर्ते की माता या पिता उपरोक्त जिले में स्थित यूनिट में कार्यरत हो या मूल निवासी हो, भर्ती रैली केवल अविवाहित युवकों के लिये है। अधिक जानकारी हेतु वायु सैनिक चयन केन्द्र भोपाल के दूरभाष क्रमांक 0755-2661955 पर अथवा वेबसाईट पर लाॅगिन करे।

मिल बांचे मध्यप्रदेश का प्रथम चरण 26 अगस्त 2017 को

झाबुआ । कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने मिल बाॅचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा के लिये बैठक आयोजित की। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री महेशचन्द जैन, वन मण्डलाधिकारी श्री राजेश खरे, जिला समन्वय सर्वशिक्षा अभियान श्री एल एन प्रजापति, समस्त बी.ईओ., बीआरसी, साक्षर भारत के समन्वयक श्री सिकरवार सहित समाजसेवी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर श्री सक्सेना ने निर्देश दिये की मिल बांचे कार्यक्रम का प्रथम चरण 26 अगस्त 2017 शनिवार को आयोजित किया जा रहा है। इसके लिये सभी तैयारियां 24 अगस्त तक पूर्ण कर ली जावे। पंजीकृत वालेन्टीयर किस स्कूल में पहुॅच रहे है, उन्हें इसकी सूचना एवं सहयोग के लिये प्राचार्य शिक्षक तैयारी कर लेवे। स्कूल में व्यवस्थित रूप से लायब्रेरी, छात्र/छात्राओं हेतु पृथक शौचालय, साफ सुथरी किचनशेड इत्यादि भी वालेन्टीयर को दिखाया जावे। वालेन्टीयर लायबे्ररी हेतु पुस्तकें आदि के लिये सहयोग भी कर सकते है। पंजीकृत वालेन्टीयर 30 से 40 मिनट का समय बच्चों के साथ व्यतीत कर सकते है। इस दौरान बच्चों को कहानियों के कुछ अंश/कक्षा से संबंधित पाठय सामाग्री/रूचि कर परिचर्चा इत्यादि के बारे में बता सकते हेै। किसी भी महापुरूष से संबंधित प्रेरक प्रसंग/स्वयं के जीवन से संबंधित प्रेरक जानकारी बच्चो को बताई जा सकती हेै। शिक्षा के प्रति जागरूकता के लिये बच्चो को शिक्षा के अभाव में होने वाली कठिनाईयों को बताया जाये।

एडीएम श्री एस.पी.एस चैहान ने पदभार ग्रहण किया

झाबुआ  । जिले में खरगौेन से स्थानांतरित होकर आये एडीएम श्री एस.पी.एस चैहान ने आज 23 अगस्त को झाबुआ कार्यालय में अपना पदभार ग्रहण कर लिया है।

बुरी नियत से हाथ पकडा
      
झाबुआ। फरि. ने बताया कि खेत में काम कर रही थी कि आरोपी धुमसिंह पिता खुशाल गामड़ निवासी खेडी ने पिछे से आया व बुरी नियत से पकड़ा व चिल्लाने पर भाग गया। प्रकरण में थाना कल्याणपुरा में अपराध क्रमांक 228/17 धारा 354 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

सट्टा लिखते नकदी सहीत आरोपी गीफतार
    
झाबुआ । आरोपी रोहित पिता धनसुुख संघवी उर्फ महेज अरोडा उम्र 32 साल निवासी झाबुआ को अवैध रूप से हारजीत का रूपयें पैसे का दाव लगाकर सट्टा पर्ची लिखते कब्जे से सट्टा पर्ची, लीड, एक मोबाईल व नगदी 5,500 रूपयें जप्त कर गिर. किया गया। प्रकरण में थाना कोतवाली में अपराध क्रंमाक 678/17 धारा 4-क धुत अधिनियम का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

अवैध शराब के दो अपराध पंजीबद्ध
      
झाबुआ। आरोपी विनोद पिता राजु बारिया निवासी नाहरपुरा के अवैध कब्जे से 1485/-रू0 की शराब जप्त कर गिर. किया गया। प्रकरण में थाना पेटलावद में अपराध क्रं0 397/17 धारा 34-ए आब. एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी दिपक पिता मानसिंह डिण्डोर निवासी नाहरपुरा के अवैध कब्जे से 1200/-रू0 की शराब जप्त कर गिर. किया गया। प्रकरण में थाना पेटलावद में अपराध क्रं0 398/17 धारा 34-ए आब. एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

चोरी के दो अपराध पंजीबद्ध
     
झाबुआ । फरि. दिलीप पिता बाला डामोर उम्र 30 साल निवासी ईशगढ़ पिपलिया ने बताया की आरोपी प्रदीप पिता पेट्रीक मण्डोनिया उम्र 25 साल व अन्य-02 निवासी गण ईशगढ़ के द्वारा कुए पर रखी 05 हार्स पाॅवर पानी की विद्युत मोटर चुराकर ले गये। प्रकरण में थाना कल्याणपुरा में अपराध क्रंमाक 229/17 धारा 379 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। फरि. ताहेर पिता कुतुबददीन बोहरा उम्र 30 साल निवासी काकनवानी ने बताया कि आरोपी तानसिंह पिता जलिया पारगी निवासी काकनवानी ने फरि. के घर के पीछे का दरवाजा तोड़कर चोरी करने की नियत से आया था जो बाद में सीसीटीवी कैमरें में दिखाई दिया। प्रकरण में थाना काकनवानी में अपराध क्रंमाक 276/17 धारा 457,511 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।    

यातायात पुलिस ने छात्र-छात्राओ को यातायात के नियम

झाबुआ । पुलिस अधीक्षक महेश चंद जैन के निर्देशन में झाबुआ जिलें में चलायी जा रही यातायात जागरूकता मुहिम के तहत आज दिनांक 23.08.2017 को यातायात पुलिस के उप निरीक्षक आर. एस. मालवीय, आर. 11 राजुसिंह चैहान द्वारा 1. केन्द्रीय विद्यालय झाबुआ 2. शासकीय हाई स्कूल पिपलीया 3. दिव्य करूणा माध्यमिक विद्यालय ईशगढ पिपलिया में कुल 962 छात्र -छात्राओं को यातायात के नियमों का पालन करने हेतु प्रेरित किया गया। लायसेंस किस प्रकार प्राप्त कर सकते है बताया गया साथ ही पैदल रोड पर चलने के नियम बताये गये। आदर्श वाहन चालक के गुणों पर प्रकाश डाला गया। छात्राओं को निडर रहकर छोटी से छोटी घटना को अपनें अभिभावकों, विद्यालय एवं पुलिस को तुरन्त बताकर मदद लेने के सम्बन्ध में समझाया गया। नशे के दुष्प्रभावों की जानकारी दी गई तथा 18 वर्ष तक बालिकाओं को केवल पढने हेतु समझाया गया। यातायात जागरूकता मुहिम लगातार जिलें में जारी रहेगी। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...