एकजुटता मजबूत करने के लिए विपक्षी दलों की बैठक

meeting-of-opposition-parties-to-strengthen-solidarity
नयी दिल्ली 11 अगस्त, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा आज यहां बुलायी गयी विपक्षी दलों की बैठक में 17 दलों के नेता भाग ले रहे हैं जिनमें जनता दल (यू ) के राज्यसभा सांसद अली अनवर शामिल हैं । विपक्षी दलों की एकजुटता को और मजबूत करने की रणनीति पर विचार करने के लिए बुलायी गयी इस बैठक में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी भाग ले रहीं हैं । बैठक में शामिल अन्य नेताओं में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह , राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ,द्रमुक के त्रिची शिवा, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सीताराम येचुरी , भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के डी राजा ,बहुजन समाज पार्टी के सतीश मिश्रा , राष्ट्रीय जनता दल के जयप्रकाश नारायण यादव , समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल , नेशनल कांफ्रेंस के उमर अब्दुल्ला, आईयूएमएल के माेहम्मद बशीर और रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के एन के प्रेमचंद्रन प्रमुख हैं । श्री जयप्रकाश नारायण यादव ने बताया कि उन्होंने बैठक में राजद की ओर से 27 अगस्त को पटना में आयोजित की जा रही ‘ देश बचाओ ,भाजपा भगाओ ’ रैली में शामिल होने के लिए सभी नेताओं को आमंत्रित किया । श्री येचुरी ने कहा कि उन्होंने बैठक में भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों के खिलाफ देश भर में राजनीतिक माहौल बनाने की जरूरत पर जोर दिया1 उन्होंने कहा कि वामपंथी दल इसके लिए जनता के बीच जाएंगे । इस बारे में पूछे जाने पर कि क्या उनकी पार्टी राजद की 27 अगस्त की रैली में शामिल होगी , उन्होंने कहा कि इस बारे में पार्टी की जल्द ही होने वाली बैठक में विचार किया जाएगा । राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी दलों की एकजुटता सामने आयी थी लेकिन इसके बाद जनता यू के बिहार में महागठबंधन से नाता तोडकर भाजपा के साथ सरकार बनाने से इसे झटका लगा था । जनता दल यू के श्री अनवर अली आज की बैठक में शामिल हैं लेकिन वह पार्टी प्रमुख नीतीश कुमार की ओर से इसके लिए अधिकृत नहीं हैं । वह जद यू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के साथ पार्टी के महागठबंधन से अलग होने का विरोध कर रहे हैं ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...