मोदी सरकार की साजिश का पटाक्षेप: कांग्रेस

modi-governments-conspiracy-back-drop
नयी दिल्ली 24 अगस्त, कांग्रेस ने निजता को मौलिक अधिकार करार देने के उच्चतम न्यायालय के फैसले को ऐतिहासिक करार देते हुए आज कहा कि इससे मोदी सरकार की ‘फासीवादी साजिश ’का समय रहते पटाक्षेप हो गया जो निजता को सामान्य अधिकार का दर्जा देना चाहती थी। कांग्रेस प्रवक्ता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और पार्टी के मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यहां पार्टी मुख्यालय में प्रेस ब्रीफिंग में न्यायालय के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि यह संविधान लागू होने के बाद से उच्चतम न्यायालय के अहम फैसलों में से एक है। श्री चिदंबरम ने कहा ,‘देश ने 1947 में आजादी हासिल की थी । उसके बाद से संसद और उच्चतम न्यायालय ने समय -समय पर इसे और व्यापक तथा समृद्ध बनाया । आज हम एक बार फिर अपनी आजादी का जश्न मना सकते हैं” 1मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आने वाले समय में निजता के अधिकार का हनन करने की दूसरी कोशिशें की जाएंगी तथा अन्य चुनौतियां और सवाल खडे होंगे लेकिन “ हम उन चुनौतियों से भी निपट लेंगे।” एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अब इस फैसले के आलोक में समलैंगिकों के अधिकार सम्बन्धी धारा 377 और डाटा हस्तांतरण समेत इसतरह के सभी मामलों पर नये सिरे से विचार करने की जरूरत है । श्री सुरजेवाला ने फैसले को लेकर मोदी सरकार पर कडा प्रहार करते हुए कहा कि यह उसके मुंह पर तमाचा है जो निजता के अधिकार को सामान्य अधिकार का दर्जा देना चाहती थी। फैसले को पथप्रदर्शक करार देते हुए उन्होंने कहा कि इससे फासीवादी साजिश का समय रहते पटाक्षेप हो गया। उन्होंने इस बात पर खुशी जतायी कि न्यायालय ने अटार्नी जनरल के के वेणुगोपाल की दलीलों को खारिज कर दिया और देश की 130 करोड जनता को राहत दी है । उन्होंने बताया कि अटार्नी जनरल ने अपनी दलील में कहा था कि व्यक्ति का अपने शरीर पर भी अधिकार नहीं है । इस बीच कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि न्यायालय के फैसले के बाद मोदी सरकार लोगों की निजी जिंदगी में ताकझांक करने से बाज आएगी। 


Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...