नीतीश ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण

nitish-air-watch-flood
पटना 17 अगस्त, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज गाेपालगंज जिले के साथ ही पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल एवं मोतिहारी तथा पश्चिम चंपारण जिले के बगहा और बेतिया के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। श्री कुमार ने पश्चिम चंपारण जिले में आई बाढ़ के बाद जिला प्रशासन की ओर से चलाये जा रहे राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया और कहा कि जिले में भारी वर्षा के कारण अचानक आई बाढ़ के कारण तबाही हुई है। उन्होंने अधिकारियों को जिले में राहत कार्यों में और तेजी लाने तथा प्रभावित प्रत्येक व्यक्ति को त्वरित मदद पहुंचाने का भी निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने बेतिया नगर भवन स्थित इनडोर स्टेडियम पहुंचकर बाढ़ पीड़िताें के लिये तैयार की जा रही खाद्य सामग्रियों के पैकेट कार्य का भी निरीक्षण किया। श्री कुमार के साथ इन जिलों का हवाई सर्वेक्षण कर राजधानी पटना लौटे उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बताया कि कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई है। इस बार कई ऐसे इलाके हैं, जहां पहली बार बाढ़ आई है। पूर्वी चंपारण के सुगौली, बंजरिया एवं आदापुर में बाढ़ की स्थिति काफी गंभीर है। उन्होंने कहा कि सरकार की आेर से प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल युद्धस्तर पर बचाव एवं राहत कार्य चलाने, अतिरिक्त नाव एवं पॉलिथीन शीट उपलब्ध कराने, खाद्य सामग्री पैकेट बांटने और एयर ड्रॉपिंग के निर्देश दिये गये हैं। उप मुख्यमंत्री ने बताया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में वितरित की जाने वाली खाद्य सामग्री के पैकेट में पांच किलोग्राम चावल, एक किलो दाल, दो किलो आलू, 500 ग्राम नमक, हल्दी के पैकेट एवं मोमबत्ती तथा सूखे राशन के पैकेट में 2.5 किलो चूड़ा, एक किलो चना, 500 ग्राम चीनी और हैलोजन के टैबलेट दिए जा रहे हैं। उन्होंने सरकारी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि बाढ़ग्रस्त इलाके में पूरी मुस्तैदी से सभी डटे हुए हैं और पीड़ितों की हर संभव मदद में लगे हुए हैं। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...