आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या एक चौथाई बढ़ी

number-of-income-tax-return-ncreased-by-a-quarte
नयी दिल्ली 07 अगस्त, नोटबंदी और स्वच्छ धन अभियान के बल पर गत पांच अगस्त को आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तिथि तक कुल 28292955 लोगों ने आयकर रिटर्न भरे जो पिछले वर्ष अंतिम तिथि तक भरे गये कुल 22697843 रिटर्न की तुलना में 24.7 प्रतिशत अधिक है। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आज यहां आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों के आंकड़े जारी करते हुये कहा कि सरकार 500 और एक हजार रुपये के पुराने नोटों के प्रचलन बंद करने के बाद बैंकों में बड़ी मात्रा में इन नोटों को जमा कराने वालों के लिए शुरू किये गये स्वच्छ धन अभियान के बल पर न:न सिर्फ आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में एक चौथाई की बढोतरी हुयी बल्कि व्यक्तिगत आयकर संग्रह में भी 41.79 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। वर्ष 2016-17 के लिए अब तक कुल 27939083 लोगों ने व्यक्तिगत आयकर रिटर्न दाखिल किया है जो पिछले वर्ष इस दौरान भरे गये कुल 22292864 की तुलना में 25.3 प्रतिशत अधिक है। सीबीडीटी ने कहा कि नोटबंदी के कारण प्रत्यक्ष कर संग्रह भी बढ़ा है। उसने कहा कि पांच अगस्त तक कार्पोरेट कर को छोड़कर अग्रिम व्यक्तिगत आयकर संग्रह में 41.79 प्रतिशत की बढोतरी दर्ज की गयी है। व्यक्तिगत आयकर के तहत स्वयं आंकलन कर (एसएटी) में 34.25 प्रतिशत की वृद्धि हुयी है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...