दिल्ली के ‘युवराज’ को गोरखपुर को सैरगाह नहीं बनाने देंगे: योगी

prince-sitting-in-delhi-will-not-be-allowed-to-make-gorakhpur-a-picnic-spot-yogi
गोरखपुर,19 अगस्त, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के यहां दौरे से पहले उन पर तीखा हमला करते हुए आज कहा कि दिल्ली में बैठा कोई ‘युवराज’ पूर्वी उत्तर प्रदेश की चुनौतियों से वाकिफ नहीं है और उन्हें गोरखपुर को ‘सैरगाह’ बनाने की अनुमति नहीं दी जा सकती। गोरखपुर से ‘स्वच्छ उत्तर प्रदेश, स्वस्थ उत्तर प्रदेश’ का आज शुभारंभ करने से पहले योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में पिछले दिनों आक्सीजन की कथित कमी से बड़ी संख्या में बच्चों की मौत का जिक्र तो नहीं किया लेकिन श्री गांधी के साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा,“ दिल्ली में बैठे युवराज और लखनऊ में बैठे शहजादे को इस स्वच्छता अभियान की महत्ता पता नहीं होगी। वह गोरखपुर को सैरगाह बनाने आये हैं, जिसकी हम अनुमति नहीं दे सकते।” मुख्यमंत्री ने इंसेफेलाइटिस के कहर का जिक्र करते हुए कहा कि इसके इलाज से ज्यादा जरूरी बचाव है और बचाव के लिये इलाके को खुले में शौचमुक्त बनाना अत्यंत आवश्यक है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में स्वच्छ भारत अभियान इंसेफेलाइटिस से हो रही मौतों को रोकने का एक कारगर कदम साबित हो सकता है। उन्होंने कहा जिस दिन प्रत्येक नागरिक स्वच्छता अभियान को अपने जीवन का हिस्सा बना लेगा, उस दिन राज्य कालाजार, इंसेफेलाइटिस और चिकनगुनिया से मुक्त हो सकेगा। स्वच्छता अभियान की सफलता के लिये मोहल्ला स्तर पर समितियां बनाकर अच्छे काम करने वाले को पुरस्कृत किया जायेगा। अधिकारी बाग में झाड़ू लगाकर मुख्यमंत्री ने अभियान की शुरुआत की। स्वच्छता अभियान से इंसेफेलाटिस पर नियंत्रण की उम्मीद जताते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों ने अपने निहित स्वार्थ के कारण राज्य के लोगों को मूल सुविधाओं से वंचित रखा। पांच बार गोरखपुर सीट से सांसद रहे योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वह वर्षों से इंसेफेलाइटिस की समस्या को लेकर संघर्षरत है। पिछली सरकारों की नाकामी की वजह से यह बीमारी महामारी बन गयी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बीमारी को और फैलने से रोकने के लिये लोगों को सफाई और स्वच्छ पेयजल को लेकर जागरूक करने में जुटी है। मुख्यमंत्री जिले के इंसेफेलाइटिस और बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर स्थिति का जायजा भी लेंगे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...