वैज्ञानिकों ने ब्रह्मांड में प्रकाश के फैलने के रहस्य का कारण पता लगाया

science-got-answer-how-light-in-universe
वाशिंगटन, 31 अगस्त,  वैज्ञानिकों ने ब्रह्मांड के अंधकार युग से निकलकर मौजूदा समय के प्रकाशमान युग में आने के पीछे के रहस्य से पर्दा हटाया है। अमेरिका में आयोवा विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं का विचार है कि आकाशगंगा के भीतर ब्लैक होल ऐसी प्रचंड हवाएं पैदा करता है जो आकाशगंगा में छेद करनेवाले पदार्थों को बाहर निकाल देती हैं जिससे प्रकाश को बाहर निकलने का रास्ता मिल जाता है। बिग बैंग के शीघ्र बाद ही ब्रह्मांड में पूरी तरह अंधेरा छा गया था। इस घटना की वजह से ऐसे कॉस्मोज का निर्माण हुआ जो काफी गर्म थे और भारी गैस की परतवाले थे जिससे प्रकाश बाहर नहीं निकल पा रहा था। बिग बैंग के करीब एक करोड़ वर्ष बाद ब्रह्मांड फैला और ज्यादा पारदर्शी बना। इसके बाद यह आकाशगंगा, ग्रह, तारों और अन्य चीजों से भर गया, जिनसे प्रकाश निकलती थी। एक अन्य अध्ययन के मुताबिक आकाशगंगा के केंद्र में रहनेवाले ब्लैकहोल इतनी तेजी से पदार्थों को बाहर निकालते हैं कि इससे निकला हुआ पदार्थ वातावरण को भेदकर प्रकाश को बाहर निकलने देता है। अनुसंधानकर्ता निकटतम आकाशगंगा का अध्ययन करते हुए इस नई थ्योरी पर पहुंचे हैं। इस आकाशगंगा से पाराबैंगनी प्रकाश बाहर निकल रहा है। विश्वविद्यालय में भौतिकी एवं अंतरिक्षविज्ञान विभाग के प्रोफेसर फिली कारेट ने कहा, “इस अध्ययन से बहुत ही चमकीले एक्स-रे स्रोत की उपस्थिति का पता चला है जो संभवत: ब्लैक होल के आकार को बढ़ा रही है।”

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...