सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अगस्त

सर्दी, खांसी, बुखार को हल्के में ना लें

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने नागरिकों से अपील की हैं कि सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम, सिरदर्द, गले में खराश और सांस लेने में परेशानी होने पर उसे हल्के में ना लें बल्कि तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में परीक्षण करायें। परीक्षण में विलम्ब पर स्वास्थ्य पर गम्भीर असर हो सकता है। उन्होंने सलाह दी है कि परीक्षण में फ्लू पाये जाने पर चिकित्सक की सलाह के अनुसार पूरा कोर्स लें तथा गर्म तरल पदार्थ का अधिक से अधिक सेवन करें। ऑख, नाक और मुंह को स्पर्श करने से पहले साबुन से हाथ धोएं तथा खांसते एवं छींकते समय मुंह एवं नाक पर कपडा रखें। 


कृषि विभाग द्वारा किसानों को सम समायिक सलाह

किसान कल्याण तथा कृषि विकास के उप संचालक ने बताया कि गत दिवसों में लगातार घने बादलयुक्त मौसम रहने के कारण सोयाबीन, मूंग, उडद आदि में कहीं कहीं पत्तियाँ पीली पड कर रोगगस्त हो रही है। यह रोग कीटों के साथ फफूंद एवं जीवाणुओं का एक साथ प्रकोप होने का कारण है। इसके नियंत्रण हेतु कॉपर ऑक्सी क्लोराईड 2.5 से 3.0 ग्राम प्रति लीटर पानी के साथ बीटा साइपलूथ्रिन 8.49 व इमीडाक्लोपिड 19.8 ओडी (सोलामन दवा 300 से 400मि.ली. प्रति हेक्टर) मिलाकर छिडकाव करें। मौसम को देखते हुए सोयाबीन, मूंग, उडद पर ग्रीन सेमीलूपर के प्रकोप को देखते हुए क्लोरोपायरीफास 25 ईसी 1 लीटर या सफेद मक्खी के लिए ट्राईजोफास 750 मिली प्रति हेक्टर के 500 से 600 लीटर पानी मिलाकर छिडकाव करें।

आष्टा में बच्चों का निःषुल्क विषेष स्वास्थ्य परीक्षण षिविर आज

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत सिविल अस्पताल आष्टा में 0 से 18 वर्ष तक के बच्चों एवं बालकों का निःषुल्क स्वास्थ्य परीक्षण षिविर दिनांक 30 अगस्त 2017,बुधवार को सुबह 10.30 बजे से आयोजित किया गया हैं षिविर में 0 से 5 वर्ष तक आयु वाले बच्चों की जन्मजात बहरापन,जिनके कान बहते हो,जिन बच्चों को कम सुनाई देता हो या अन्य कोई कान से संबंधित बीमारी हो उसका निःषुल्क परीक्षण एवं उपचार दिव्य एडवांस ईएनटी क्लीनिक, भोपाल के विषेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.आर.के.गुप्ता ने जानकारी दी उपचार के अंतर्गत आॅपरेषन के लिए चिन्हित बच्चों का राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत निःषुल्क उपचार किया जाएगा। उपचार अथवा स्वास्थ्य परीक्षण के लिए बच्चों का जन्मप्रमाण पत्र,उनके दो फोटो,राषन कार्ड,आधार कार्ड समग्र आईडी नंबर एवं पूर्व में जांच की गई समस्त जांच रिपोर्ट लेकर षिविर मंे उपस्थित होना होगा जिससे उनके शासकीय व्यय पर उपचार की समस्त व्यवस्था विभाग द्वारा की जा सकंे। षिविर की सफलता के लिए इछावर एवं आष्टा के आरबीएसके दलों को बच्चों की षिविर में उपस्थित कराने के लिए निर्देषित किया गया है। ज्ञात हो कि जिले में अब तक कुल 26 बच्चों का का सफल काॅक्लर इंम्लांट मध्यप्रदेष सरकार द्वारा चिन्हित एवं मान्यताप्राप्त स्वास्थ्य संस्थानों में  किया गया है जिसमें विभाग द्वारा अब तक 1 करोड़ 69 लाख रूपए की राषि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत व्यय की गई है। 

संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम का आयोजन संपन्न

sehore news
संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम अन्तर्गत सी. आर. डी. ई. कृषि विज्ञान केन्द्र, सेवनियाॅ, जिला - सीहोर में कृषकों की आमदनी वर्ष 2022 तक दोगुना करने हेतु नये भारत का संकल्प लिया गया। कार्यक्रम में सांसद भोपाल श्री आलोक संजर, श्री शैलेन्द्र पटेल विधायक, इछावर, प्रिंस राठौर, अध्यक्ष, जिला युवा मोर्चा, सीहोर, श्री मोहन सिंह चेयरमैन, उपाध्यक्ष, जिला पंचायत, सीहोर, हरी सिंह देवडा, सदस्य, जिला पंचायत, सीहोर, शारदा फोगाट, कार्यपालक संचालिका, कृषि विज्ञान केन्द्र, सेवनियाॅ, सीहोर, श्री अवनीश चतुर्वेदी, उप संचालक, किसान कल्याण तथा कृषि विकास, सीहोर, डाॅ. एन. पी. गंगवार, उप संचालक, पशु चिकित्सा सेवायें एवं जे. के. कनौजिया, प्रमुख, कृषि विज्ञान केन्द्र, सीहोर सहित जिले के समस्त विकासखण्डों से 802 कृषकों ने अपनी सहभागिता की। कार्यक्रम में श्री जे. के. कनौजिया, प्रमुख, कृषि विज्ञान केन्द्र, सीहोर द्वारा वर्ष 2022 तक कृषकों की आमदनी दोगुना करने हेतु नये भारत का संकल्प का वाचन कर उपस्थित अतिथियों, अधिकारियों, कृषकों को संकल्प दिलाया गया। साथ ही साथ इस अवसर पर कृषकों की आमदनी दोगुना करने हेतु समन्वित कृषि प्रणाली पर विस्तार से चर्चा की गयी। मुख्य अतिथि सांसद श्री आलोक संजर ने माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा चलाये जा रहे संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम की सराहना करते हुए मृदा स्वास्थ्य प्रबन्धन, गौ संरक्षण, वन संरक्षण, जल संरक्षण, स्वाच्छता अभियान हेतु किसानों को प्रेरित किया। कार्यक्रम के दौरान विधायक श्री शैलेन्द्र पटेल ने कृषकों को सम्बोधित करते हुए वर्ष 2022 तक कृषकों की आमदनी दोगुना करने हेतु चलाये जा रहे कार्यक्रम की सराहना करते हुए सूक्ष्म सिंचाई पद्धतियों, जल संरक्षण, वृक्षारोपण, कृषि उद्यमिता विकास, नई फसल बीमा योजना, लागत कम करने हेतु नवीन कृषि तकनीकों पर अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में शारदा फोगाट, कार्यपालक संचालिका, कृषि विज्ञान केन्द्र, सीहोर ने कृषकों की आमदनी दोगुना करने हेतु उन्हे कृषि की नवीन तकनीकों को अपनाने की अपील की। कार्यक्रम के दौरान कृषकों ने प्रदर्षनियों, कृषि विज्ञान केन्द्र, सेवनियाॅ में प्रदर्षित तकनीकों का अवलोकन, वैज्ञानिकों द्वारा उन्नत तकनीकों की जानकारी प्रदान की गयी। अंत में श्री राजेष मिश्रा, जिला युवा समन्वयक, नेहरू युवा केन्द्र, सीहोर ने द्वारा पधारे सभी अतिथियों, अधिकारियों, कृषकों, पत्रकार बन्धुओं, कृषकों का आभार व्यक्त किया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...