शरद गुट के असली जदयू होने की हवा निकली

sharad-have-no-big-leader
पटना 19 अगस्त, जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव गुट के असली जदयू होने की हवा निकल गयी जब आज उनके शक्ति प्रदर्शन में पार्टी पदाधिकारियों के साथ ही कोई भी बड़ा चेहरा नजर नहीं आया। जदयू के प्रदेश प्रवक्ता अजय आलोक ने शरद गुट के असली होने के दावे पर चुटकी लेते हुए कहा, “शक्ति किसी और की और प्रदर्शन कोई और कर रहा है।” उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की ओर इशारा करते हुए कहा कि शरद गुट दूसरे की खेती को अपनी खेती बता रहे हैं। श्री आलोक ने कहा कि बुढ़ापे में जो अपना घर छोड़ दूसरे के घर जाने की सोचते हैं वह किसी घर के नहीं रह जाते। यह जरूरी है कि बड़ों ने जो रास्ता दिखाया है बढ़ती उम्र में वह भी उसी राह पर चलें अन्यथा वह न तो पूजनीय रहेंगे और न ही आदरणीय। 


वहीं, श्री यादव गुट के जदयू के राष्ट्रीय महासचिव पद से हटाये गये अरुण श्रीवास्तव ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की जिम्मेवारी संभालने के बाद पहली बार राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की है। उन्होंने कहा कि हालांकि बिहार में जदयू का जानाधार जरूर है लेकिन उनकी पार्टी एक राष्ट्रीय पार्टी है। श्री कुमार 13 वर्ष तक मुख्यमंत्री रहे लेकिन एक दिन का समय भी पार्टी के लिये अब तक नहीं दिया है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि उनके नेता श्री यादव के साथ 14 राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष मजबूती के साथ खड़े हैं। जिन राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष उनके साथ हैं उनमें केरल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उड़ीसा, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, पांडीचेरी, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश शामिल हैं। उन्होंने कहा कि तेलंगाना और आंध्रप्रदेश के अध्यक्ष श्री कुमार के साथ बैठक में देखे गये है लेकिन यह समझने वाली बात होगी कि किन मजबूरियों में वह गये। पूर्व राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि कुछ प्रदेश अध्यक्ष श्री कुमार के साथ रह गये हैं। श्री कुमार जिन प्रदेशों के अध्यक्ष को अपने साथ होने का दावा कर रहे हैं उन्हें ठीक से उनका नाम तक मालूम नहीं है। उन्होंने कहा कि पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता उनके नेता के साथ हैं और यदि आवश्यकता हुयी तो चुनाव आयोग का दरवाजा भी खटखटायेंगे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...