सरकार के खजाने का एक--एक पैसा जनता व राज्य के विकास के लिए : रघुवर दास

खजाने का एक-एक पैसा जनता व  राज्य के विकास के लिए खर्च होगा । साल 2022 तक न्यू इंडिया /  न्यू  झारखण्ड की परिकल्पना पूर्ण होगी। स्वच्छ झारखण्ड, स्वच्छ भारत के लिए हर व्यक्ति को संकल्प लेने की जरुरत । राज्य के 17 जिलों के 68 प्रखंडों  में प्रत्येक पंचायत के 1000 युवक-युवतियों को प्रशिक्षित कर रोजगार से जोड़ने का काम कर रही सरकार।  जिले के  हर माह जनता को प्रेस के माध्यम से डीसी  बतााऐं  कि वे क्या कर रहें हैं।  क्षेत्र के लोगों के साथ पारदर्शिता रखें।




single-penny-for-state-development-raghuvar-das
दुमका (अमरेन्द्र सुमन)  , जनता व  सरकार के बीच कोई दूरी ना हो।  सरकार के खजाने का एक-एक पैसा जनता व  राज्य के विकास के लिए खर्च होगा। इसके लिए ‘‘सरकार आपके द्वार कार्यक्रम’’ का आयोजन राज्य के विभिन्न प्रमंडलों में किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के तहत  जनता व  सरकार के बीच सीधा संवाद किया जा रहा है। गांव की व्यवस्था को कायम रखने में पंचायत सचिवालय कार्य कर रहा है। न्यू इंडिया/ -न्यू झारखण्ड के नवनिर्माण हेतु गांव के युवा स्वेच्छा से योगदान दे रहें है ऐसे युवाओं को धन्यवाद। हमें मिलकर समृद्ध और स्वावलंबी राज्य का निर्माण करना है। उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री  रघुवर दास ने गोड्डा के पोड़ैयाहाट प्रखंड के ओरिया टांड गांव में आयोजित सरकार आपके द्वार सह स्वच्छता संग्राम कार्यक्रम में कही। श्री दास ने कहा कि अमीर राज्य की गरीबी को 5 साल के अंदर समाप्त करना है। तय समय तक राज्य में एक भी बीपीएल कार्ड धारी न रह,े इस उद्देश्य से सरकार कार्य कर रही है। एक वर्ष के अंदर 17 जिला के 68 प्रखंड के 1000 पंचायत के लोगों को किसी न किसी रोजगार से जोड़ना है। श्री दास ने बताया कि महिलाओं को स्वावलंबन से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री उद्यमी बोर्ड का गठन किया गया है जिसके तहत 4 लाख 80 हजार महिलाओं को प्रशिक्षित कर उन्हें स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है।  श्री दास ने कहा कि भ्रष्टाचार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सरकार समावेशी विकास के लक्ष्य के साथ काम कर रही है। भ्रष्टाचार को समाप्त करना है, यह जन सहयोग से ही संभव है। राजनीतिक अस्थिरता के कारण राज्य का समुचित विकास नहीं हो पाया। लेकिन अब ऐसा नही होगा। राज्य सरकार सर्वप्रथम बुनियादी जरूरतों को पूरा करने की दिशा में काम कर रही है। श्री दास ने कहा कि 2022 को जब हम देश की आजादी का 75 वां वर्षगांठ मनायेंगे तो नया भारत नया झारखण्ड होगा। प्रधानमंत्री जी ने देश की महिलाओं की पीड़ा को समझते हुए पूरे भारत को खुले में शौच से मुक्त भारत की परिकल्पना की है जो अब मूर्त रूप ले रहा है। राज्य के कई जिले खुले में शौच से मुक्त हो रहे है। देश और राज्य का नागरिक होने के नाते हमें अपने कर्तव्यों का निर्वहन ईमानदारी पूर्वक करना है। सरकार आपके द्वार कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण मंत्री श्री राज पलिवार ने कहा कि झारखण्ड बदल रहा है। हर क्षेत्र में बेहतर करने का प्रयास माननीय मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हो रहा है। गांव और ग्रामीणों का विकास कैसे हो इस पर लगातार मंथन हो रहा है। महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिये सरकार की योजनाएं धरातल पर कार्य कर रहीं हैं। आज उस कड़ी को और मजबूती प्रदान करने के लिये संचार के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु सखी मंडल के बीच स्मार्ट फोन वितरण का शुभारंभ होगा। स्मार्ट फोन के माध्यम से महिलाएं सुदूरवर्ती गांव में महिलाओं को जागरूक करेंगी और डिजिटल क्रांति का संचार होगा। गोड्डा के सांसद श्री निशिकांत दूबे ने कहा कि पोडैयाहाट राज्य गठन से पूर्व और बाद में हमेशा से ही पिछड़ा प्रखंड रहा है। रघुवर दास की सरकार गठन के बाद यहां विकास की कई योजनाओं को धरातल पर उतारा गया है। यहां मॉडल कॉलेज बन कर तैयार हो चुका है। मेगा हैंडलूम क्लस्टर का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है, जिसके तैयार होने के बाद राज्य के एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। 5-6 माह के अन्दर ही गोड्डा में सैनिक स्कूल का शिलान्यास होगा। महागामा में ईसीएल के सहयोग से 300 बेड के अस्पताल का निर्माण कार्य जल्द शुरू होना है। सरकार ने बंद पड़े आईटी आई संस्थान को फिर से शुरू करवाया है। श्री दूबे ने सरकार से आग्रह किया कि किसानों की हित के लिए इस क्षेत्र के सुग्गा बथान डैम का निर्माण करवा दिया जाये ताकि किसानों को सिंचाई की सुविधा मिल सके। इस क्षेत्र में भी एक मेडकल और एक इंजिनियरिंग कॉलेज की स्वीकृति मिलने से स्थानीय  और राज्य के युवकों को फायदा होगा। शुद्ध पेयजल के लिए सरकार गंगा नदी से पानी उपलब्ध करवाने पर भी विचार करे तो इस क्षेत्र के सभी लोगों को पेय जल की सुविधा मिल सकेगी। कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए मुख्य सचिव श्रीमती राजबाला वर्मा ने कहा कि राज्य के लोग विकसित होंगे तो राज्य स्वतः विकसित होगा। इसी मंत्र के साथ एक लक्ष्य, ध्येय और रणनीति के साथ कार्य कर रही है। राज्य सरकार गांव के विकास को कटिबद्ध है। सरकार का मानना है कु गांव के विकास में ही राज्य का विकास निहित है। हमें उसके लिये बदलाव का सैनिक बनना होगा। राज्य को विकसित करने के लिये जन आंदोलन का रूप देना होगा और नए झारखण्ड का निर्माण करना होगा। श्रीमती वर्मा ने कहा कि 5 हजार करोड़ की लागत से 2 हजार 500 किमी सड़क का निर्माण हुआ है। आवागमन हेतु वृहत और लघु पुल निर्माण का कार्य हुआ है। राज्य के लोगों को पाइप लाइन के जरिये शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने हेतु 3 हजार करोड़ की योजना स्वीकृत है। 3-4 माह के अंदर हर घर को बिजली से आच्छादित करने का प्रयास सरकार करेगी। श्रीमती वर्मा ने कहा कि महिला और किशोरियों के सशक्तिकरण हेतु 540 करोड की तेजस्वनी योजना का शुभारंभ हो चुका है। जोहार योजना के तहत 1 हजार 500 करोड़ की योजना का लाभ ग्रामीणों को देना है। राज्य की युवा शक्ति का हुनर व कौशल प्रदान करने के लिये 700 करोड़ रखे गये हैं। अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति बहुल क्षेत्र के विकास को लेकर सरकार विशेष सजगता से कार्य कर रही है। श्रीमती वर्मा ने कहा कि किसानों की आर्थिक आय को बढ़ाने के लिए मत्स्य पालन के लिए 1000 करोड़ मत्स्य बीज का वितरण किया गया। पशुपालन के लिए भी किसानों को जागरूक कर राशि उपलब्ध कराया जा रहा है। श्रीमती वर्मा ने बताया कि 1 हजार 500 पंचायत ड्रॉपआउट ही चुके हैं। 18 हजार शिक्षकों की बहाली हेतु प्रकिया आरंभ हो चुकी है। सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए विकास आयुक्त श्री अमित खरे ने कहा कि सरकार आपके द्वार कार्यक्रम राज्य के विकास के लिए महत्वपूर्ण है। पिछले ढ़ाई वर्ष में मुख्यमंत्री के दिशा निदेश और नेतृत्व में राज्य का आर्थिक विकास दर 8.6 प्रतिशत हुआ है। 


कृषि के क्षेत्र में सिंगल विंडो सिस्टम , हेल्प लाइन नंबर और सीएम कृषक सहायता कोष का गठन कर दिया गया है। पंचायत सचिवालय का गठन संतुलित विकास हेतु किया गया है।  सीएजी के प्रतिवेदन में झारखण्ड देश में सबसे तेजी से विकास करने वाला राज्य बना है। श्रम सुधार के क्षेत्र में झारखण्ड देश में नंबर एक के पायदान पर है।  राज्य में विकास की धारा बनी रहे इसका खास ध्यान सरकार ने रखा है। राज्य के विकास के लिए पंचायत, प्रखंड और जिला का विकास करना जरुरी है। श्री खरे ने कहा कि राज्य, सरकार और जनता के सहयोग से आगे बढ़ा रहा है, हम राज्य को देश के अव्वल राज्य की परिकल्पना को पूरा करने का प्रयास कर रहे है।  कार्यक्रम में बोलते हुए खाद्य एवं उपभोक्ता मामले विभाग के सचिव श्री बिनय कुमार चैबे ने कहा कि सरकार आपके द्वार कार्यक्रम से राज्य के विकास में सहयोग मिलेगा। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का सपना है कि देश के युवाओं को हुनरमंद बना कर उनका नियोजन किया जाये। सरकार हर पंचायत के 100 युवाओं का चयन कर उन्हे कौशल विकास का प्रशिक्षण देने का काम कर रही है। सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के लिए सरकार ने पंचायत स्वयं सेवकों की नियुक्ति की गयी है, जिन्हें सरकार मानदेय भी दे रही है। यह कार्यक्रम सभी प्रमंडलों में आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार आपके द्वार कार्यक्रम से ग्रामीणों को प्रमाण पत्र निर्गत करने में आसानी होगी। किसी भी कार्य के लिए आय, जाति, निवास, जन्म आदि प्रमाण पत्र की जरुरत ग्रामीणों को होती है। इस काम के लिए पंचायत स्वयं सेवक घर-घर जा कर उनकी जानकारी लेंगे और घर पर ही उन्हें प्रमाण पत्र सुपुर्द करेंगे। पंचायत स्वयं सेवक स्वच्छ भारत अभियान के दौरान बनवाये गये शौचालयों के पुनर्निर्माण हेतु अपनी राय भी देंगे। पंडित दीन दयाल उपाध्याय योजना के तहत राज्य के सभी लोगों को एलईडी बल्व देने की योजना है इसमें लाभुकों को भी सब्सिडी देने का काम सरकार कर रही है।

इस अवसर पर लोगों को राज्य सरकार की योजनाओं की जानकारी देने हेतु गोड्डा जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न विभागों का स्टॉल लगाया गया था। लोगों में चोटी कटवा जैसे अफवाह के प्रति ग्रामीण के बीच जागरूकता का संचार करने हेतु कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय सुंदर पहाड़ी की बच्चियों ने नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति दी। माननीय मुख्यमंत्री द्वारा शांति संदेश हेतु गुब्बार उड़ाया। उन्होंने प्रयास और स्वावलंबन नामक पुस्तिका का विमोचन भी किया। सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में उपर्युक्त के अलावे माननीय विधायक महागामा अशोक भगत, माननीय विधायक गोड्डा श्री अमित मंडल, पूर्व विधायक श्री हेमलाल मुर्मू व अन्य उपस्थित थे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...