बाढ़ से निपटने के मुस्तैदी से उठाए हैं कदम : रिजिजू

steps-taken-from-the-speed-of-dealing-with-floods-rijiju
नयी दिल्ली 10 अगस्त, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने बाढ से निपटने में राजनीतिक भेदभाव के आरोपों को खारिज करते हुए आज लोकसभा में कहा कि मोदी सरकार ने इस आपदा का समाना करने के लिए पूरी मुस्तैदी के साथ कदम उठाये हैं। श्री रिजिजू ने देश के विभिन्न हिस्सों में आयी बाढ को लेकर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर सदन में हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार ने बाढ से निपटने के लिए जितनी तेजी से कदम उठाये हैं उतनी मुस्तैदी से पहले किसी सरकार में नहीं उठाया गया है। उन्होंने बताया कि 2017-18 के दौरान सभी राज्यों को उनके अापदा कार्रवाई बल (एसडीआरएफ) के खातों में केंद्र के हिस्से की 9382़ 80 करोड रूपये की राशि दी गयी है । सरकार 23 राज्यों को 4308़ 125 करोड की राशि पहले ही जारी कर चुकी है । उन्होंने बताया कि प्राकृतिक आपदा में बचाव एवं राहत जैसी कार्रवाई फौरन की जा रही हैं । इसके लिए केंद्र के पास 12 बटालियन हैं। उन्होंने बताया कि पूरे देश में बाढ से 203 जिले प्रभावित हुए हैं और 962 लोगों की मौत हुई है तथा 206 लोग घायल हुए हैं और 23 लापता हैं। आपदा में दो लाख 43 हजार 345 मकान क्षतिग्रस्त हो गये हैं । बाढ से निपटने में पश्चिम बंगाल के साथ राजनीतिक भेदभाव के तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय के आरोपों को खारिज करते हुए श्री रिजिजू ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं में भेदभाव की कोई गुंजाइश नहीं होती 1 उन्होंने कहा कि सचाई यह है कि राज्य सरकार की ओर से बाढ से हुए नुकसान के आकलन पर अभी तक केंद्र को ज्ञापन भी नहीं भेजा गया है। केंद्र पश्चिम बंगाल एसडीआरएफ के लिए 203़ 20 करोड रूपये जारी कर चुका है ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...