बाढ़ पीड़ितों की मदद के बजाये राजनीतिक रैली का आयोजन संवेदनहीनता : सुशील मोदी

sushil-modi-attack-lalu
पटना 23 अगस्त, बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राज्य के बाढ़ पीड़ितों को मदद पहुंचाने के बजाये राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की ओर से 27 अगस्त को राजनीतिक रैली के आयोजन को उसकी संवेदनहीनता बताया और कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत देश के अन्य वरिष्ठ नेताओं को अपनी छवि बचाने के लिए इस रैली से दूर रहना चाहिए । श्री मोदी ने आज यहां विधानसभा परिसर स्थित अपने कक्ष में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि राज्य में इस बार बाढ़ की तबाही कोशी त्रासदी से भी कहीं ज्यादा है। सरकार अपने स्तर से बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है और 26 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे । उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब राज्य के 19 जिले में बाढ़ से भीषण तबाही हुई है, पीड़ितों की मदद के बजाये राजनीतिक रैली का आयोजन राजद की संवेदनहीनता को दर्शाता है। इससे यह साफ हो जाता है कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार को बिहार के लोगों की नहीं बल्कि सिर्फ अपनी बेनामी सम्पत्ति की परवाह है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि राजद की ‘भाजपा भगाओ-देश बचाओ रैली’ भाजपा के खिलाफ नहीं बल्कि बेनामी सम्पत्ति को बचाने के लिए है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत रैली में आने के लिए हामी भरने वाले देश के अन्य वरिष्ठ नेताओं को इससे दूर ही रहना चाहिए क्योंकि बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने के बजाये यदि वह राजनीतिक रैली में हिस्सा लेते हैं तो इससे उनकी छवि धूमिल ही होगी । 


श्री मोदी ने कहा कि श्री लालू प्रसाद यादव ने रैली में 25 लाख लोगों की भीड़ जुटाने का दावा किया है जो किसी हाल में पूरा होने वाला नहीं है । इसलिए कम भीड़ जुटने पर श्री यादव बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से लोगों के नहीं आने का बहाना बनायेंगे इससे बेहतर है कि राजद प्रमुख रैली को रद्द कर दें । इससे वह फजीहत से बच जायेंगे । उन्होंने कहा कि रैली के आयोजन के बजाये श्री यादव और उनके अन्य वरिष्ठ नेताओं को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करना चाहिए और पीड़ितों की मदद में अपने लोगों को लगाना चाहिए । उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा कोटे से राज्य सरकार के सभी मंत्री बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए अपने तीन माह का वेतन और विधायक एक माह का वेतन राहत कोष में देंगे । उन्होंने राजद और कांग्रेस के विधायकों से भी बाढ़ पीड़ितों की मदद में आगे आने की अपील की । श्री मोदी ने पत्रकार हत्याकांड में राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के खिलाफ केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सी बी आई) की ओर से आरोप पत्र दाखिल होने पर उनके खिलाफ पार्टी की ओर से अब तक कोई कार्रवाई नहीं किये जाने की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि मो0 शहाबुद्दीन को पार्टी से निष्कासित किया जाना तो दूर अब तक निलंबित भी नहीं किया गया है । उन्होंने कहा कि नई राजनीति शुरू करने का दावा करने वाले श्री तेजस्वी प्रसाद यादव को मो0 शहाबुद्दीन को पार्टी से निष्कासित कराने के लिए अपने पिता लालू प्रसाद यादव पर दबाव बनाना चाहिए । 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...