अमेरिकी विश्लेषकों ने की प्रधानमंत्री मोदी के आर्थिक सुधारों की रफ्तार की सराहना

usa-apriciate-modi-reform
वाशिंगटन, 17 अगस्त, अमेरिका के एक प्रमुख थिंकटैंक के वरिष्ठ विश्लेषक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आर्थिक सुधारों की रफ्तार की सराहना करते हुये कहा कि उनकी सरकार ने महज तीन साल से थोड़े ज्यादा वक्त में 37 सेक्टरों में सुधार किया। एक प्रमुख अमेरिकी थिंकटैंक सेंटर फॉर स्ट्रेटजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज में वरिष्ठ सलाहकार और यूएस-इंडिया पॉलिसी स्टडीज में वाधवानी चेयर रिचर्ड एम रोसो ने कहा कि घरेलू सुधारों और अन्य बाहरी कारकों के साथ विदेशी निवेश के लिये मोदी सरकार के खुलेपन के फलस्वरूप भारत में विदेशी निवेश में उछाल आया है। रोसो ने एक नीति पत्र में कहा, ‘‘इसके पूरे कार्यकाल पर नजर डालें तो मोदी सरकार भारत की प्रत्यक्ष विदेशी निवेश व्यवस्था में अपने हाल के किसी भी पूर्ववर्ती के मुकाबले तेजी से उदारीकरण कर रही है।’’ रोसो के मुताबिक यह बिंदु खासतौर पर ध्यान देने लायक है कि बाजार समर्थक नीतियों को अपनाने के 25 सालों बाद भारत की विदेशी निवेश व्यवस्था 1990 के दशक की शुरुआत के मुकाबले कहीं ज्यादा खुली है। अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने अपने छह साल के कार्यकाल के दौरान भारत की विदेशी निवेश व्यवस्था में 29 बदलाव किये थे। मनमोहन सिंह सरकार के पहले कार्यकाल में इस व्यवस्था में 19 और दूसरे कार्यकाल के दौरान 18 बदलाव किये गये थे। रोसो ने कहा, ‘‘मोदी सरकार ने महज तीन साल से थोड़े ज्यादा वक्त में 37 क्षेत्रों में सुधार किये। यह ऐतिहासिक गति है।’’

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...