विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 12 अगस्त

प्रांतीय प्रवासी कार्यकर्ता कार्यषाला 2017

vidisha news
विदिशा - विद्या भारती मध्यभारत प्रांत द्वारा आयोजित दो दिवसीय प्रान्तीय प्रवासी कार्यकर्ता कार्यषाला आज दिनाॅक 12.08.17 को सरस्वती षिषु/विद्या मंदिर केषवनगर विदिषा में प्रारंभ हुई। इस कार्यषाला में मुख्य वक्ता श्री गोविन्द प्रसाद शर्मा (राष्ट्रीय अध्यक्ष विद्या भारती) ने कहा कि- प्रवासी कार्यकर्ता के अनुभव हमें साझा करना है । इस लिए आप व हम यहां एकत्र हुए हंै। विद्या भारती का कार्य निरन्तर चल रहा है । जब हम सभी प्रवास करते हंै तो प्रवास का एक निष्चित उद्देष्य होता है । षिक्षा समाज के अन्दर विद्या भारती को नेतृत्वकर्ता बनना है तो हमें स्वंय क्षमतावान, सामथ्र्यवान एवं योग्य बनना होगा । जब नेतृत्व क्षमता नहीं होती और हम नेतृत्व करते हंै तो दूसरे हमारा उपयोग करते हैं इससे दुःखद स्थिति बनती है । ऐसे में हमें पूर्ण रुप से सक्षम व समर्थ बनने के लिए प्रयत्न करना होगा। अपने विद्यालयों के विकास के लिए प्रवास करते समय हमारी दृष्टि ऐसी ही होनी चाहिए अर्थात् हमें अपना लक्ष्य स्पष्ट होना चाहिए। हिन्दू मान्यताएं, हिन्दू विचार, हिन्दू जीवन पद्वति के मुताबिक हमें समाज को खडा करना हैं  अर्थात् हमारे विद्यालयों से निकलने वाले विद्यार्थी इन विचारों को स्थापित करने वाले बनने चाहिए। इसलिए हमारे विद्यालयों को अपने लक्ष्य के अनुरूप विकसित करना होगा। व्यवस्थाओं का संचालन हमारे लक्ष्य प्राप्त करने की दिषा में है कि नही, यह देखना होगा। प्रवासी कार्यकर्ता को यह सब बातें स्पष्ट होनी चाहिए । प्रारम्भ में इस कार्यषाला की प्रस्तावना रखते हुऐ श्री रामकुमार भावसार (प्रांत प्रमुख, नगरीय षिक्षा) ने कहा कि सम्पूर्ण देष में विद्याभारती द्वारा विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं । अपने विद्यालयों को वर्तमान की आवष्यकता के अनुरुप और अधिक विकसित करने के लिए क्या-क्या  प्रयास किए जाऐं एवं नए-नए प्रयोग विद्यालयों मे हों इस पर विचार विमर्ष करने के लिए इस कार्यषाला का आयोजन किया जा रहा है । हमारे विद्यालय समाज की मान्यताओं पर खरे उतरें एवं प्रतिमान स्थापित करें यह विचार करना चाहिए।  इस दो दिवसीय कार्यषाला के शुभारंभ अवसर पर श्री हितानंद शर्मा (प्रांतीय संगठन मंत्री विद्या भारती) , श्री किरीट नागड़ा (प्रांतीय उपाध्यक्ष ग्राम भारती समिति भोपाल) श्री प्रकाष बरतूनिया (प्रांतीय उपाध्यक्ष नगरीय षिक्षा भोपाल) की विषिष्ट उपस्थित रही। मध्यभारत प्रांत के 16 जिलों के लगभग 30 स्थानो से 150 कार्यकर्ता इस कार्यषाला में सम्मिलित हो रहे हैं।  कार्यषाला का संचालन श्री राजेन्द्र सिंह परमार(भोपाल) ने एवं स्वागत श्री महेन्द्र सिंह रघुवंषी, (विदिषा) , श्री मुकेष तिवारी (कुरवाई) ने किया । व्यक्तिगत गीत श्री विजय माथुर (भोपाल) द्वारा प्रस्तुत किया गया । 


भारत सरकार की जाँच एजेंसी ने की श्रीहरि वृद्धाश्रम की प्रशंसा

vidisha news
विदिषा-12 अगस्त 2017/सामाजिक एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार की जाँच एजेंसी आर ,आर, टी सी पुणे की एग्जीक्यूटिव कमेटी के सदस्य जयदेव नायक ने स्थानीय श्री हरि वृद्धाश्रम का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर संस्था के सचिव कृष्ण बल्देव भट्ट सहित संस्था सदस्य वेद प्रकाश शर्मा उपस्थित रहे। जयदेव नायक ने निरीक्षण के दौरान वृद्धाश्रम की भोजन, चिकित्सा मनोरंजन व्यवस्था एवं प्रतिदिन की गतिविधियों का निरीक्षण करते हुए वृद्धजनों से चर्चा की। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सभी गतिविधियों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इस वृद्ध आश्रम के वृद्धजनों के खिलखिलाते चेहरे आश्रम के सफल संचालन का जीता जागता प्रमाण है। उन्होंने कहा कि इस वृद्धाश्रम द्वारा वृद्धजन पुनर्वास कार्यक्रम का सफल संचालन समूचे देश के लिए प्रेरक है। वे पुनर्वासित वृद्धजनो की कार्यवाही फाइल की छायाप्रतियां भी अपने साथ ले गए। एक दिव्यांग भिखारी अशोक जैन के जीवन मे बड़ा बदलाव लाकर उन्हें वृद्धाश्रम का स्वागत अधिकारी बनाने में सफलता अर्जित करने पर श्री नायक ने वृद्धाश्रम की अध्यक्ष श्रीमती इंदिरा वेद प्रकाश शर्मा की व्यक्तिगत समर्पित भावना की भी प्रशंसा की। 

भगवान श्री धरणीधर बलराम जी जयंती पर किरार समाज निकालेगा विषाल चल समारोह

विदिशाः दिनांक 13.08.2017 को प्रातः 10ः30 बजे भगवान श्री धरणीधर बलराम जी की जयंती के उपलक्ष्य में विषाल चल समारोह निकाला जायेगा जिसमें आप समस्त समाजजनों एवं समस्त नगर वासियों से उपस्थित होकर कार्यक्रम सफल बनाने की अपील अखिल भारतीय किरार धाकड़ कल्याण महासभा नवयुवक मण्डल के जिलाध्यक्ष दीवान किरार ने की है। स्थानीय किरार धाकड़ धर्मषाला किरी मोहल्ला बैंक आॅफ बडौदा के पास से भगवान श्री बलराम जी की पूजा अर्चना कर प्रारंभ होकर शहर के मुख्य मार्गों से होकर अग्रवाल धर्मषाला पहुॅचेगी। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...