सात सौ ट्रेनों की गति बढ़ेगी, 48 गाड़ियां बनेंगी सुपरफास्ट

700-trains-speed-to-be-increased-48-trains-to-to-become-superfast
नयी दिल्ली 28 सितंबर, भारतीय रेलवे ने संरक्षा को रेलवे समय सारिणी से जोड़ते हुए नियमित ट्रैक अनुरक्षण के लिए स्थायी ब्लॉक देने के उद्देश्य से करीब 700 ट्रेनों की गति बढ़ाने और आवागमन के समय में समायोजन करने का फैसला किया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने यहां रेल भवन में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि संरक्षा उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसे सुनिश्चित करने के लिए एक साल के अंदर ट्रैक बदलने और अनुरक्षण के लिए ब्लॉक देने को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि इसके लिये पैसे की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। अगर पांच दस हज़ार करोड़ रुपए ज़्यादा लग जाएं और ट्रैक अपग्रेड हो पाए तो यह अच्छा ही होगा। इस मौके पर रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा तथा रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी एवं अन्य सदस्य भी मौजूद थे। श्री गोयल ने कहा कि रेलवे की समय सारणी को भी संरक्षा का ध्यान रखते हुए बदला जा रहा है। करीब 600 से 700 गाड़ियों की गति बढ़ायी जा रही है और करीब 48 गाड़ियों को मेल/एक्सप्रेस गाड़ियों को सुपरफास्ट का दर्जा मिल जाएगा। इससे इन गाड़ियों की यात्रा अवधि में कमी अाएगी और ट्रैक भी खाली उपलब्ध होगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...