भगवान बिरसा मुंडा का, देश ऋणी: अमित शाह

birsa-nation-pride-amit-shah
उलिहातू (खूंटी) 17 सितम्बर, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि भगवान बिरसा मुंडा का पूरा राष्ट्र ऋणी है जिन्होंने अपना जीवन अपनी संस्कृति और देश की स्वतंत्रता को अक्षुण्ण बनाये रखने में लगा दिया और अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। श्री शाह ने आज झारखंड के खूंटी जिला अंतर्गत अड़की प्रखंड स्थित धरती आबा बिरसा मुंडा के गांव उलिहातू में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि भगवान बिरसा ने 25 वर्ष की उम में ही ऐसे काम कर गये कि करोड़ो लोगों के प्रेरणा स्रोत बन गये। आजादी के इस उलगुलान को रोकने का काफी प्रयास हुआ लेकिन धरती आबा ने इससे विचलित हुए बगैर अपनी मातृभूमि को आजाद करने के आंदोलन को अनवरत जारी रखा। आज ऐसे वीर की जन्मभूमि में आकर उन्हें गर्व है। उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में झारखंड की महत्वपूर्ण भागीदारी रही है। यहां के वीरों ने भारत माता की चरणों में खुद को अर्पित किया था। आदिवासी भाइयों ने अपने हृदय के अंदर आजादी की लड़ाई को बरकरार रख भारत को गुलामी से मुक्त कराने में अहम योगदान दिया था। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश के तमाम स्वतंत्रता सेनानियों की जन्मभूमि को आजादी के 75 साल तक किसी ने विकसित करने की नहीं सोची। लेकिन, श्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद स्वतंत्रता सेनानियों के गांव को विकसित करने की योजना बनाई जिसके तहत आज वीर शहीद बिरसा मुंडा के गांव को विकसित करने की योजना का शुभारंभ हुआ। उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में शहीदों के 19 गांवों को विकसित किया जाएगा। यह उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी। जहां पक्के मकान शुद्ध पेयजल बिजली शिक्षा और आधारभूत संरचनाओं का संपूर्ण विकास किया जाएगा।


श्री शाह ने कहा कि सरकार विकास के लिए होती है और झारखंड में श्री रघुवर दास के नेतृत्व में बनी सरकार राज्य के सुदूरवर्ती जंगल और पहाड़ों में रहने वालों तक विकास पहुंचा रही है और ऐसे इलाकों में रहने वालों को आजादी का फल 75 वर्ष के बाद मिल रहा है। उन्होने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिन भी है। करोड़ों लोग इसे सेवा भाव से मना रहे हैं। इस पुनीत दिन मेरी छोटी सी सेवा के लिए भगवान बिरसा की जन्म भूमि से उपयुक्त जगह और कहीं नहीं हो सकता है। इस अवसर पर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि देश और राज्य की एकता और अखंडता के लिये आदिवासी समाज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। आदिवासी समाज जागरूक हो रहें हैं, उनमें विकास की भूख जगी है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आदिवासी समाज की बेहतरी का कार्य हो रहा है। वर्ष 2022 तक धरती आबा बिरसा मुंडा, तिलका मांझी और सिदो कान्हू जैसे तमाम वीर शहीदों के सपनों का भारत और झारखंड का निर्माण होगा। श्री दास ने कहा कि देश और राज्य स्वावलंबी बने इसके लिये सभी को अपनी भूमिका निभानी है। अब राज्य के शहीदों के 19 गांव को विकसित किया जायेगा। उलिहातू जैसे गांव में राजधानी जैसी सुविधा होगी। यह कार्य आजादी के बाद ही प्रारंभ हो जाना चाहिये था लेकिन ऐसा नहीं हो सका। प्रधानमंत्री ने इस ओर ध्यान दिया और इस योजना का शुभारंभ हुआ। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि खूंटी की लाह चुनने वाली मेहनती महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिये लाह बोर्ड का गठन किया गया है। ऐसी महिलाओं को मुख्यमंत्री उद्यमी बोर्ड के जरिये लाह से निर्मित होने वाली वस्तुओं के निर्माण हेतु प्रशिक्षण दिया जायेगा और झारखंड के निर्मित वस्तु का निर्यात चार देश में किया जायेगा। श्री दास ने पुलिसकर्मियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि उनके सार्थक प्रयास से उग्रवाद पर लगाम लगा है। क्षेत्र में अमन चैन लाने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली पर बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर अमित शाह एवं शरघुवर दास ने श्रद्धासुमन अर्पित किया। साथ हीए शहीद ग्राम विकास योजना अंतर्गत आवास योजना का शुभारंभए बिरसा कॉम्प्लेक्स स्थित भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पणए बिरसा कॉम्पलेक्स में पौधरोपणए भगवान बिरसा मुंडा से सम्बंधित पुस्तक का विमोचन किया। 
कार्यक्रम में मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा, डॉ. लुइस मरांडी, रामचन्द्र चंद्रवंशी, अमर कुमार बाउरी, रणधीर कुमार सिंह, सांसद लक्ष्मण गिलुवा, पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा, विधायक खिजरी रामकुमार पाहन, मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, उप विकास आयुक्त अमित खरे एवं अन्य उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...