चीन ने परमाणु परीक्षण के बाद उत्तर कोरिया से विकिरण की बात खारिज की

china-refuse-to-talk-with-north-korea
बीजिंग, 11 सितंबर, चीन सरकार ने आज कहा कि उसने अपनी सीमा से लगे इलाके में रेडियोधर्मी विकिरण में कोई असामान्य वृद्धि नहीं पाई है और उत्तर कोरियाई परमाणु परीक्षण के बाद होने वाली आठ दिन की आपात निगरानी बंद कर दी है। चीन के सबसे करीबी सहयोगी उत्तर कोरिया ने चार सितंबर को एक शक्तिशाली परमाणु परीक्षण किया था। उसने एक उन्नत हाइड्रोजन बम विकसित करने का दावा किया था जिसे अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल में लगाया जा सकता है। चीन के पर्यावरण सुरक्षा मंत्रालय (एमईपी) ने एक बयान में कहा है कि उत्तर पूर्वी सीमा क्षेत्रों में विकिरण की निगरानी कल बंद कर दी गयी। एमईपी के हवाले से सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने खबर दी है कि आठ दिन की निगरानी के बाद कोई भी असामन्य परिणाम नजर नहीं आया। इसमें बताया गया है, ‘‘व्यापक आकलन में इस नतीजे पर पहुंचा गया कि डीपीआरके (उत्तर कोरिया) के परमाणु परीक्षण से चीन के पर्यावरण पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है और (आपातकालीन निगरानी) की शर्तें पूरी होने के बाद इसे बंद किया गया है।’’ एमईपी के मुताबिक, हेइलोंगजियांग, जिलिन, लिओनिंग और शानदोंग प्रांतों सहित सीमावर्ती इलाकों और आसपास के क्षेत्रों में सभी निगरानी केन्द्रों ने कल शाम छह बजे तक सामान्य विकिरण स्तर रिकॉर्ड किया। शुरू में कुछ खबरों में कहा गया था कि कुछ इलाकों में विकिरण में मामूली वृद्धि दर्ज की गयी है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...