मुगलसराय वाले बालक येसु से रू-ब-रू होने का मौका

  • हां- हां नोवेना,चंगाई सभा और शोभा यात्रा में भाग ले सकते हैं, रेलवे मंत्रालय से विशेष व्यवस्था करने का आग्रह

christ-jeses-mugalsarai
मुगलसराय (चंदौली)। यूरोपियन कॉलोनी में स्थित बाल येसु तीर्थ मंदिर। बालक येसु की प्रतिमा काष्ट की है। इसी को लेकर बाइजज्त झांकी निकाली जाती है।पल्ली पुरोहित एवं डायरेक्टर हैं फादर बिपिन सी.जे.।इनका कहना है कि जोरशोर से तैयारी जारी हैं। नोवेना प्रार्थना और त्रिदिवीस चंगाई प्रार्थना आयोजित है।सभी लोगों का स्वागत है।

महापर्व 3 दिसम्बर को
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ससंदीय क्षेत्र में है वाराणसी धर्मप्रांत। संत जेवियर का पर्व है 3 दिसम्बर। इसी दिन यानी 3 दिसम्बर,2017 को1 बजे से भव्य शोभा यात्रा निकालने का निश्चय किया गया है। दिल्ली महाधर्मप्रांत के महामहिम धर्माध्यक्ष अनिल कुट्टो एवं वाराणसी धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष यूजिन जोसेफ मिलकर मिस्सा बलिदाव अर्पित करेंगे। इनके साथ चमत्कारी बालक येसु का महापर्व एवं तीर्थयात्रा में हजारों की संख्या में मौजूद भक्तगण ख्रीस्तयाग  में शिरकत करेंगे। इन पर पवित्र जल का छिड़काव करेंगे बिशप।


नोवेना और मिस्सा बलिदान
तीर्थयात्रा कार्यक्रम के दरम्यान नोविना एवं पवित्र मिस्सा बलिदान से आत्मिक लाभ उठाये। जी 27 नवम्बर, 2017, शाम 5 बजे से डी एल डब्ल्यू एवं नगवा पल्ली के द्वारा नोविना प्रार्थना। 28  नवम्बर 2017, शाम 5 से मढ़ौली एवं लोहता पल्ली के द्वारा नोविना और  29 नवम्बर, 2017, 5 से संत मेरीज कैथिडल,शिवपुर एवं मवैया पल्ली द्वारा नोविना प्रार्थना।

त्रिदिवसीय चंगाई प्रार्थना
त्रिदिवसीय चंगाई प्रार्थना30 नवम्बर से 2 दिसम्बर, 2017 तक फादर अमित देव के द्वारा। प्रात: 9-12 तक प्रवचन। शाम में 4 -7 प्रवचन एवं आराधना । हर दिन 7.30 से ही मिस्सा बलिदान रामनगर के द्वारा 30 नवम्बर की तरह ,1 नवम्बर को चंदौली द्वारा और  2 नवम्बर को मुगलसराय में मिस्सा बलिदान अर्पित होगा।

विशेष ट्रेन की व्यवस्था हो
बिहार से भारी संख्या में मुगलसराय तीर्थयात्रा में जाते हैं। इसके आलोक में विशेष ट्रेन चलाने की जरूरत है। रेलवे मंत्रालय से आग्रह किया जा रहा है ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...