त्राल में मंत्री के काफिले पर ग्रेनेड हमला,तीन की मौत

grenade-attack-assault-on-minister-s-convoy-in-tral-three-killed
श्रीनगर,21 सितंबर, जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल में आतंकवादियों ने आज राज्य के लोक निर्माण मंत्री नईम अख्तर के काफिले पर ग्रेनेड से हमला कर दिया जिसमें श्री अख्तर बाल-बाल बच गए जबकि इस हमले में तीन लोगों की मौत हो गई और 17 से अधिक अन्य घायल हो गए, इस हमले में मारे गए लोगों की पहचान इस्लामिक यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एण्ड टेक्नॉलाजी की एम ए की छात्रा किशोरी पिंकी कौर, गुलाम नबी और मोहम्मद इकबाल खान के रूप में की गई है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुलवामा जिले के त्राल में कुछ अज्ञात आतंकवादियों ने श्री अख्तर के काफिले को निशाना बनाकर ग्रेनेड(हथगोला) से हमला कर दिया। ग्रेनेड का निशाना चूक जाने से वह भीड़भाड़ वाले इलाके में जा गिरा। ग्रेनेड के विस्फोट होने से एक पुलिसकर्मी समेत 17 से अधिक लोग घायल हो गए। श्री अख्तर राज्य में भारतीय जनता पार्टी और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के गठबंधन वाली सरकार के प्रवक्ता हैं। श्री अख्तर इस हमले में बाल-बाल बच गए। ग्रेनेड विस्फोट के बाद आतंकवादियों ने गोलीबारी भी की। स्थानीय लोगों ने यूनीवार्ता को फोन पर बताया कि इस हमले में कुछ पुलिसकर्मियों समेत 25 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इस ग्रेनेड हमले में घायल लोगों को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने एक वृद्ध व्यक्ति और एक महिला को मृत घोषित कर दिया। इस हमले में घायल अन्य लोगों का इलाज कराया जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस हमले की निंदा करते हुए श्री अख्तर के सुरक्षित बच निकलने पर संतुष्टि जाहिर की है। राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस पी वैद्य ने त्राल में बस स्टैंड के पास श्री अख्तर के काफिले पर ग्रेनेड हमले की पुष्टि करते हुए इसे आतंकवादी हमला करार दिया है। इस हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं जम्मू-कश्मीर के प्रभारी राम माधव ने भी इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक प्रवक्ता ने यूनीवार्ता को बताया कि इस हमले के लिए जिम्मेदार आतंकवादियों को पकड़ने के लिए पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर व्यापक पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...