मधुबनी : हिन्दी दिवस समारोह का आयोजन

hindi-diwas-in-madhubani
मधुबनी, 14 सितम्बर,  जिला पदाधिकारी  शीर्षत कपिल अशोक की अध्यक्षता में गुरूवार को डीआरडीए स्थित सभागार में हिन्दी विकास परिषद एवं राजभाषा विभाग द्वारा हिन्दी दिवस समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन जिला पदाधिकारी, निदेशक डीआरडीए एवं हिन्दी विकास परिषद के अध्यक्ष द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया। जिला पदाधिकारी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हिन्दी भाषा सभी भाषाओं में सबसे सहज और सरल है। यह भारत जैसे विशालतम राष्ट्र को एक कोने से दूसरे कोने को जोड़ने और एकजुट रखने का सबसे बेहतर माध्यम है। हिन्दी भाषा सभी भाषाओं में सबसे पारदर्शी भाषा है। इससे अन्य सभी भाषाएं जुड़ी हुई है। उन्होंने कहा कि हिन्दी भाषा का व्यापक प्रभाव स्वतंत्रता आंदोलन में देखने को मिला। जिसमें लोगों को विभिन्न काव्य रचनाओं और अन्य माध्यमों से जागरूक करने का काम किया गया।


जिला पदाधिकारी ने कहा कि हिन्दी भाषा आम लोगों को भी आसानी से समझ में आनेवाली भाषा है। उन्होंने साहित्यकारों, विद्वानों, काव्य रचानाकारों को इसके विकास में अपना योगदान देने की बात कही गयी। जिला पदाधिकारी ने कहा कि हिन्दी के विकास के लिए समय-समय पर संगोष्टी करने से भी लोगों में हिन्दी भाषा के विकास के प्रति जागरूकता बढ़ेगी। जिला पदाधिकारी द्वारा दो रचनाकार श्री सुभाष चंद्र स्नेही और डा. विजय पासवान को पाग-दोपट्टा और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मनित किया गया। साथ ही प्रीतम कुमार निषाद द्वारा रचित करूणावली पुस्तक का लोकार्पण भी जिला पदाधिकारी द्वारा किया गया। उन्होंने उपस्थित साहित्यकारों को आश्वासन देते हुए कहा कि वे साहित्यिक संगोष्ठी व अन्य कार्यक्रमों के लिए शीघ्र प्रेक्ष्यागृह का निर्माण कराने की दिशा में पहल करेंगे। कार्यक्रम को हिन्दी विकास परिषद के राजेश पांडेय, साहित्यकार जे.पी. सिंह, उदय जायसवाल, समेत अन्य विद्वानों और कवियों ने संबोधित किया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...