मोदी कल वाराणसी में जलमल शोधन संयंत्र की आधारशिला रखेंगे

modi-foundation-in-varanasi-water-purifier
नयी दिल्ली, 21 सितंबर, नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 22 सितम्बर को वाराणसी में 50 एमएलडी क्षमता वाले जलमल शोधन संयंत्र (एसटीपी) की आधारशिला रखेंगे। जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्रालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार यह संयंत्र हाइब्रिड एन्यूटी- मॉडल पर आधारित है। नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत निर्मल गंगा के लक्ष्य को हासिल करने के लिए यह एक बड़ा कदम है। मंत्रालय के अनुसार, 153.16 करोड़ रुपये की लागत वाले इस संयंत्र के निर्माण, परिचालन एवं रख-रखाव का कार्य एक कॉन्सोर्टियम को दिया गया है, जिसकी अगुवायी एस्सेल इन्फ्रा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड नामक कम्पनी कर रही है। भारत सरकार द्वारा अनुमोदित हाइब्रिड एन्यूटी मॉडल के तहत केन्द्र सरकार इस परियोजना का 100 प्रतिशत खर्च वहन करेगी। इस मॉडल के तहत एसटीपी का विकास, परिचालन और रख-रखाव स्थानीय स्तर पर बनाई गई एक विशेष कंपनी (एसपीवी) करेगी। इस मॉडल के अनुसार लागत की 40 प्रतिशत राशि का भुगतान निर्माण के दौरान किया जाएगा और शेष 60 प्रतिशत राशि का भुगतान अगले 15 वर्षों के दौरान वार्षिक तौर पर किया जाएगा जिसमें परिचालन और रख-रखाव का खर्च भी शामिल होगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...