मोदी ने काशीवासियों को दी एक हजार करोड़ का तोहफा

  • ट्रेड फैसिलिटी सेंटर का लोकार्पण, हैंडलूम उत्पादों को मिलेगा नया आयाम, महामना एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी 
  • कहा, हम ऐसे प्रधानमंत्री, जो खुद शिलान्यास भी करते हैं और उसका लोकार्पण भी, भविष्य में विकास की राह खोलेगा बुनकर फैसीलिटी सेंटर: पीएम 


modi-gift-to-varanasi
वाराणसी (सुरेश गांधी)। दो दिनी दौरे पर शुक्रवार को वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा लालपुर स्थित तीन सौ करोउ़ की लागत से निर्मित ट्रेड फैसिलिटी सेंटर ( पंडित दीनदयाल हस्तकला संकुल) का उद्घाटन कर इसे देश को समर्पित किया। इसके बाद मंच से ही वीडियों कांफ्रेसिंग के जरिए मोदी ने महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर वाराणसी से रवाना किया। पीएम ने लोगों को महामना एक्सप्रेस की सौगात दी है जो वाराणसी को सीधी वडोदरा से जोड़ेगी। यह ट्रेन हफ्ते में एक दिन चलेगी। साथ ही उन्होंने जल एंबुलेंस व जल शव वाहन का भी उद्घाटन किया। संबोधन में मोदी ने कहा, यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट था। ट्रेड फैसिलिटी सेंटर (टीएफसी) आज उनकी आखों का सामने है। कहा, मैं बुनकरों और शिल्पकारों को ये सौगात देते हुए अभिनंदन और उनकी प्रगति के लिए शुभकामनाएं देता हूं। ये भारत के सामथ्र्य का परिचय कराने वाली एक ऐसी कथा को संजोये हुए है जो भविष्य के दरवाजे को खोलने की ताकत रखते हैं।


केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने कहा, 300 करोड़ रुपये से बना पं. दीन दयाल हस्‍तकला संकुल राष्‍ट्र की जनता को समर्पित किया गया है। यह संकुल शिल्‍पकारों व बुनकरों की आय को बढ़ाएगा। हैंडलूम के संरक्षण, संवर्धन और विस्तार के देश भर में अपनी तरह के इस अनूठे केंद्र के प्रति प्रधानमंत्री की खास रुचि ही रही कि साल भर देर से निर्माण शुरू होने के बावजूद इसे निर्धारित समय से पहले ही बनाकर तैयार कर दिया गया। यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कहा, पीएम ने गरीबों, किसानों, युवाओं और मजदूरों के लिए जो काम किए हैं उनके लिए उनका अभिनंदन करता हूं। पीएम मोदी के प्रयास से 30 करोड़ लोगों के बैंक एकाउंट खोले गए हैं। बता दें, लोकार्पण के बाद इस चमचमाते सेंटर में काशी का ताना-बाना झलकेगा, साथ ही पूर्वांचल भर के हैंडलूम उत्पादों की चमक पूरी दुनिया के लिए आकर्षण बनेगी। यहां एक ही छत के नीचे न केवल बुनकर शिल्पी अपने उत्पाद की प्रदर्शनी लगा सकेंगे बल्कि क्रेता-विक्रेता के बीच सीधा व्यापार होगा। इस केंद्र के जरिए आसपास के राज्यों के शिल्पियों, बुनकरों को भी लाभ पहुंचेगा। विश्व प्रसिद्ध बनारसी सिल्क और हथकरघा से संबद्ध 20 हजार हैंडलूम के जरिए साठ हजार बुनकरों की आजीविका जुड़ी है। संग्रहालय में राजशाही शेरवानी, पगड़ी के अलावा शाही ठाट-बाट का अहसास सैलानी कर सकेंगे। काशी के धार्मिक-आध्यात्मिक महत्व और रामनगर की रामलीला के बारे में भी यहां लोग जान सकेंगे। चहारदीवारी के अंदर खुले में भी हस्तशिल्प का डिस्प्ले किया जाएगा।  टीएफसी में काशी का डिजिटल रूप बायर्स के साथ ही सैलानियों के लिए भी बेहद खास होगा। दो दिवसीय दौरे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार दोपहर 3 बजे वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर राज्यपाल रामनाईक, सीएम योगी आदित्यनाथ, समेत कई भाजपा नेताओं ने मोदी का स्वागत किया। एयरपोर्ट से पीएम मोदी हैलिकॉप्टर से बड़ा लालपुर स्थित ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर पहुंचे। जहां उन्होंने इस सेंटर का उद्घाटन किया। इस मौके पर उनके साथ केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, सीएम योगी आदित्यनाथ भी थे। 

18 परियोजनाओं का लोकार्पण 
- 16.20 करोड़ की लागत से आईपीडीएस के तहत 33 बटे 11 केवी कज्जाकपुरा उपकेंद्र और विभिन्न उपकेंद्रों में आठ ट्रांसफार्मरों का क्षमता वृद्धि 
- 7 करोड़ की लागत से पं. दीनदयाल उपाध्याय ज्योति ग्राम योजना के तहत गरथौली में 3 बटे ध्11 केवी उपकेंद्र 
- 97 करोड की लागत से निर्मित सामनेघाट पुल़ 
- 92 करोड़ की लागत से निर्मित बलुआ पुल 
- उत्कर्ष बैंक मुख्यालय का उद्घाटन 
- 15 करोड़ की लागत से निर्मित बीएचयू में मालवीय एथिक्स सेंटर 
- 2 करोड़ की लागत से बना पहड़िया में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट 
- 2.58 करोड़ की लागत से दुर्गाकुंड का सुंदरीकरण 
- 1.80 करोड़ की लागत से लक्ष्मीकुंड का सुंदरीकरण 
- 2.77 करोड़ की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अराजीलाइन में 30 बेड का मैटर्निटी विंग 
- 1.25 करोड़ की लागत से चोलापुर थाने में 80 लोगों के लिए बैरक निर्माण 
- 2.56 करोड़ की लागत से सारनाथ में बुद्धा थीम पार्क 
- 2.02 करोड़ की लागत से सारंगनाथ तालाब का सुंदरीकरण 
- सारनाथ तालाब का सुंदरीकरण
- 0.82 करोड़ की लागत से गुरुधाम मंदिर का सुंदरीकरण 
- 3.03 करोड़ की लागत से कैथी में मारकण्डेय महादेव मंदिर और गंगा घाट का विकास 
- राजकीय पशुधन एवं कृषि परिक्षेत्र अराजीलाइन्स का सुदृढ़ीकरण 
10 परियोजनाओं का शिलान्यास 
- 153 करोड़ की लागत से रमना में 50 एमएलडी का एसटीपी निर्माण 
- 162 करोड़ की लागत से नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत 52260 घरों में सीवर कनेक्शन 
-  2 करोड़ की लागत से अमृत के तहत नगर में सात पार्कों का सुंदरीकरण 
- 29.70 करोड़ की लागत से नगर निगम क्षेत्र में 50028 घरों में जल संयोजन का कार्य 
- 13 करोड़ की लागत से अन्न क्षेत्र काशी विश्वनाथ मंदिर 
- पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल पांडेयपुर परिसर में 50 बेड महिला अस्पताल के लिए भवन 
- पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल का उच्चीकरण
- शिव प्रसाद गुप्त मंडलीय जिला अस्पताल का उच्चीकरण
- सर सुंदरलाल अस्पताल बीएचयू परिसर में 100 शैयायुक्त एमसीएच विंग के लिए भवन
- लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल रामनगर का उच्चीकरण 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...