मुजफ्फरपुर के चर्चित नवरुणा कांड में गिरफ्तार पार्षद जेल भेजा गया

navruna-case-one-sent-tojail
मुजफ्फरपुर 05 सितम्बर, बिहार में मुजफ्फरपुर जिले के बहुचर्चित नवरुणा कांड में गिरफ्तार वार्ड पार्षद राकेश कुमार सिन्हा उर्फ पप्पू को आज केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की अदालत ने न्यायिक हिरासत में लेते हुए जेल भेज दिया। सीबीआई की टीम ने कल पूछताछ के लिए वार्ड पार्षद को पटना बुलाया था जहां कई घंटों की पूछताछ के बाद उसे नवरुणा कांड में गिरफ्तार कर लिया। टीम ने श्री कुमार को ब्यूरो की विशेष अदालत के प्रभारी न्यायाधीश ए. के. दीक्षित की अदालत में आज पेश किया जहां से उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि 18 सितम्बर 2012 की रात शहर के जवाहर लाल रोड निवासी अतुल्य चक्रवर्ती के घर की खिड़की को तोड़कर कुछ लोगों ने उनकी पुत्री नवरुणा का अपहरण कर लिया था। अगले दिन उसके पिता ने नगर थाना में उसके अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करायी थी । बाद में इस मामले की जांच का जिम्मा अपराध अन्वेषण विभाग (सीआईडी) को सौंपा गया, लेकिन जांच से असंतुष्ट उसके पिता ने मामले की जांच सीबीआई से कराने को लेकर थाना में कई बार धरना दिया । इसी दौरान 26 नवंबर 2012 को नवरूणा के घर के समीप नाले से एक कंकाल बरामद हुआ जिसे डीएनए जांच के बाद उसी के होने की पुष्टि की गयी। इस बीच 18 सितम्बर 2013 को राज्य सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा कर दी लेकिन सीबीआई ने पहले इस केस को लेने से इंकार कर दिया। बाद में 17 जनवरी 2014 को उच्चतम न्यायालय के निर्देश का पालन करते हुए सीबीआई ने जांच का जिम्मा लिया और प्राथमिकी दर्ज की । 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...