उत्तर कोरिया ने दी प्रशांत महासागर में हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने की धमकी

north-korea-warning-for-bomb-blast-hydrogen
सोल, 22 सितंबर, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की उत्तर कोरिया को बर्बाद करने की धमकी के जवाब में, देश के विदेश मंत्री ने आज कहा कि वह प्रशांत महासागर में हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने पर विचार कर सकते हैं। इस सप्ताह संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा दिए गए भाषण की निंदा करते हुए उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने इसके जवाब में ‘‘इतिहास में किसी कदम के खिलाफ अब तक का सबसे कठोर कदम उठाने’’ की चेतावनी दी थी। किम ने इस महीने हाइड्रोजन बम का परीक्षण कर वैश्विक स्तर पर चिंता पैदा कर दी थी। उत्तर कोरिया ने दावा किया कि यह हाइड्रोजन बम मिसाइल से दागा जा सकता है। उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योंग-हो ने न्यूयॉर्क में संवाददाताओं से बातचीत में भविष्य में और अधिक शक्तिशाली हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने की संभावना जताई। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि शायद प्रशांत महासागर के ऊपर अभूतपूर्व स्तर का हाइड्रोजन बम का परीक्षण हो सकता है। लेकिन यह हमारे नेता पर निर्भर करता है तो मैं अच्छी तरह नहीं जानता।’’ कोरिया इंस्टीट्यूट फॉर नेशनल यूनीफिकेशन में विश्लेषक चुंग सुंग यून ने कहा कि इस बात की ‘‘बहुत अधिक संभावना’’ है कि किम आगे किसी तरह की उकसावे की कार्रवाई कर सकते हैं। बहरहाल, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि उत्तर कोरिया क्या करेगा। चुंग ने कहा कि इस बात की संभावना है कि उत्तर कोरिया उत्तरी प्रशांत महासागर में हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने की कोशिश कर सकता है। उन्होंने कहा कि इससे अमेरिका संभावित रूप से रॉकेट को मार गिराने की कोशिश करेगा जबकि चीन उस पर और कड़े प्रतिबंध लगा सकता है जो आर्थिक संकट से जूझ रहे देश के लिए विनाशकारी होगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...