झारखंड में पत्रकारों को पेंशन देगी सरकार

pension-for-journalist-in-jharkhand
रांची, 23 सितंबर, झारखंड सरकार ने राज्य के पत्रकारों को सेवानिवृत्ति के बाद दस हजार रुपये मासिक की पेंशन देने की घोषणा की है। राजधानी में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार शाम नव निर्मित रांची प्रेस क्लब के भवन का उद्घाटन किया और केरल सरकार द्वारा स्वीकृत नीति के अनुरूप राज्य के पत्रकारों को पेंशन देने की घोषणा की। केरल में पत्रकारों को दस हजार रुपये प्रति माह का पेंशन दी जाती है। प्रेस क्लब के उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री दास ने कहा, ‘‘पत्रकारों के लिए पेंशन योजना भी केरल की तर्ज पर आज से लागू की जायेगी। प्रेस क्लब में लाइब्रेरी और जिम भी होगा।’’ क्लब में लाइब्रेरी के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ‘मुख्यमंत्री विवेकानुदान कोष’ से तीन लाख रुपये देने की घोषणा की जबकि क्लब में जिम बनाने की जिम्मेदारी रांची के विधायक एवं शहरी विकास मंत्री सीपी सिंह ने ली। स्थानीय सांसद रामटहल चैधरी ने प्रेस क्लब को तीन लाख रुपये के सहयोग देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के अन्य प्रमंडलों में भी प्रेस क्लब के भवन बनाये जायेंगे। राज्य के स्थापना दिवस पर पंद्रह नवंबर को देवघर और धनबाद के प्रेस क्लब के भवन का आनलाईन शिलान्यास होगा। इस अवसर पर दास ने कहा कि सरकार आलोचना से नहीं डरती है, लेकिन तथ्यपरक आलोचना हो। कमियों को दिखाना मीडिया का काम है। बिना तथ्यों की खबरों से बचना चाहिए। पत्रकारों का काम सनसनी फैलाना नहीं है। इससे विश्वसनीयता खोती है। मर्यादा का पालन सभी को करना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोकशाही की मजबूती के लिए मीडिया का मजबूत होना जरूरी है। प्रेस क्लब में हर तीन माह में अन्य राज्यों के पत्रकारों को बुलायें, उनसे अनुभव सुनें। इसी प्रकार साहित्यकारों को भी आमंत्रित करें। इससे हर किसी को सीखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि जीएसटी जैसे विषयों पर भी कार्यशाला का आयोजन करें। इसमें सरकार अपने अधिकारियों को भी भेजेगी। इससे पत्रकारों को भी विषय की पूरी जानकारी हो पायेगी, जिससे उन्हें खबर लिखने में आसानी होगी और वह जनता को भी सही जानकारी दे सकेंगे। काम के बाद पत्रकार आपस में भी बैठें और विषयों पर चर्चा करें। इससे लोकतंत्र को मजबूती मिलेगी। कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि अखबार अब दैनिक जीवन की आदत बन चुका है। प्रेस की स्वतंत्रता के वह समर्थक हैं और इसी हेतु वह आपातकाल में जेल भी जा चुके हैं। सूचना जनसंपर्क विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार एवं रांची प्रेस क्लब के अध्यक्ष बलबीर दत्त ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...