शरद यादव राज्यसभा से इस्तीफा दे : आरसीपी

sharad-should-resign-rcp
पटना 13 सितम्बर, जनता दल यूनाइटेड (जदयू) संसदीय दल के नेता आर सी पी सिंह ने चुनाव आयोग में बागी नेता शरद यादव का दावा खारिज होने पर उनसे (श्री यादव) राज्यसभा से इस्तीफा देने की मांग की है। श्री सिंह ने आज यहां कहा कि श्री यादव की झूठ अब लोगों के सामने आ गयी है । श्री यादव ने चुनाव आयोग में दावेदारी की थी जिसे आयोग ने खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि श्री यादव को अब राज्यसभा से तत्काल इस्तीफा कर देना चाहिए । वहीं पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं विधान परिषद के सदस्य नीरज कुमार ने श्री यादव का दावा खारिज होने पर कहा कि चुनाव आयोग ने श्री यादव को सच्चाई बता दी है । श्री यादव को अब राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में अपने मिलन की तिथि तय कर लेनी चाहिए । उन्होंने कहा कि श्री यादव को अब राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव और तेज प्रताप यादव जिंदाबाद बोलने की आदत बना लेनी चाहिए । 


वहीं दूसरी ओर राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि श्री यादव की अर्जी पर आयोग ने जल्दबाजी में फैसला लिया है। श्री यादव आज भी जनादेश के साथ खड़े हैं । उन्होंने कहा कि श्री यादव के पास उच्चतम न्यायालय में अपील करने का विकल्प खुला हुआ है । श्री यादव के राजद में आने की संभावनाओं पर उन्होंने कहा कि उनके जैसे पुराने समाजवादी नेता को भटकने नहीं दिया जायेगा । वहीं कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने चुनाव आयोग में श्री यादव की दावेदारी खारिज होने पर कहा कि आयोग के फैसले पर सवाल नहीं उठाया जा सकता । श्री यादव को यदि आयोग का फैसला मंजूर नहीं हैं तो वह न्यायालय का दरवाजा खटखटाने के लिए स्वतंत्र हैं । इसी तरह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि कभी भ्रष्टाचार के खिलाफ रोल मॉडल के रुप में श्री यादव की गिनती होती थी। श्री यादव ने नैतिकता के आधार पर केन्द्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने का काम किया था , लेकिन आज वह भ्रष्टाचारियों के साथ खड़े हो गये हैं । उल्लेखनीय है कि बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद श्री यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज चल रहे थे और इसी को लेकर आयोग में जद यू के चुनाव चिन्ह पर अपना दावा भी पेश किया था । 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...