शिवसेना ने भाजपा को राणे के खिलाफ हिदायत दी

shivsena-warn-bjp-for-rane
मुंबई, 23 सितंबर, शिवसेना के वरिष्ठ नेता दीपक केसरकर ने भाजपा को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे को पार्टी में शामिल किए जाने के खिलाफ आज हिदायत दी। राणे ने हाल ही में कांग्रेस छोड़ी है। केसरकर ने कहा है कि राणे ‘आपराधिक स्वभाव’ के हैं और वह भ्रष्टाचार में संलिप्त रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा में राणे के शामिल होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का विचार सुनना महत्वपूर्ण होगा क्योंकि प्रधानमंत्री अक्सर ही भ्रष्टाचार को कतई बर्दाश्त नहीं करने की बात कहते हैं। उन्होंने जालना में संवाददाताओं से कहा, ‘‘राणे ने सबक नहीं सीखा है। शिवसेना की तरह, यह भाजपा की जिम्मेदारी है कि वह भी भ्रष्टाचार रोके। क्या वे एक ऐसे व्यक्ति को शामिल करना चाहते हैं जो आपराधिक स्वभाव के हैं और भ्रष्टाचार में संलिप्त रहे हैं? ’’ दरअसल, भाजपा में राणे के शामिल होने की महाराष्ट्र में अटकलें जोरों पर है। शिवसेना प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे ने 1999 में राणे को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना था। राणे ने पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मतभेदों को लेकर भगवा पार्टी छोड़ दी और 2005 में कांग्रेस में शामिल हो गए थे। इस बीच, महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार से हटने की संभावना के बारे में शिवसेना की ताजा धमकी को इस रूप में देखा जा रहा है कि यह भाजपा में राणे के प्रवेश को रोकने की कोशिश है। दोनों सहयोगी भगवा पार्टियों के बीच कुछ समय से तकरार चल रहा है। ये दोनों पार्टियां राज्य और केंद्र में सत्ता साझा कर रही हैं। वहीं, राणे के विधायक पुत्र नीतेश राणे ने अपने पिता को भ्रष्ट कहे जाने को लेकर केसरकर पर पलटवार करते हुए कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सिंधुदुर्ग में जिस व्यक्ति के परिवार को तस्कर के तौर पर जाना जाता है वे हमारा नाम ले रहे हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...