भ्रष्टाचार से मुक्ति के लिए कड़े और बड़े फैसले लिये : मोदी

to-get-rid-of-corruption-tough-and-big-decisions-have-been-made-modi
यंगून 06 सितम्बर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि उनकी सरकार ने देश को भ्रष्टाचार और काले धन से मुक्त करने के लिए ‘बड़े और कड़े’ फैसले लिये हैं और पिछले तीन वर्ष में बदलाव के बड़े दौर की शुरूआत हुई तथा भारत की आवाज अब पूरी दुनिया में सुनी जा रही है श्री मोदी ने यहां भारतीय मूल के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने देश की आजादी के पचहत्तर वर्ष पूरे होने तक ‘ न्यू इंडिया’ बनाने का संकल्प लिया है और इसके लिए इसके लिए छोटे मोटे परिवर्तन नहीं बल्कि पूर्ण बदलाव में जुटी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने देशहित में ‘बड़े और कड़े’ फैसले लिए हैं और यह उसने बिना किसी संकोच या भय के किया है। काले धन और भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने के लिए नोटबंदी और जीएसटी लागू करने फैसला लिया गया। मुट्ठी भर लोगों के भ्रष्टाचार की कीमत देश के सवा सौ करोड़ लोगों को चुकानी पड़ रही थी, जो हमें कतई मंजूर नहीं था। काले धन का कोई पता नहीं था लेकिन नोटबंदी के बाद लाखों ऐसे लोगों का पता चला है जिनके बैंक खातों में लाखों करोड़ोें रुपये जमा हैं और वे कर नहीं दे रहे थे। उन्होंने कहा कि लाखों ऐसी कम्पनियों का पता चला है, जो काले धन को इधर उधर कर रही थीं और पिछले तीन माह के दौरान दो लाख से ज्यादा ऐसी कम्पनियों का पंजीकरण रद्द किया गया है और उनके खातों के संचालन पर रोक लगा दी गयी है। प्रधानमंत्री ने व्यापार में पारदार्शिता लाने के लिए वस्तु एवं सेवा कर की चर्चा करते हुए कहा कि इसे दो माह पहले लागू किया गया है और जो काम छह साल में नहीं हो सकता था, वह साठ दिन में हो गया है। इसके लागू होने के बाद से ईमानदारी से कारोबार करने की संस्कृति पैदा हुई है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...