विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 सितम्बर

समय सीमा में सेवाएं नही देने वालो पर कलेक्टर द्वारा अर्थदण्ड की कार्यवाही 

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत समय पर आवेदको के आवेदनों का निराकरण नही करने पर चार प्रकरणों में क्रमशः पांच-पांच सौ रूपए की अर्थदण्ड कार्यवाही की गई है संबंधित प्रकरण स्थानीय उपखण्ड अधिकारी के यहां स्वयमेव अपील में लिए गए है। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि दण्डित होने वाले अधिकारी तीस दिवस के भीतर आवेदकों को राशि का भुगतान करना सुनिश्चित करें। त्योंदा तहसील के तत्कालीन तहसीलदार श्री शत्रुध्न चैहान के द्वारा आय प्रमाण पत्र के तीन आवेदनकर्ताओं को समय सीमा में प्रमाण पत्र उपलब्ध नही कराने के कारण प्रत्येक आवेदक को पांच-पांच सौ रूपए प्रतिकर का भुगतान करने तथा शमशाबाद निकाय क्षेत्र के आवेदक को इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय निःशक्तता पेंशन योजना स्वीकृति संबंधी कार्यवाही नही करने पर निकाय के सीएमओ श्री राकेश मिश्रा को पांच सौ रूपए की प्रतिकर राशि आवेदनकर्ता को नियत अवधि में देने के आदेश दिए है। त्योंदा तहसील अंतर्गत आय प्रमाण पत्र प्रदाय करने हेतु लोक सेवा गारंटी केन्द्र त्योंदा में जिन तीन आवेदकों के द्वारा आवेदन दाखिल किए गए थे उनमें ग्राम पिपराहा के किशोरी, ग्राम घटेरा के जगदीश तथा ग्राम विसधा के लालता प्रसाद शामिल है। इसी प्रकार शमशाबाद निकाय क्षेत्र की ज्योति जाटव के द्वारा इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय निःशक्तता पेंशन योजना प्रथमवार स्वीकृति प्रदान करने हेतु लोक सेवा केन्द्र शमशाबाद के माध्यम से आवेदन प्रस्तुत किया था।


शिक्षक दिवस पर शिक्षकों का सम्मान 

vidisha news
शिक्षक दिवस पर शिक्षकों का सम्मान समारोह कार्यक्रम जिला मुख्यालय के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आयोजित किया गया था। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाने में शिक्षकों का अहम योगदान है। आने वाली पीढ़ी शिक्षा के क्षेत्र में अपने आप को पिछडा ना समझें। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा शिक्षा को बढावा देने के लिए अनेक कार्यक्रम, योजनाआंे का संचालन किया जा रहा है। हम सबकी नैतिक जबावदेंही है कि शासकीय कार्यक्रमों और योजनाआंे का लाभ संबंधितों तक पहुुंचाकर उन्हें लाभंावित करें। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने कहा कि शिक्षक ही देश के भविष्य निर्माता है। उनके द्वारा बच्चों को शिक्षावान बनाकर बेहतर नागरिक बनने की प्रेरणा मिलती है। शिक्षारूपी दान बच्चों का भविष्य बना सकती है। शिक्षकों के अनुभवों का लाभ सभी को मिले इसके लिए जिले में नवाचार किया जाएगा। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि आधुनिक परिवेश में शासकीय स्कूलों के शिक्षकों को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रायवेट शैक्षणिक संस्थाओं के स्तर को पीछे करने के लिए शासकीय स्कूलों के शिक्षकों को और अधिक मेहनत करनी होगी। कलेक्टर श्री सुचारी ने शिक्षकों से आव्हान किया कि वे सामाजिक सरोकार के कार्यो में पूर्ववत अपना सहयोग देते रहे। कार्यक्रम को श्री लालाराम अहिरवार, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर सेवानिवृत्त शिक्षकों ने अपने अनुभवों को सांझा किया। सम्मान समारोह में जिले के वर्ष 2016-17 की हाईस्कूल एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की परीक्षाओं में शत प्रतिशत परिक्षा परिणाम देने वाले शालाओं के प्राचार्य एवं सितम्बर 2016 से अगस्त 2017 तक की समयावधि में जिले के सेवानिवृत्त शिक्षकों एवं जिला स्तरीय शैक्षणिक संगोष्ठी में चयनित शिक्षक-शिक्षिकाओं को भी इस दौरान प्रमाण पत्र अतिथियों द्वारा प्रदाय कर सम्मानित किया गया। कुरवाई के प्राथमिक शाला पीकलोन के प्रधानाध्यापक श्री कंछेदी लाल ने अपने अनुभवों को शेयर करते हुए बताया कि मैं जिस स्कूल में पढा उसी स्कूल में मास्टर हो गया था मेरा सौभाग्य है कि मैं उसी शैक्षणिक संस्था से सेवानिवृत्त हुआ हूूं। 

जनसुनवाई में 145 आवेदन प्राप्त हुए

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा आज मंगलवार को आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में 145 आवेदकों ने आवेदन प्रस्तुत कर अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, एसडीएम श्री रविशंकर राय समेत अन्य विभागोें के अधिकारीगण पंक्तिबद्व-रो में बैठकर आवेदकों के आवेदनों को प्राप्त कर उनका निराकरण करने की कार्यवाही की गई है। जनसुनवाई कार्यक्रम में केसरगंज कुरवाई के आवेदक श्री नारायण सिंह ने बताया कि बिजली के करंट लगने से उनकी भैंस की मृत्यु हो गई है आवेदक ने आर्थिक सहायता दिलाए जाने का अनुरोध किया। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के अधिकारी को नियमानुसार शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है। ग्राम खामखेडा की आवेदिका श्रीमती देवबाई अहिरवार ने बताया कि उनकी वृद्वावस्था पेंश बंद हो गई है। प्रकरण की जांच कर सुपात्र पाए जाने पर पेंशन राशि जारी करने के निर्देश जनपद सीईओ को दिए गए है। रंगई के आवेदक श्री धनीराम को राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया से अवगत कराया गया है। लुंहागी के आवेदक श्री हेमचंद लखेरा ने बताया कि उनके मकान में आंगनबाड़ी संचालित हो रही है जिसका किराया एक साल से प्राप्त नही हुआ है। एकीकृत बाल विकास सेवाएं के जिला कार्यक्रम अधिकारी को प्रकरण में त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है। कुरवाई के ग्राम जोनाखेडी निवासी श्री संतोष प्रजापति ने निःशक्त पुत्री आयुष के इलाज हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। सामाजिक न्याय विभाग के माध्यम से इलाज के प्रबंध सुनिश्चित कराए गए है। गुलाबगंज तहसील के गणेशपुरा मूडरा निवासी श्री रमेश मोंगिया ने कैंसर के इलाज हेतु आर्थिक सहायता दिलाए जाने का आग्रह किया। जवाहर कैंसर हास्पिटल भोपाल का स्टीमेंट भी आवेदक द्वारा प्रस्तुत किया गया था। इलाज हेतु राशि स्वीकृत करने हेतु प्रकरण मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को प्रेषित किया गया है। 

आधार नम्बर की प्रविष्टि तीस तक 

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत जिले में रियायती दर पर पात्र राशन कार्डधारियों को राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। सभी राशनकार्डधारियों के आधार नम्बर की प्रविष्टियां तथा बोगस हितग्राहियों के विलोपन की प्रक्रिया जिले में तीस सितम्बर तक की जाएगी। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मोहन मारू ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार ‘‘आधार आपकी पहचान अभियान’’ के तहत हितग्राहियों से उचित मूल्य दुकान में आधार जमा कराने की प्रक्रिया प्रचलित है जो तीस सितम्बर तक जारी रहेगी। ऐसे सभी उपभोक्ता जिनके द्वारा आधार नम्बर, आधार नम्बर पंजीयन उपलब्ध नही कराया गया है वे नियत तिथि के पूर्व अनिवार्य रूप से जमा कराना सुनिश्चित करें ताकि माह सितम्बर का राशन प्राप्त करने की पात्रता प्राप्त कर सकें। जिले के सभी उचित मूल्य दुकान संचालकों को जिला आपूर्ति अधिकारी के माध्यम से आधार से शेष रहे परिवार, व्यक्तियों की सूची उपलब्ध कराई जा चुकी है। संबंधितों को निर्देश दिए गए है कि जैस-जैसे आधार नम्बर की प्राप्ति होती है वैसे-वैसे उन सभी का आधार नम्बर पोर्टल पर दर्ज कराने की भी कार्यवाही की जाए। खाद्य विभाग के आयुक्त द्वारा जारी निर्देशों का हवाला देते हुए जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मारू ने बताया कि ऐसे उपभोक्ता जिनके द्वारा विगत चार माह से राशन प्राप्त नही किया है उनके परिवार की आईडी एवं सदस्य आइडी का सत्यापन भी इस दौरान किया जाएगा ताकि पोर्टल पर दर्ज बोगस आधार की जानकारी एकत्रित कर सक्षम अधिकारी को प्रस्तुत करें ताकि पोर्टल  से उन परिवारों की सूची को विलोपित किया जा सकें। इस प्रकार की सूची ग्राम पंचायत के सूचना पटल पर भी चस्पा की जाएगी।


नेशनल लोक अदालत नौ को, खण्ड पीठो का गठन

जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विपिन बिहारी शुक्ला के मार्गदर्शन में नौ सितम्बर को नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिले में किया गया है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने बताया कि नेशनल लोक अदालत के माध्यम से अधिक से अधिक प्रकरणों में सुलह हो सकेें, इसके लिए खण्ड पीठो का गठन किया गया है तदानुसार जिला मुख्यालय पर दस, गंजबासौदा में सात, सिरोंज में चार, कुरवाई, लटेरी में क्रमशः एक-एक खण्ड पीठ गठित की गई है। इस प्रकार जिले में कुल 23 खण्ड पीठो का गठन जिला न्यायाधीश के मार्गदर्शन में किया गया है। नेशनल लोक अदालत के माध्यम से न्यायालयों में लंबित अपराधिक, शमनीय  प्रकरण के 497 प्रकरण, धारा 138 परक्राम्य लिखित अधिनियम के 476, मोटर दुर्घटना प्रतिपूर्ति दावा के 220, विद्युत अधिनियम के 709, मेट्रोमोनियल के 382, सिविल के 217 एवं अन्य 321 प्रकरण लोक अदालत हेतु रैफर किए गए है। इस प्रकार नेशनल लोक अदालत में निराकरण के लिए कुल 2782 प्रकरण रखे जाएंगे। प्रीलिटीगेशन प्रकरणों के रूप में बैंक रिकवरी, विद्युत अधिनियम (अशमनीय प्रकरणों को छोड़कर), जलकर से संबंधित कुल 13262 प्रकरण नेशनल लोक अदालत में निराकरण किए जाने हेतु रखे जाएंगे।

राष्ट्रीय व्हालीबाल प्रतियोगिता का शुभांरभ आज

जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद के प्रागंण में 28वीं राष्ट्रीय व्हालीबाल प्रतियोगिता का उद्घाटन समारोह छह सितम्बर की प्रातः दस बजे से आयोजित किया गया है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सागर संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, विशिष्ट अतिथि राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा और कलेक्टर श्री अनिल सुचारी तथा सम्मानित अतिथि पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर होंगे। 

आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने दो प्रकरणों में आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि लटेरी तहसील के ग्राम ईसागढ़ निवासी श्री हनुमत सिंह अहिरवार की मृत्यु पानी मंें डूबने से हो जाने के कारण मृतक की मां श्रीमती राजकुमारी अहिरवार को चार लाख रूपए की, इसी प्रकार आकाशीय बिजली की चपेट में आ जाने से सिरोंज तहसील के ग्राम बमूलिया ऊदा निवासी श्री संतोष केवट की मृत्यु हो जाने के कारण मृतक की पत्नी श्रीमती रजनीबाई भोई को भी चार लाख रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...