विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 08 सितम्बर

भावांतर भुगतान योजना से अवगत हुए

vidisha news
किसानों को उचित मूल्य प्रदान करने के लिए पायलेट आधार पर खरीफ 2017 के लिए अधिसूचित कृषि उपज मंडी समितियों के प्रागंण में पंजीकृत किसानों द्वारा चिन्हित फसलों के बिक्री की जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा भावांतर भुगतान योजना लागू की गई है। योजना के उद्वेश्य, मापदण्डों, भुगतान प्रक्रिया इत्यादि से अवगत कराने के उद्वेश्य से आज एसएटीआई पाॅलिटेक्निक के सभागृह मंें कार्यशाला का आयोजन किया गया था। जिसमें बताया गया कि किसान भाई बोई गई फसल का पंजीयन 11 सितम्बर से 11 अक्टूबर तक करा सकते है। पंजीयन के लिए किसान स्वंय का आधार कार्ड, समग्र आईडी क्रमांक, भू-ऋण पुस्तिका की छायाप्रति के अलावा बैंक पासबुक की फोटो काॅपी, मोबाइल नम्बर अनिवार्यतः अपने साथ लाएं। पंजीकृत किसानों को कम्यूटराईज्ड रसीद प्रदाय की जाएगी। जिसे लेकर वे चिन्हित मंडियों में अपनी फसल की बिक्री करेंगे। कृषि जिन्स की प्राप्त माॅडल दरो का औसत निकालकर माॅडल विक्रय दर की गणना की जाएगी। दर के अंतर की राशि किसानों के बैंक खातो में सीधे जमा करने की कार्यवाही की जाएगी। कार्यशाला में चिन्हित फसलों, भुगतान प्रक्रिया, योजना के लिए पात्रता, पोर्टल पर जानकारी दर्ज करना, भण्डारण की प्रक्रिया, विभिन्न स्तर पर समितियों का गठन इत्यादि की विस्तृत जानकारी दी गई। इस दौरान बताया गया कि जिले में 137 उपार्जन केन्द्रों पर पंजीयन कार्य पुनः किया जाएगा। पूर्व के पंजीयन को मान्य नही किया गया है। कार्यशाला में जिले के समस्त उपार्जन केन्द्रों के प्रबंधक, प्रतिनिधि, कम्प्यूटर आपरेटर के अलावा किसान कल्याण विभाग के उप संचालक, उद्यान विभाग के सहायक संचालक, जिला आपूर्ति अधिकारी, उपायुक्त सहकारिता, सचिव कृषि उपज मंडी, एनआईसी के डीआईओ, स्टेट सिविल सप्लाईज कार्पाेरेशन के जिला प्रबंधक मौजूद थे।


कलेक्टर द्वारा राजस्व अभियान की समीक्षा

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने जिले में संपादित राजस्व अभियान की समीक्षा आज एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में की। कलेक्टर श्री सुचारी ने संबंधितों को स्पष्ट निर्देश दिए कि राजस्व अभियान के तहत प्राप्त आवेदनों का शत प्रतिशत निराकरण समय सीमा में कराया जाना सुनिश्चित हों। ऐसे प्रकरण जिनका निराकरण जिला स्तर पर किया जाना है। उन तमाम प्रकरणों की जानकारी अविलम्ब अवगत कराई जाए। बैठक में अविवादित नामांतरण, बंटवारा एवं सीमाकंन की राजस्व निरीक्षकवार समीक्षा की गई। इसके अलावा आवासहीनों का सर्वे एवं पट्टा बंटन के लिए क्रियान्वित व्यवस्था की बिन्दुवार जानकारी प्राप्त की गई। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि आबादी भूमि का चिन्हांकन कर घोषित किए जाने वाले प्रस्ताव समय सीमा में तैयार कर अनुमोदित कराए जाएं। उन्होंने चिन्हित हितग्राहियों के अधिकार पत्र अभियान चलाकर जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में वितरित किए जाएं। बैठक में वासस्थान दखलकार के हितग्राही के संबंध में भी विचार विमर्श किए गए है। बैठक में बताया गया कि व्यपवर्तन के प्रकरण न्यायालय में दर्ज अनिवार्यतः किए जाए। इस दौरान डायवर्सन, नजूल मांग एवं वसूली, रिकार्ड अद्यतन कार्यवाही के अलावा एनआईसी के भू-नक्शा साफ्टवेयर मेें नक्शा तरमीम की अद्यतन जानकारियां प्राप्त की गई है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप निःशुल्क खसरा खतोनी का वितरण किया जाना है। इस कार्य से एक भी हितग्राही वंचित ना रहें। उन्होंने मोबाइल एप से गिरदावरी करने, फसल कटाई प्रयोग शत प्रतिशत करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने बैठक में सीएम हेल्पलाइन एवं जन शिकायत के प्रकरणों का शत प्रतिशत निराकरण समाधान पूर्वक करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि जिले में औसत से कम बारिश हुई है अतः राजस्व निरीक्षक, पटवारी अपने-अपने कार्य क्षेत्रों में सूखा, पेयजल संकट की स्थिति निर्मित ना हो इसके लिए पूर्व में ही कार्ययोजना बनाकर संबंधित विभागों से सम्पर्क कर निदान करने की कार्यवाही क्रियान्वित करें। उन्होंने बताया कि जिले के प्रत्येक विकासखण्ड मुख्यालय पर कृषक सम्मेलनो का आयोजन किया जाना है जिसमें किसानों की अधिक से अधिक सहभागिता हो इस कार्य में राजस्व अमला अपने दायित्वों का निर्वहन करें ताकि किसानों को कम पानी की लागत से पैदा होने वाली फसलों की जानकारी, बीज की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा सकें। बैठक में भावांतर योजना के संबंध में भी विस्तृत जानकारी दी गई। बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, एसडीएम श्री रविशंकर राय, के अलावा एसएलआर श्रीमती सविता पटेल एवं समस्त राजस्व निरीक्षक, पटवारी मौजूद थे।

अन्त्योदय मेला 15 को लटेरी में

vidisha news
खण्ड स्तरीय अन्त्योदय मेला 15 सितम्बर को लटेरी में आयोजित किया गया है। उक्त मेला शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रागंण में प्रातः 11 बजे से शुरू होगा। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने समस्त विभागों के जिलाधिकारियों को समय पर अन्त्योदय मेला में उपस्थित होने के निर्देश दिए है। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों से कहा कि विभागीय योजनाओं की जानकारी ग्रामीणजनों को दे और योजनाओं के सुपात्र हितग्राहियों को लाभांवित कराने का प्रयास करें वही विभाग से संबंधित प्राप्त आवेदनों का निराकरण शिविर स्थल पर करना सुनिश्चित करें। अन्त्योदय मेला परिसर में पशु चिकित्सा विभाग और स्वास्थ्य विभाग द्वारा रोगोपचार केम्प का भी  आयोजन किया जाएगा। वही विभिन्न विभागों के द्वारा विभागीय योजनाओं को रेखांकित करने वाली प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जाएगा।

पीएम आदर्श ग्रामों का भ्रमण आज

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत चिन्हित ग्रामों में से दो ग्रामों का भ्रमण कलेक्टर श्री अनिल सुचारी द्वारा शनिवार को किया जाएगा। नटेरन विकासखण्ड की ग्राम पंचायत रायपुर की प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत चयनित ग्राम पंचायत रतनपुरचक्क प्रातः 11 बजे से समीक्षा बैठक आहूत की गई है इसी प्रकार दोपहर दो बजे से कुरवाई पंचायत की ग्राम पंचायत वीरपुर में इस प्रकार की बैठक आयोजित की गई है।कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम में संचालित होने वाली विभागीय योजनाओं की समुचित जानकारी जिसमें लाभंावित होने वाले हितग्राहियों की स्थिति सहित उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।


पोषण आनंद मेला का आयोजन 

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के अंतर्गत एकीकृत बाल विकास विभाग के माध्यम से आज पोषण आनंद मेला का आयोजन जालोरी गार्डन में किया गया था। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक श्री कल्याण सिंह ने ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनबाडी कार्यकर्ता की महत्वपूर्ण जबाबदेंही को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता एवं सहायिका समय पर अपनी सेवाएं देती है तो आधे से अधिक समस्या स्थानीय स्तर पर भी निराकृत की जा सकती है। नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि पौष्टिक भोजन के साथ-साथ व्यायाम से हम कुपोषण जैसी स्थिति पर नियंत्रण पा सकते है। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चे जो कुपोषित है उन पर विशेष नजर रखने की जरूरत है इस कार्य में बच्चों के मां-बाप की भी महती भूमिका है। बच्चों के माता-पिता को कुपोषण क्यों होता है और उससे बचाव की विस्तृत जानकारी दी जाना चाहिए। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह ने गर्भवती महिलाओं के सम्पूर्ण आहार को अतिमहत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि मां स्वस्थ रहेगी तो बच्चा भी स्वस्थ रहेगा। यदि कही बच्चा कमजोर अथवा कुपोषित होता है तो हमें उसका इलाज तत्काल चिकित्सकों के द्वारा कराना चाहिए। कार्यशाला में सप्ताह भर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा के संबंध में विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री विरजेश शिवहरे ने दी। इस दौरान छात्राओं एवं श्रोताओं के मध्य पौष्टिक थाली प्रतियोगिता, पोषक प्रश्नावली, पौष्टिक व्यंजन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती दीप्ति शुक्ला ने किया और आगंतुकों के प्रति आभार विभाग के सहायक संचालक श्री विवेक शर्मा ने व्यक्त किया। 

नेशनल लोक अदालत आज

जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री विपिन बिहारी शुक्ला के मार्गदर्शन में नौ सितम्बर को नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिले में किया गया है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने बताया कि नेशनल लोक अदालत के माध्यम से अधिक से अधिक प्रकरणों में सुलह हो सकेें, इसके लिए खण्ड पीठो का गठन किया गया है तदानुसार जिला मुख्यालय पर दस, गंजबासौदा में सात, सिरोंज में चार, कुरवाई, लटेरी में क्रमशः एक-एक खण्ड पीठ गठित की गई है। इस प्रकार जिले में कुल 23 खण्ड पीठो का गठन जिला न्यायाधीश के मार्गदर्शन में किया गया है। नेशनल लोक अदालत के माध्यम से न्यायालयों में लंबित अपराधिक, शमनीय  प्रकरण के 497 प्रकरण, धारा 138 परक्राम्य लिखित अधिनियम के 476, मोटर दुर्घटना प्रतिपूर्ति दावा के 220, विद्युत अधिनियम के 709, मेट्रोमोनियल के 382, सिविल के 217 एवं अन्य 321 प्रकरण लोक अदालत हेतु रैफर किए गए है। इस प्रकार नेशनल लोक अदालत में निराकरण के लिए कुल 2782 प्रकरण रखे जाएंगे। प्रीलिटीगेशन प्रकरणों के रूप में बैंक रिकवरी, विद्युत अधिनियम (अशमनीय प्रकरणों को छोड़कर), जलकर से संबंधित कुल 13262 प्रकरण नेशनल लोक अदालत में निराकरण किए जाने हेतु रखे जाएंगे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...