विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 सितम्बर

कलेक्टर द्वारा गुलाबगंज तहसील का जायजा, नाजिर को शोकाॅज नोटिस देने के निर्देश

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने रविवार को गुलाबगंज तहसील का निरीक्षण कर राजस्व कार्यो के सम्पादन का जायजा लिया। कलेक्टर श्री सुचारी ने तहसील के नाजिर श्री शकील खाॅन को शोकाॅज नोटिस देने के निर्देश तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी को दिए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने तहसील कार्यालय के आरसीएल, अदमपैरवी में बंद किए गए प्रकरणों, बंदोवस्त के प्रकरण, अर्थदण्ड पंजी, डायवर्सन, न्यायालय में दर्ज प्रकरण, लोक सेवा गारंटी के अलावा सम्पादित राजस्व कार्यो का अवलोकन विभिन्न प्रकार की पंजी, नोटशीट के माध्यम से किया। कलेक्टर श्री सुचारी ने तहसील कार्यालय के निरीक्षण के दौरान नाजिर श्री खाॅन से कैश के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उनके द्वारा कैश लाॅकर में कितनी राशि रखी गई है को मौके पर गिनवाया, बतलाई गई राशि उपलब्ध ना होने पर एवं राजस्व प्रकरणों की शाखा के प्रकरण पंजी में दर्ज नही करने के फलस्वरूप श्री खाॅन को शोकाॅज नोटिस देने के निर्देश दिए गए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने तहसीलदार श्रीमती अग्निवंशी से कहा कि बंदोवस्त के प्रकरण तहसील गठन तिथि से स्पष्ट अंकित हो। उन्होंने अविवादित नामांतरण, बंटवारा एवं राजस्व वसूली के प्रकरण में शत प्रतिशत कार्यवाही की जाए। न्यायालयीन प्रकरणों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि बंटवारा, नामांतरण के जिन प्रकरणों में आदेश पारित किया जाता है उन प्रकरणों में संबंधित आवेदक के पक्ष एवं विपक्षकर्ताओं की बात अनिवार्य रूप से सुनी जाए और उसे न्यायालय निर्णय में अंकित किया जाए। उन्होंने अर्थदण्ड के सभी प्रकरण दायरा पंजी में दर्ज करने के निर्देश दिए है। निरीक्षण के दौरान आरसीएम के बेवपोर्टल पर 361 प्रकरण प्रदर्शित हो रहे है जबकि पंजी में 421 प्रकरणों की प्रविष्टियां परलिक्षित होने पर उन्होंने असंतोष जाहिर करते हुए कहा कि शत प्रतिशत प्रकरण बेवपोर्टल पर दर्ज कराए जाएं। ऐसे प्रकरण जो वरिष्ठ न्यायालय में को प्रेषित किए गए है का स्पष्ट उल्लेख पंजी में अंकित किया जाए और वरिष्ठ न्यायालय कार्यालय से  पावती प्राप्ति का प्रतिवेदन अनिवार्य रूप से संलग्न किया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने तहसील क्षेत्र में डायवर्सन की डिमांड बी-1 से लेकर बी-4 पंजी अब तक तैयार नही करने पर संबंधितों को चेतावनी दी की 15 दिवस के भीतर उपरोक्त कार्यवाही पूरी की जाए। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा तहसील कार्यालय की विभिन्न शाखाओं, रिकार्ड रूम का भी इस दौरान जायजा लिया गया। उन्होंने मासिक प्रतिवेदन एक वर्ष से अधिक का स्टाॅक रूम में नही रखने, जिन प्रकरणों  में आदेश पारित किए जा चुके है उन्हें रिकार्ड रूप में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए है। तहसील कार्यालय में आने वाले अधिवक्तागणों एवं उनके पक्षकारों के बैठने हेतु तमाम प्रबंध सुनिश्चित करने के भी निर्देश उन्होंने दिए है।   


जिले मंे 614.2 मिमी औसत वर्षा हुई

जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर रविार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि रविवार को जिले में 5.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 10 सितम्बर तक 614.2 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 1367.2 मिमी औसत वर्षा हुई थी। ज्ञातव्य हो कि जिले की सामान्य वर्षा 1075.2 मिमी है। रविवार को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा में चार मिमी, कुरवाई में आठ मिमी, सिरोंज एवं गुलाबगंज में क्रमशः एक-एक मिमी, नटेरन मेें 29 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। इसके अलावा अन्य तहसीलो में वर्षा नगण्य रही।

दिल से कार्यक्रम का प्रसारण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने आज दिल से कार्यक्रम के तहत युवाओं से संवाद स्थापित किया। विदिशा जिले में भी मुख्यमंत्री जी के लाइव भाषण का युवाजन अधिक से अधिक लाभ उठा सकेें। इसके लिए व्यापक प्रबंध सुनिश्चित किए गए थे। जिले की सभी छात्रावासों में रह रहे छात्रावासी युवाजनोें ने भी लाइव प्रसारण को सुना हैं। छात्रावासोें में रेडियो, टीवी की व्यवस्था की गई थी। डीपीसी श्री सुरेश खाण्डेकर ने बताया कि छात्रावासों में टीवी एवं रेडियो के माध्यम से प्रसारित होने वाले मुख्यमंत्री जी के संदेश को सभी युवक-युवतियों ने सुना है वही हाॅट बाजारों में युवाजनों ने चैराहो पर की गई व्यवस्थाओं के माध्यम से मुख्यमंत्री जी के लाइव भाषण को सुना है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...