बली राम भगत की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई

homage-to-baliram-bhagat
नयी दिल्ली 07 अक्तूबर, पूर्व उप-प्रधानमंत्री और लोक सभा की आचार समिति के सभापति श्री लाल कृष्ण आडवाणी तथा अन्य विशिष्टजनों ने आज लोक सभा के पूर्व अध्यक्ष बली राम भगत की ९५वीं जयंती के अवसर पर संसद भवन के केन्द्रीय कक्ष में उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी ।राज्य सभा के महासचिव देश दीपक वर्मा तथा लोक सभा और राज्य सभा सचिवालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी श्री भगत को श्रद्धासुमन अर्पित किए । इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले विशिष्टजनों को लोक सभा सचिवालय द्वारा हिन्दी और अंग्रेजी में प्रकाशित श्री बली राम भगत के जीवनवृत्त वाली पुस्तिका भेंट की गई । वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानी तथा व्यापक संसदीय अनुभव के धनी और संसदीय प्रणाली के ज्ञाता, श्री भगत को 5 जनवरी,1976 को पांचवीं लोक सभा का अध्यक्ष चुना गया था। वह अंतरिम संसद, पहली, दूसरी, तीसरी, चौथी, पांचवीं, सातवीं और आठवीं लोकसभा के सदस्य रहे। केन्द्रीय मंत्री के रूप में उन्होंने वित्त, योजना, रक्षा, विदेश, विदेश व्यापार और आपूर्ति, इस्पात और हैवी इंजीनियरिंग सहित अनेक महत्वपूर्ण मंत्रालयों का कार्यभार संभाला। उन्होंने फरवरी,1993 से चार महीने के लिए हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल तथा 30 जून, 1993 से एक मई, 1998 तक राजस्थान के राज्यपाल का भी कार्यभार संभाला। बिहार की राजधानी पटना में १९२२ को जन्मे श्री भगत आरा से छह बार लोकसभा के सदस्य भी रहे। श्री भगत का निधन दो जनवरी 2011 को राजधानी में हुआ ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...