जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षा स्थिति में सुधार : सेना प्रमुख

improvement-in-security-situation-in-jammu-and-kashmir
जम्मू 21 अक्टूबर, सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने शनिवार को कहा कि जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा स्थिति में सुधार हो रहा है और आंतकवादियों की हालिया कार्रवाई केवल उनकी निराशा को ही साबित करती है। यहां एक समारोह में 47 सशस्त्र रेजिमेंट को राष्ट्रपति का ध्वज प्रदान करने के बाद मीडिया से बात करते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि कट्टरता एक वैश्विक घटना है, जो जम्मू एवं कश्मीर में भी फैला है, जिसे गंभीरता से निपटा जा रहा है। उन्होंने कहा, "कश्मीर में कट्टरपंथियों से युवाओं को दूर करने के प्रयास किए जा रहे हैं, जिसका विस्तार सोशल मीडिया साइटों के द्वारा हो रहा है।" उन्होंने कहा कि सेना, अर्धसैनिक बलों और जम्मू और कश्मीर की पुलिस द्वारा युवाओं को कट्टरपंथ से दूर रखने की कोशिश हो रही है। नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर युद्ध विराम के उल्लंघन की घटनाओं पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए जनरल रावत ने कहा कि आतंकवादियों का लांचिंग पैड सीमा पार सक्रिय है, क्योंकि पाकिस्तान ने आतंकवादी ढांचे को खत्म नहीं किया है। यह पूछे जाने पर कि अलगाववादियों के साथ संवाद मुमकिन है। रावत ने कहा, "सेना को काम सौंपा गया है और हम उस काम को पूरा कर रहे हैं। बातचीत जैसे अन्य फैसलों को राजनीतिक रूप से लिया जाना चाहिए।"

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...