नये झारखंड का हो रहा निर्माण : रघुवर


new-jharkhand-is-being-constructed
रांची 05 अक्टूबर, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि स्थापना के 17 वर्ष बाद पहली बार रज्य ने विकास की ओर नई करवट ली है और अब नये झारखंड का निर्माण हो रहा है। श्री दास ने यहां राज्य स्थापना दिवस के आयोजन को लेकर की जाने वाली तैयारियों की समीक्षा करते हुये कहा कि विकास के लिए सरकार की आेर से किये गये अथक प्रयास की बदौलत झारखंड एक सशक्त राज्य की छवि लेकर उभरा है। उन्होंने कहा कि अब नये झारखंड का निर्माण हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि समावेशी विकास जनभागीदारी और सबको साथ लेकर चलने से प्रतिफलित हुआ है इसलिये राज्य की जनता से यह अपील है कि सभी लोग उत्साह और उल्लास से स्थापना दिवस में शामिल हों। एक नवंबर से 15 नवंबर तक चलने वाले इस आयोजन के दौरान मंत्री, सांसद, विधायक एवं जन प्रतिनिधि योजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन करें तथा इससे लाभुकों को भी जोड़ते हुए स्थापना दिवस का समारोह मनायें। श्री दास ने कहा कि 15 नवंबर को बड़ा आयोजन होगा, जिसमें बड़ी परियोजनाओं का उदघाटन एवं शिलान्यास, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत, नियुक्ति पत्रों का वितरण, विभिन्न प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित किया जायेगा। बैठक में बताया गया कि इस दौरान लगभग 10 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया जायेगा। डिजिटल साक्षरता के तहत कम से कम एक लाख लोगों को प्रमाण पत्र दिये जायेंगे। पंचायत से राज्य स्तर तक कमल क्लब के माध्यम से फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन होगा, जिसके विजेता को 15 नवंबर को सम्मानित किया जायेगा। इस दौरान 108 एंबुलेंस की शुरुआत, विभिन्न मेडिकल कॉलेज एवं विश्वविद्यालय भवनों का शिलान्यास, 56 लाख मच्छरदानियों का वितरण, जमशेदपुर-गिरिडीह में डेयरी संयंत्र का उदघाटन, उज्जवला योजना के तहत बड़ी संख्या में महिलाओं को गैस कनेक्शन और चूल्हे का वितरण, जोहार योजना की शुरुआत, 250 मसना, सरना आदि धार्मिक स्थलों के सौंदर्यीकरण का काम पूर्ण करने, आंगनबाड़ी सेविकाओं को मोबाईल फ़ोन का वितरण, मधुमक्खी पालन के लिए किसानों के बीच बक्से का वितरण समेत कई कार्यक्रम होंगे। 

बैठक में मुख्य सचिव राजबाला वर्माए, अपर मुख्य सचिव अमित खरे, मुख्यमंत्री के सचिव सुनील कुमार बर्णवाल समेत राज्य के सभी वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...